मोगा बस केस: परिवार ने मृतक का अंतिम संस्कार करने से किया इनकार

By: | Last Updated: Friday, 1 May 2015 11:53 AM

मोगा: पंजाब में छेड़खानी के बाद सत्तारूढ़ बादल परिवार की बस से फेंक दिए जाने पर मर गयी किशोरी के परिवार ने तब तक उसका अंतिम संस्कार करने से इनकार कर दिया है जबतक प्रशासन मुआवजे और इस परिवहन कंपनी का परमिट रद्द करने की मांग पूरा नहीं करता.

 

किशोरी के परिवार के सदस्य कांग्रेस, आप समेत विभिन्न राजनीतिक दलों, कृषक एवं सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ स्थानीय सिविल अस्पताल के सामने धरना पर बैठे हैं .

इसी अस्पताल में किशोरी की मां का इलाज चल रहा है. किशोरी और उसकी मां को बस से फेंक दिया गया था. पटियाला के आप सांसद धर्मवीर गांधी भी यहां सिविल अस्पताल के बाहर प्रदर्शन में शामिल हो गए.

 

किशोरी के पिता सुखदेव सिंह ने कहा कि वे तबतक लड़की का अंतिम संस्कार नहीं करेंगे जबकि उनकी मांगे पूरी नहीं होतीं. इन मांगों में 50 लाख रूपया मुआवजा, परिवार के एक सदस्य को रोजगार, घायल का मुफ्त इलाज और बस परिचालक ओरबिट एविएशन के बसों का रूट परमिट रद्द किया जाना शामिल हैं. ओरबिट एविएशन की बस में ही दो दिन पहले यह घटना घटी थी.

 

लड़की का शव सिविल अस्पताल के शवगृह में रखा है. बीकेयू (एकता) नेता सुखदेव सिंह ने कहा कि प्रदर्शनकारी किशोरी के परिवार की मांग का समर्थन करते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: moga case
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: bus Dead Body family moga accident Punjab
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017