भागवत के समय नहीं देने पर मुस्लिम उलेमाओं ने की RSS प्रतिनिधि से मुलाकात

By: | Last Updated: Tuesday, 17 February 2015 2:51 AM

कानपुर: शहर के मुस्लिम उलेमाओं ने आज देर रात राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकारिणी सदस्य से मुलाकात कर कहा कि मुसलमान भी अपने देश से उतना ही प्यार करते है जितना अन्य धर्मो के लोग. शहर काजी और मुस्लिम नेताओं ने 14 फरवरी को संघ प्रमुख के समक्ष अपनी कौम का नजरिया रखने के लिये वक्त मांगा था लेकिन संघ प्रमुख के पूर्व निर्धारित कार्यक्रमों के कारण उन्हें समय नहीं मिल पाया.

 

इस पर मुस्लिम उलेमाओं ने आज निराशा व्यक्त की थी. मीडिया में यह बात आज सामने आते ही आरएसएस के अखिल भारतीय कार्यकारिणी सदस्य इन्द्रेश ने बीती रात मुस्लिम उलेमाओं को बात करने के लिये बुलाया. सुन्नी उलेमा काउंसिल के महासचिव मौलाना सलीस अहमद के साथ मुस्लिम उलेमाओं के एक प्रतिनिधि मंडल ने उनसे मुलाकात की.

 

सलीस अहमद ने बताया कि मुस्लिम उलेमाओं ने आरएसएस प्रतिनिधि के सामने अपनी बातें रखी कि आप हिन्दू राष्ट्र चाहते है या एक ऐसा राष्ट्र चाहते है जिसमें हिन्दू मुस्लिम सब एक साथ मिलजुल कर रहें. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी देश का विकास चाहते है तो यह विकास संविधान के आधार पर होगा या किसी एक धर्म को साथ लेकर चलने से होगा.

 

अहमद ने कहा कि हमने मुसलमानों के खिलाफ दिये जा रहे लगातार बयानों की तरफ उनका ध्यान आकषिर्त करते कहा कि उनके कुछ नेता और उनसे जुड़े संगठनों के लोग बार बार कहते है कि भारत एक हिन्दू राष्ट्र है, मुसलमान देश छोड़ कर चले जायें.

 

उन्होंने कहा कि इस तरह की बातों से हमारा मुल्क हिन्दुस्तान एक नही रह पायेगा और इसमें विभाजन की खाई बढ़ती जायेगी. सलीस ने बताया कि इन्द्रेश ने कहा कि वह उनकी बात संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों तक पहुंचायेंगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: muslim ulemas meet rss representatives
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: muslim ulema representative rss
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017