प्रेस कॉन्फ्रेंस में बोले मुख्तार अब्बास नकवी- अब लोग कहते हैं कि कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथ । mukhtar abbas naqvi says congress hand with terrorism

अब लोग कहते हैं कि कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथ: मुख्तार अब्बास नकवी

नकवी ने कहा कि अब तक हम कहते थे कि कांग्रेस का हाथ करप्शन के साथ लेकिन अब लोग कहने लगे हैं, कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथ.

By: | Updated: 28 Oct 2017 11:02 PM
mukhtar abbas naqvi says congress hand with terrorism
नई दिल्ली: केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि अहमद पटेल जिस अस्पताल से जुड़े हैं उसका एक कर्मचारी आतंकी निकला है और यह राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा बेहद गंभीर मामला है. हम इस मुद्दे पर राजनीति नहीं कर रहे हैं लेकिन सवाल उठना तो लाजिमी हैं.

नकवी ने कहा कि अब तक हम कहते थे कि कांग्रेस का हाथ करप्शन के साथ लेकिन अब लोग कहने लगे हैं, कांग्रेस का हाथ आतंकवाद के साथ. कांग्रेस को सवालों के जवाब देने चाहिए, लीपापोती से काम नहीं चलेगा.

केंद्रीय मंत्री ने साफ कहा कि सोनिया और राहुल इस मामले में अपना पक्ष साफ करें वरना करप्शन से ज्यादा गहरा दाग उसके दामन पर होगा. कांग्रेस इस सवाल का भी जवाब दे कि आतंकी कर्मचारी की करतूतें छुपाने की कोशिश क्यों की गई.

विजय रुपाणी ने की थी प्रेस कॉन्फ्रेंस

vijay rupani

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में गुजरात कांग्रेस के दिग्गज़ नेता और सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल पर कई संगीन आरोप लगाते हुए राज्य़सभा से इस्तीफे की मांग की. रुपाणी ने कहा,"सूरत से पकड़े गए दोनों आतंकी भरुच के जिस अस्पताल में काम करते थे, कांग्रेस नेता अहमद पटेल उसके कर्ताधर्ता हैं. ये उनका अस्पताल है."

उन्होंने कहा,"आतंकियों के पकड़े जाने से दो दिन पहले ही पटेल ने इस्तीफा दिया, इसका क्या संबंध है? आप इस बात को जानते थे या नहीं ये देश को बताया पड़ेगा."

अहमद पटेल ने ट्वीट कर दी सफाई

ahmed patel new

कल देर रात अहमद पटेल ने ट्वीट करते हुए कहा, ''बीजेपी के सभी आरोप बेबुनियाद है. ये मामला राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ा हुआ है इसलिए चुनाव को दिमाग में रखकर इस पर राजनीति न करे.'' उन्होंने कहा है कि आतंकियों पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए.''

अस्पताल ने खारिज किया रुपाणी का दावा

सीएम विजय रुपाणी के इस दावे को अस्पताल ने खारिज कर दिया है. अस्पताल ने एक प्रेस रिलीज़ में कहा है,"कासिम उनके यहां काम करता था और उसकी नियुक्ति सभी नियमों के पालन के बाद हुई थी. अस्पताल के मुताबिक, चार अक्टूबर 2017 को कासिम नौकरी छोड़कर चला गया था."

अस्पताल ने कहा है,"अफवाह फैलाई जा रही है कि अहमद पटेल और उनका परिवार अस्पताल के ट्रस्टी हैं. अस्पताल की तरफ से सफाई दी गई है कि इस अस्पताल के ट्रस्ट या मैनेजमेंट में अहमद पटेल या उनके परिवार का कोई भी सदस्य शामिल नहीं है."

सूरत से पकड़े गए थे दोनों IS आतंकी

आपको बता दें कि अहमदाबाद के खाडिया इलाके में बम विस्फोट की योजना बनाने वाले दो आतंकियों को गुजरात एटीएस ने पकड़ा था. कासिम टिम्बरवाला ओर उबेद मिर्ज़ा दोनों आतंकी खाडिय़ा में धार्मिक स्थल को निशाना बनाने वाले थे. इसके लिए इनकी ओर से यहूदियों के आराधना स्थल की रैकी करने की बात सामने आई है. संदिग्ध आतंकी अंकलेश्वर के एक अस्पताल में लैब टेक्नीशियन के रूप में काम करता था. जबकि ओबेद मिर्जा सूरत में वकील के रूप में प्रेक्टिस कर रहा था.

कांग्रेस का पलटवार

कांग्रेस ने गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी द्वारा पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल पर लगाये गये आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा गुजरात में ‘‘अपनी हार को देखते हुए ओछे हथकंडों एवं षड्यंत्रकारी हरकतों पर उतर आयी है’’. पार्टी ने यह भी कहा कि पटेल या उनके परिवार का उस अस्पताल से कोई संबंध नहीं है जहां पर काम कर चुके एक व्यक्ति को गुजरात एटीएस ने गिरफ्तार किया है.

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने एक बयान में कहा,"साढे़ छह करोड़ गुजरातियों द्वारा नकार दिए जाने से व्यथित एवं गुजरात चुनाव में हार देख भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व तथा गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ओछे हथकंडों, षड्यंत्रकारी हरकतों व ऊलजलूल बयानबाजी पर उतर आए हैं. गुजरात के चुनाव में कामयाबी पाने के लिए भाजपा नेता नित नया स्वांग व प्रपंच रच रहे हैं."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: mukhtar abbas naqvi says congress hand with terrorism
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story वड़ोदरा विधानसभा चुनाव रिजल्ट LIVE : शुरुआती रुझानों में बीजेपी को बढ़त