मध्य प्रदेश में बारिश से 17 की मौत

By: | Last Updated: Tuesday, 29 July 2014 7:24 AM
mp_death

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश में भारी बारिश के कारण हुई विभिन्न घटनाओंमें 17 लोगों की मौत हो गई. हरदा जिले में बाढ़ के कारण बुरे हालात बने हुए हैं. जिलाधिकारी ने राहत व बचाव के लिए सरकार से हेलीकॉप्टर की मांग की है. राज्य में कहीं सामान्य तो कहीं भारी बारिश का दौर जारी है. प्रदेश में एक जून से 28 जुलाई तक पांच जिलों में औसत से अधिक बारिश, 18 जिलों में सामान्य बारिश, 26 जिलों में सामान्य से कम और दो जिलों में बहुत कम बारिश दर्ज की गई.

 

राज्य में बारिश के कारण पेड़ गिरने, मकान गिरने, आकाशीय बिजली गिरने, जलभराव और बाढ़ जैसे हालात के कारण एक जून से 28 जुलाई तक 17 लोगों की मौत हो गई, जबकि 17 अन्य घायल हो गए. बारिश के कारण छह जानवरों की मौत हुई है. 287 मकान पूरी तरह नष्ट हो गए हैं और 81 मकान क्षतिग्रस्त हुए हैं.

 

राज्य के पांच जिलों हरदा, बैतूल, खरगौन, बुरहानपुर व खंडवा में सामान्य से अधिक बारिश दर्ज की गई है. इन जिलों में नदियां उफान पर हैं, जिससे निचली बस्तियों में पानी भर गया है. कई परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है.

 

राज्य में सबसे बुरा हाल हरदा जिले का है, जहां लगातार अति वर्षा के कारण बाढ़ की स्थिति बन गई है. जिले में चारों ओर सड़क मार्ग बंद हो गए हैं. जिले के लगभग एक दर्जन गांवों में आई बाढ़ में लोग फंसे हुए हैं. सड़क मार्ग डूबे होने के कारण इन लोगों तक राहत सामग्री पहुंचाने में मुश्किलें आ रही है. जिलाधिकारी ने राहत कार्य के लिए राज्य शासन से हेलीकॉप्टर की मांग की है. बाढ़ में फंसे लोगों के बचाव कार्य के लिए राष्ट्रीय आपदा बल की टुकड़ी भी भेजी गई है.

 

वहीं बुरहानपुर जिले में ताप्ती नदी का जल-स्तर बढ़ रहा है. जिला प्रशासन ने बाढ़ की स्थिति में राहत व बचाव कार्य के इंतजाम अभी से कर लिए हैं. यहां कई इलाकों में जलभराव हो सक

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: mp_death
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017