जानिए- बुलेट ट्रेन के शिलान्यास के साथ ही शिंजो आबे ने चीन को क्या संदेश दिया

शिंजो आबे ने डोकलाम विवाद पर बिना चीन का नाम लिए निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि ताकत से सीमा में बदलाव का हम विरोध करते हैं.

By: | Last Updated: Thursday, 14 September 2017 4:37 PM
Mumbai-Ahmedabad bullet train: Shinzo Abe says powerful Japan is good for India too

अहमदाबाद: गुजरात की धरती पर जापान के पीएम शिंजो आबे ने बुलेट ट्रेन प्रोजेक्ट का शिलान्यास करने के बाद कहा कि ऐसा करके उन्हें बेहद खुशी हो रही है. उन्होंने कहा कि इससे भारत और जापान के रिश्ते और मजबूत हुए हैं.

इसके साथ ही शिंजो आबे ने कहा कि शाक्तिशली जापान भारत के पक्ष में है. शिंजो आबे का ऐसा कहना दरअसल चीन के लिए संदेश है. शिंजो आबे ने डोकलाम विवाद पर बिना चीन का नाम लिए निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि ताकत से सीमा में बदलाव का हम विरोध करते हैं.

बुलेट ट्रेन का भूमि पूजन हुआ: जानें पीएम मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

शिंजो आबे ने आगे कहा, ”पीएम मोदी ग्लोबल और दूरदर्शी नेता हैं. उन्होंने कहा कि शक्तिशानी भारत जापान के हित में है और शक्तिशानी जापान भारत के हित में है.

बुलेट ट्रेन

बुलेट ट्रेन को लेकर शिंजो आबे ने कहा कि यह विश्व की सबसे सुरक्षित रेल यात्रा है. जापान में आजतक कोई जानलेवा हादसा नहीं हुआ है. उन्होंने कहा कि हम भारत में भी बुलेट ट्रेन यात्रा को सुरक्षित करेंगे.

शिंजो आबे ने कहा कि 1964 में जापान में पहली बुलेट ट्रेन आई. उन्होंने कहा कि मैंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस सपने को साकार करने की प्रतिज्ञा ली है. जापान और भारत के इंजीनियर मिलकर इस प्रोजेक्ट पर काम कर रहे हैं. जापान से 100 इंजीनियर भारत आए हैं.

आखिर में शिंजो आबे ने कहा कि अगर जापान का ‘JA’ और इंडिया का ‘I’ मिला दिया जाए तो जय हो जाएगा. खास बात ये है कि शिंजो आबे ने मोदी को अपनी डियर फ्रेंड भी करार दिया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Mumbai-Ahmedabad bullet train: Shinzo Abe says powerful Japan is good for India too
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017