मुंबई के एलफिंस्टन ब्रिज पर मची भगदड़ में क्या हुआ? जानें आंखों देखा हाल

मुंबई के एलफिंस्टन ब्रिज पर मची भगदड़ में क्या हुआ? जानें आंखों देखा हाल

मुंबई के वेस्टर्नव लाइन पर स्थित एलफिंसटन रेलवे ब्रिज पर मची भगदड़ में अब तक 22 लोगों की मौत हो गई है वहीं 36 लोग इस हादसे में जख्मी हुए हैं.

By: | Updated: 29 Sep 2017 12:56 PM
मुंबईः मुंबई के वेस्टर्नव लाइन पर स्थित एलफिंसटन रेलवे ब्रिज पर मची भगदड़ में अब तक 22 लोगों की मौत हो गई है वहीं 36  लोग इस हादसे में जख्मी हुए हैं. ये घटना सुबह करीब 9.30 बजे घटी. ब्रिज टूटने की अफवाह के कारण ये भगदड़ मची और जिस वक्त से भगदड़ हई उस वक्त बारिश हो रही थी और फिसलन के कारण इतना बड़ा हादसा हो गया. एलफिंसटन ब्रिज सेंट्रल और वेस्टर्न लाइन को जोड़ता है लिहाजा इस पर काफी भीड़ रहती है.

आंखों देख हाल

मौका-ए-वारदात पर मौजूद एक चश्मदीद ने एबीपी न्यूज से बातचीत में हादसे के बारे में बताया. चश्मदीद के मुताबिक सबसे पहले एक शख्स फिसल कर नीचे आया फिर लोग एक के ऊपर एक चढ़ते गए. 16 लोगों की मौत हुई है बाकि कोई गिनती ही नहीं है कई लोग घायल पड़े हुए हैं. कोई अफवाह नहीं हुआ ये हादसा. सहां सीढ़िया इतनी गंदी पड़ी हुई है ये साफ तौर पर सरकार की गलती है. बारिश के पानी और गंदगी से हुए फिसलन के कारण ये हादसा हुआ है.

चश्मदीद ने आगे बताया कि लगभग 150 लोग ब्रिज पर हादसे के वक्त मौजूद थे. टिकट काउंटर से लेकर लोग सीढ़ियों तक भरे थे. लोग एक के ऊपर एक गिर गए. हमने निकालने की कोशिश की तो लोग इस कदर दब चुके थे कि निकल नहीं पा रहे थे. एक बच्चा भी भगदड़ में दब गया. ये सरकार की जिम्मेदारी है की सीढ़िया साफ हो और नई बनाई जाएं. यहां फिसलन बहुत ज्यादा होती है और भीड़ को देखते हुए पुल को और बढ़ाया जाए. जो भी हुआ है वो ब्रिज के कारण हुआ है. शॉर्ट सर्किट या कोई अफवाह के कारण नहीं हुआ है.

पुलिस ने क्या कहा?
पुलिस के मुताबिक अब तक 22 लोगों की मौत हो चुकी है और 36 से ज्यादा लोग घायल हैं. दरअसल ब्रिज के टूटने की अफवाह फैली और ये सुनते ही लोग जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे. अफरातफरी के आलम में लोग एक दूसरे पर चढ़ गए, कूदने लगे. लोगों के कूदने और भागने से लोगों की दब कर मौत हो गई साथ ही कई गंभीर रुप से जख्मी हो गए. इ

दरअसल, जहां हादसा हुआ है वहां बारिश हो रही थी, पिक आवर भी था त्यौहारों के सीजन के कारण काफी भीड़ थी. बड़ी संख्या में लोग इस फूटओवर ब्रिज पर रुक गए और जमा होते गए, तभी ब्रिज की एक शेड के एक टुकड़ा गिरने की अफवाह फैली ऐसी अफरातफरी मची की कयामत जैसा समा हो गया. जान बचाने की इस दौड़ कई जानें हमेशा के लिए नींद से सो गई.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story गुजरात चुनाव: पीएम के अभिवादन पर कांग्रेस को आपत्ति, मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दिए जांच के आदेश