हमारा गवर्नेंस मॉडल गरीबों के लिए और पीएम मोदी का मॉडल अमीरों के लिए: अरविंद केजरीवाल

By: | Last Updated: Friday, 10 April 2015 2:07 AM

नई दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने गुरुवार को कहा कि उनके लोक केंद्रित शासन का मॉडल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मॉडल से बेहतर है और साथ ही उन्होंने आरोप लगाया कि मोदी का मॉडल देश के मुठ्ठी भर धनी लोगों तक केंद्रित है.

 

केजरीवाल ने जोर दे कर कहा कि वह शासन पर ध्यान केंद्रित किये हुए है और आप के आंतरिक संघर्ष पर नहीं. उन्होंने कहा कि सत्ता में आने के बाद उन्होंने महसूस किया कि असली लड़ाई नौकरशाही से है और वह ढांचागत बदलाव लाने की दिशा में काम कर रहे हैं.

 

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने योगेन्द्र यादव और प्रशांत भूषण को पार्टी के शीर्ष पदों से हटाये जाने के निर्णय को सही ठहराया. केजरीवाल ने कहा, ”दोनों ने सभी सीमाएं पार कर दीं थीं औऱ लगातार षडयंत्र रच रहे थे.”

 

आप नेता आशुतोष की पुस्तक ‘द क्राउन प्रिंस, द ग्लैडिएटर एंड द होप’ का लोकार्पण करने के बाद उन्होंने कहा, ‘‘ मैं इन संघर्ष से उपर उठ गया हूं. मैं शासन पर ध्यान केंद्रित किये हुए हूं . मैं यहां लडाई करने नहीं आया हूं . मेरी असली लड़ाई अफसरशाही के खिलाफ है.’’

 

उन्होंने कहा कि चुनाव के दौरान लोगों के समक्ष दो माडल थे . एक 49 दिनों की केजरीवाल सरकार के शासन का माडल और दूसरा मोदी के आठ महीने के कामकाज का माडल . 67 सीटें प्रदान करके लोगों ने साबित किया कि केजरीवाल माडल बेहतर है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: My model of governance better than Modi’s: Kejriwal
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017