नालंदा इतिहास दोहराने को तैयार

By: | Last Updated: Monday, 1 September 2014 3:41 AM
Nalanda University ready to repeat the history

पटना: कभी संपूर्ण विश्व में शिक्षा और ज्ञान के केंद्र के रूप में परचम लहराने वाला बिहार का नालंदा विश्वविद्यालय एक बार फिर इतिहास दोहराने को तैयार है. एक सितंबर से इस विश्वविद्यालय में कक्षाएं शुरू होने वाली हैं.

 

पांचवीं सदी में एशिया के विभिन्न इलाकों के छात्र इस विश्वविद्यालय में अध्ययन के लिए आते थे, परंतु बाद में हमलावरों ने इसे नष्ट कर दिया. अब 21वीं सदी में एक बार फिर इस प्राचीन अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय की गरिमा बहाल होने वाली है.

 

अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ़ गोपा सबरवाल ने बताया, “गौरवशाली अतीत से प्रेरणा लेकर एक दर्शन की अवधारणा के साथ कक्षाएं प्रारंभ हो रही हैं. इसकी सारी तैयारी कर ली गई हैं. यह संस्था नहीं, बल्कि नालंदा बनाने का मिशन है.”

 

विश्वविद्यालय प्रशासन के मुताबिक, पहली सितंबर से दो विषयों की पढ़ाई होने जा रही है. यहां कुल सात विषयों में पढ़ाई होगी. विश्वविद्यालय में जापान और भूटान के एक-एक छात्र समेत कुल 15 छात्रों ने नामांकन कराया है.

 

पहले सत्र में इतिहास और पर्यावरण विज्ञान की पढ़ाई शुरू की जानी है. दोनों विषयों के लिए 20-20 छात्रों का चयन किया जाना है. इन छात्रों को पढ़ाने के लिए 10 अध्यापकों (फैकल्टी) का चयन किया जा चुका है.

 

डॉ़ गोपा के मुताबिक, अभी नामांकन की प्रक्रिया जारी रहेगी और हर हाल में एक सितंबर से पढ़ाई शुरू हो जाएगी. पढ़ाई शुरू कराने के लिए इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर के दो कमरे लिए गए हैं.

 

नालंदा विश्वविद्यालय के लिए प्रस्तावित 446 एकड़ के स्थायी परिसर में फिलहाल एक दीवार बन गई है, जबकि कक्षाएं कार्यालयों और संकाय सदस्यों के लिए आवास के रूप में एक अस्थायी परिसर का निर्माण कराया जा रहा है. विश्वविद्यालय के भवन निर्माण का कार्य 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है.

 

उल्लेखनीय है कि प्राचीन विश्वविद्यालय के खंडहर से करीब 10 किलोमीटर दूर राजगीर में बनाए जा रहे इस विश्वविद्यालय के निर्माण की योजना की घोषणा वर्ष 2006 में भारत, चीन, सिंगापुर, जापान और थाईलैंड ने संयुक्त रूप से किया था और बाद में यूरोपीय संघ के देशों ने भी इसमें दिलचस्पी दिखाई.

 

विश्वविद्यालय के आसपास के करीब 200 गांवों के भी विकास की योजना बनाई गई है. एक अधिकारी ने बताया कि एक अनुमान के मुताबिक, इस विश्वविद्यालय के आधारभूत संरचना के लिए करीब 100 करोड़ डॉलर के खर्च होने की संभावना है.

 

प्रारंभ में पूर्व नालंदा अंतर्राष्ट्रीय विश्वविद्यालय की परिकल्पना तत्कालीन राष्ट्रपति डॉ़ ए़ पी़ ज़े अब्दुल कलाम ने की थी. डॉ कलाम उस समय जब जिले में एक रेल कोच कारखाने के शिलान्यास के मौके पर आए थे, तो उन्होंने तत्कालीन रेल मंत्री नीतीश कुमार से नालंदा विश्वविद्यालय को पुनर्जीवित करने के बारे में चर्चा की थी.

 

इसके बाद नीतीश ने इसकी स्थापना की पहल की थी. गौरतलब है कि पांचवीं सदी में बने प्राचीन विश्वविद्यालय में करीब 10 हजार छात्र पढ़ते थे, जिनके लिए 1500 अध्यापक हुआ करते थे. छात्रों में अधिकांश एशियाई देशों चीन, कोरिया और जापान से आने वाले बौद्ध भिक्षु होते थे.

 

इतिहासकारों के मुताबिक, चीनी भिक्षु ह्वेनसांग ने भी सातवीं सदी में नालंदा में शिक्षा ग्रहण की थी. उन्होंने अपनी किताबों में नालंदा विश्वविद्यालय की भव्यता का जिक्र किया है. प्राचीन काल में नालंदा विश्वविद्यालय बौद्ध धर्म का सबसे बड़ा शिक्षण केंद्र था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Nalanda University ready to repeat the history
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bihar history Nalanda University repeat
First Published:

Related Stories

J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर अयूब लेलहारी को किया ढेर
J&K: पुलवामा में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर अयूब लेलहारी को...

श्रीनगर: जम्मू कश्मीर के पुलवामा जिले में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के जिला कमांडर को आज...

गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली कंपनी हादसे की जिम्मेदार
गोरखपुर ट्रेजडी: डीएम की रिपोर्ट में डॉक्टर और ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली...

नई दिल्ली: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में 10 अगस्त से 12 अगस्त के बीच 48 घंटे के भीतर 36 बच्चों की...

अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया
अमेरिका ने हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन घोषित किया

वाशिंगटन: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के करीब दो महीने बाद आज अमेरिका...

RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का दावा: कांग्रेस
RBI ने नहीं पूरी की नोटों की गिनती तो पीएम ने कैसे किया 3 लाख करोड़ वापस आने का...

नई दिल्ली: कांग्रेस ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के स्वाधीनता दिवस के अवसर पर राष्ट्र के नाम...

'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं क्या...?
'सोनू' के तर्ज पर कपिल मिश्रा का 'पोल खोल' वीडियो, गाया- AK तुझे खुद पर भरोसा नहीं...

नई दिल्ली : दिल्ली सरकार में मंत्री पद से बर्खास्त किए गए कपिल मिश्रा ने सीएम अरविंद केजरीवाल...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. रिश्तों में टकराव के लिए चीन ने पीएम नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया है. http://bit.ly/2vINHh4  मंगलवार को...

 'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया जा सकता
'ब्लू व्हेल' गेम पर सरकार सख्त, रविशंकर प्रसाद ने कहा- इसे स्वीकार नहीं किया...

नई दिल्ली: जानलेवा ‘ब्लू व्हेल’ गेम को लेकर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बुधवार को...

विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!
विपक्षी दलों के साथ शरद यादव कल करेंगे 'शक्ति प्रदर्शन'!

नई दिल्ली: जेडीयू के बागी नेता शरद यादव कल यानि गुरुवार को अपनी ताकत के प्रदर्शन के लिए सम्मेलन...

भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं
भगाए जाने के बाद बोला चीन, लद्दाख में टकराव की कोई जानकारी नहीं

बीजिंग: चीन ने जम्मू-कश्मीर के लद्दाख में मंगलवार को दो बार भारतीय इलाके में घुसपैठ की कोशिश...

योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'
योगी राज में किसानों के 'अच्छे दिन'

नई दिल्लीः यूपी के किसानों के लिए खुशखबरी का इंतजार खत्म हो गया है. कल सीएम योगी आदित्यनाथ 7 हज़ार...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017