...मसरत के बाद अब मुफ्ती सरकार आशिक हुसैन फक्तू को करेगी रिहा!

By: | Last Updated: Monday, 9 March 2015 11:44 AM

नई दिल्ली: अलगाववादी नेता मसरत आलम की रिहाई पर जारी घमासान के बीच ही जम्मू-कश्मीर की पीडीपी-बीजेपी सरकार एक और अलगाववादी नेता को रिहा कर सकती है.

 

अंग्रेजी अखबार द इकनॉमिक टाइम्स की ख़बर के मुताबिक राज्य सरकार श्रीनगर की जेल में बंद आशिक हुसैन फक्तू को भी रिहा करने की तैयारी में है.

 

आशिक हुसैन फक्तू जमीयत उल मुजाहिदीन का पूर्व कमांडर है, जो पिछले बाईस साल से श्रीनगर जेल में बंद है.

 

उसे मानवाधिकार कार्यकर्ता एच एन वांचू की हत्या के केस में उम्रकैद की सज़ा हो चुकी है.

 

फक्तू का केस सुप्रीम कोर्ट में भी विचाराधीन है. फक्तू की पत्नी आसिया अंदराबी कश्मीर की अलगाववादी नेता और दुख्तराने मिल्लत की प्रमुख है.

 

जम्मू-कश्मीर में सिर्फ मुफ्ती मोहम्मद सईद की नहीं, बल्कि पीडीपी-बीजेपी की साझा सरकार है. जिसके फैसलों से पल्ला झाड़ना बीजेपी के लिए आसान नहीं होगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Mufti government may release another separatist
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017