मोदी ने सियाचिन पर तैनात जवानों और बाढ़ पीड़ितों के साथ बिताया दीवाली का दिन

By: | Last Updated: Thursday, 23 October 2014 4:05 PM
modi_siachin_indian army

श्रीनगर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज दीवाली का दिन जम्मू कश्मीर में पिछले महीने आई विनाशकारी बाढ़ के पीड़ितों के साथ बिताया और इस प्राकृतिक आपदा में क्षतिग्रस्त हुए मकानों की मरम्मत के लिए 570 करोड़ रूपए तथा बाढ़ प्रभावित छह प्रमुख अस्पतालों के नवीकरण के लिए 175 करोड़ रूपये की सहायता देने की घोषणा की.

 

उन्होंने राज्य की जनता को आश्वासन दिया कि बाढ़ प्रभावितों के सहायता कार्यो में केन्द्र सरकार प्रदेश सरकार के साथ पूरे मनोयोग के साथ कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करेगी. उन्होंने राज्य के बच्चों को पुस्तक सामग्री उपलब्ध कराने की बात भी कही जो बाढ़ के कारण नष्ट हो गई हैं.

 

श्रीनगर में बाढ़ पीड़ितों के साथ समय व्यतीत करने से पहले मोदी ने सियाचिन ग्लेशियर पर तैनात भारतीय सैनिकों के साथ भी कुछ समय बिताया और वहां संदेश दिया कि सभी भारतीय उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘शायद पहली बार किसी प्रधानमंत्री को दीपावली के शुभ दिन हमारे जवानों के साथ यहां समय बिताने का अवसर मिला है .’’ मोदी ने ट्वीट किया, ‘‘बर्फ से ढकी उंची चोटियों से और अपने बहादुर जवानों तथा सशस्त्र बलों के अधिकारियों को मैं शुभ दीपावली की कामना करता हूं .’’ दिल्ली से रवाना होने से पूर्व मोदी ने कहा कि वह बर्फ से ढकी उंची चोटियों पर इस संदेश के साथ जा रहे हैं कि सीमा की सुरक्षा में लगे सैनिकों के पीछे सभी लोग दृढ़ता से खड़े हैं .

 

देश के प्रहरियों की सराहना करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘चाहे यह उंचाई हो या भीषण ठंड, हमारे सैनिकों को कोई नहीं रोक सकता . वे वहां खड़े हैं और देश की सेवा कर रहे हैं . वे हमें सही मायने में गौरवान्वित कर रहे हैं .’सियाचिन के संक्षिप्त दौरे के बाद मोदी बाढ़ पीड़ितों से मिलने के लिए श्रीनगर रवाना हो गये . इस बीच जम्मू कश्मीर के मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बाढ़ प्रभावित राज्य में राहत एवं पुनर्वास अभियानों की स्थिति के बारे में जानकारी दी और बाढ़ में तबाह क्षेत्रों का पुनर्निर्माण करने के लिए केंद्र से वित्तीय सहायता की मांग की.

 

प्रधानमंत्री आज दोपहर घाटी के बाढ़ पीड़ितों के बीच दिवाली का दिन व्यतीत करने के लिए यहां पहुंचे. हवाई अड्डे पर प्रदेश के राज्यपाल एन एन वोहरा और मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने उनकी अगवानी की.

 

प्रधानमंत्री ने हवाई अड्डे पर बैठक की जिसमें राज्यपाल, मुख्यमंत्री और राज्य प्रशासन के कुछ शीर्ष अधिकारियों ने हिस्सा लिया. अधिकारियों ने बताया कि उमर ने बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में चल रहे राहत एवं पुनर्वास अभियानों के बारे में प्रधानमंत्री को जानकारी दी.

 

राज्य में हालिया बाढ़ के बाद मोदी की जम्मू कश्मीर की यह दूसरी यात्रा है. राज्य में प्राकृतिक आपदा आने के बाद सात सितंबर को अपनी पहली यात्रा के दौरान प्रधानमंत्री ने पीड़ितों के पुनर्वास के लिए 1000 करोड़ रूपये की वित्तीय सहायता की घोषणा की थी.

 

उमर ने कल उम्मीद जताई थी कि प्रधानमंत्री बाढ़ प्रभावित लोगों के राहत के लिए 44,000 करोड़ रुपये के पैकेज की राज्य सरकार की मांग को स्वीकार कर लेंगे.

 

हवाई अड्डे पर हालात का जायज़ा लेने के बाद मोदी हेलीकॉप्टर से राजभवन रवाना हो गए. वहां वह राजनैतिक दलों, व्यापारिक समुदाय और समाज के प्रतिनिधियों से मिले.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: modi_siachin_indian army
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Indian army MODI siachin
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017