'महिलाएं चिल्ला रही थीं, भाग रही थीं और वे उन्हें खेतों में खींच रहे थे'

By: | Last Updated: Saturday, 27 February 2016 4:26 PM
Murthal gangrape case: Women were dragged into a field

नई दिल्ली: हरियाणा के कथित मुरथल गैंगरेप का सच क्या है? इसकी पड़ताल के लिए आपका चैनल एबीपी न्यूज ग्राउंड जीरो से लगातार रिपोर्टिंग कर रहा है. इस बीच घटना के दौरान मौजूद एक ट्रक ड्राइवर ने चौकाने वाले खुलासे किए हैं. ट्रक ड्राइवर का साफ कहना है कि उसने गैंगरेप की घटना को आपने आंखों से देखा है. हालांकि एबीपी न्यूज ट्रक ड्राइवर के दावे की पुष्टि नहीं करता है.

दिल्ली से महज 48 किलोमीटर दूर हरियाणा के मुरथल में 10 महिलाओं से कथित गैंगरेप का सच जानने के लिए हरियाणा पुलिस की SIT टीम खाक छान रही है.

कथित गैंगरेप हुआ था इसकी पुष्टि करना पुलिस के लिए इसलिए मुसीबत बना हुआ क्योंकि न तो वो किसी चश्मदीद तक वो पहुंच पाई है और न ही कोई पीड़ित पुलिस के पास आया है. लेकिन एबीपी न्यूज अब तक का सबसे बड़ा खुलासा करने जा रहा है घटना वाली जगह मौजूद चश्मदीद की जरिए.

lead_murthal-gangrape

ये हैं ट्रक ड्राइवर निरंजन सिंह. 22 फरवरी को मुरथल में जिस दौरान मुरथल में जाट आरक्षण आंदोलनकारियों की भीड़ ने इंसानियत को शर्मसार किया है तो उसे इन्होंने अपनी आंखों से देखा था.

बहु-बेटियों के साथ किस तरह से भीड़ ने हैवानियत की सारी हदें पार कर दी. ट्रक ड्राइवर निरंजन सिंह उस दिन मौके पर थे और भीड़ ने उनके ट्रक को भी आग लगा दी थी. इन्होंने ये भी बताया आरोपियों ने किस तरह से महिलाओं को अपनी जाल में फंसाया और खेतों में ले जाकर उनके साथ कथित गैंगरेप किया.

आंदोलन के दौरान 22 फरवरी को निरंजन भी जाम में फंस गए थे. उनके ट्रक को भी आग लगा दी गई थी. इस दौरान उन्होंने कई खतरनाक मंजर देखे. उन्होंने कहा कि वे 1984 के दंगे को भी देख चुके हैं लेकिन, लेकिन इतना शर्मनाक मंजर उन्होंने नहीं देखा. उन्होंने स्वीकारा कि महिलाएं चिल्ला-चिल्ला कर भाग भी रही थीं.

उन्होंने कहा कि महिलाओं के साथ पुरुष भी थे लेकिन अपराधी इतनी संख्या में थे कि वे कुछ नहीं कर पाए. निरंजन के अनुसार टोलियों में उपद्रव करने वाले घूमते थे और महिलाओं को जबरन खेतों की तरफ ले जाते थे. उनकी आंखों के सामने भी कपड़े फाड़े गए लेकिन वे भी कुछ नहीं कर सके. क्योंकि, उपद्रवियों के हाथों में गंडासे आदि हथियार भी थे.

22 फरवरी को मौके पर मौजूद निरंजन ने एबीपी न्यूज को बताया है कि जिन लोगों ने इस घटना को अंजाम दिया है वो आसपास के ही लोग थे. निरंजन के मुताबिक आरोपी बाइक पर सवार होकर आए थे. करीब 20 से 27 साल की उम्र वाले युवको ने इस घटना को अंजाम दिया है. वो धारदार हथियारों से लैस थे.

ट्रक ड्राइवर के मुताबिक आरोपी आज भी उसी इलाके में घूम रहे हैं जिसे वो आसानी से पहचान सकते हैं. निरंजन ने कहा है कि उस दिन जो हुआ वो शर्मनाक होने के साथ ही 1984 के दंगे से भी ज्यादा भयावह था. ट्रक ड्राइवर ने कहा है कि वो पुलिस के सामने बयान देने को भी तैयार हैं.

एबीपी न्यूज पर मौजूद चश्मदीद के बयान से ये साफ हो रहा है कि उस दिन महिलाओं के साथ मुरथल में बदसलूकी हुई थी. लेकिन एबीपी न्यूज ट्रक ड्राइवर के बयानों के पुष्टि नहीं कर रहा है.

वहीं कथित गैंगरेप की पड़ताल के लिए डीआईजी राजश्री की अगुवाई में SIT की टीम घटना स्थल पर पहुंची और वहां का जायजा ले रही है. लेकिन जब एबीपी न्यूज ने उनसे पूछा कि क्या वो ट्रक ड्राइवर का बयान लेंगी तो उनके बयान ने जाहिर कर दिया कि वो इस मामले को लेकर कितनी गंभीर हैं.

जिल महिला अफसर पर जांच का जिम्मा है उनके बयान ही बता रहे हैं कि वो मामले को लेकर कितना गंभीर हैं. ट्रक ड्राइवर का बयान पुलिस के लिए एक अहम कड़ी साबित हो सकती है लेकिन को चश्मदीद के खुद उनके पास आने का इंतजार कर रही हैं. जिस इलाके में ये घटना हुई है वहां के डीएसपी सतीश कुमार सबूत न होने का हवाला देकर अपनी बेचारगी जाहिर कर रहे हैं. लेकिन इन्होंने भी चश्मदीद ट्रक ड्राइवर का बयान लेने की कोशिश नहीं की.

हरियाणा के मुरथल में जीटी रोड पर हसनपुर और कुराड़ गांव के पास कथित तौर पर हुई महिलाओं से गैंगरेप की घटना 22 फरवरी यानी सोमवार की बताई जा रही है. सबसे पहले पहले अंग्रेजी अखबार ट्रिब्यून ने ये खबर छापी थी .

अंग्रेजी अखबार ट्रिब्यून के मुताबिक जाट आंदोलन के दौरान हरियाणा के मूरथल के पास नेशनल हाईवे-1 पर सोमवार की सुबह कुछ गाडिय़ों को रोका गया और उनमें सवार करीब 10 महिलाओं के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया. इस दौरान महिलाओं के कपड़े तक फाड़ दिए गए और उनके साथ मारपीट की गई. कुछ महिलाओं ने पास के ही सुखदेव ढाबे में जाकर अपनी जान बचाई थी.

यहां देखें चश्मदीद से खास बातचीत की वीडियो

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Murthal gangrape case: Women were dragged into a field
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Murthal gangrape case
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017