बांग्लादेश मीडिया ने मोदी की यात्रा को दी जबर्दस्त कवरेज

By: | Last Updated: Sunday, 7 June 2015 12:48 PM
narendra modi

ढाका: बांग्लादेश की मुख्यधारा के मीडिया ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बांग्लादेश यात्रा को जबर्दस्त कवरेज दी है. इस यात्रा को द्विपक्षीय संबंधों में ‘नये युग की शुरूआत’ करार दिया गया है जबकि तीस्ता जल बंटवारे के महत्वपूर्ण मुद्दे पर स्पष्ट प्रगति नहीं होने पर खेछ भी प्रकट किया है.

 

बांग्लादेश में बडे पैमाने पर बिकने वाले अखबार ‘प्रोथम अलो’ ने शीषर्क लगाया है, ‘‘दि न्यू होराइजन इन रिलेशन्स’’ :संबंधों में नया क्षितिज: . उसकी खबर में कहा गया है कि यात्रा के दौरान द्विपक्षीय संबंधों को नई उंचाइयों पर ले जाने के मकसद से 22 समझौतों पर दस्तखत किये गये .

 

अखबार ने अपने मुख्य संपादकीय में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की यह यात्रा विभिन्न कारणों से जानी जाएगी . इस यात्रा से सीमा विवाद हल होने जा रहा है जो लगभग सात दशकों से लंबित था .

 

एक अन्य अखबार ‘समोकाल’ ने शीर्ष लगाया, ‘‘फ्रेंडशिप इन न्यू हाइट’’ :दोस्ती की नई उंचाई: . अखबार ने मोदी की उस टिप्पणी को प्रमुखता से छापा है, जिसमें उन्होंने बांग्लादेश के संस्थापक और मौजूदा प्रधानमंत्री शेख हसीना के पिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान को श्रद्धांजलि अर्पित की है . अखबार ने कनेक्टिविटी बढाने के लिए हसीना की प्राथमिकताओं को भी जगह दी है .

 

प्रमुख अंग्रेजी दैनिक ‘दि डेली स्टार’ की हेडलाइन है, ‘‘डान आफ ए न्यू एरा’’ . इसके उपशीषर्क में लिखा है, ‘‘हसीना, मोदी प्लेज म्यूचुअल ग्रोथ, लैंड डाक्यूमेंट एक्सचेंज्ड, 22 डील्स साइन्ड, 2 बिलियन यूएस डालर फ्रेश इंडियन क्रेडिट’’. ये उपशीषर्क परस्पर विकास, भूमि सीमा समझौते के दस्तावेजों के आदान प्रदान, 22 समझौतों, भारत द्वारा बांग्लादेश को दो अरब डालर कर्ज के ऐलान से जुडे हैं .

 

अखबार ने अपने संपादकीय में लिखा, ‘‘नो ब्रेकथ्रू आन तीस्ता’’ :तीस्ता में कोई प्रगति नहीं:. अखबार ने कहा कि हमने उम्मीद की थी कि इस यात्रा के दौरान तीस्ता को लेकर कोई स्पष्ट प्रगति होगी लेकिन अफसोस ऐसा नहीं हुआ . फाइनेंशियल एक्सप्रेस ने अपने शीषर्क में लिखा, ‘‘मोदी एश्योर्स फेयर साल्यूशन टू तीस्ता, फेनी रिवर वाटर्स’’ : मोदी ने तीस्ता, फेनी नदी संबंधी उचित समाधान का विश्वास जताया: . उपशीषर्क में लिखा है, ‘‘एवरीथिंग टू बी डन टू ब्रिज ट्रेड डेफिसिट’’ :व्यापार घाटा कम करने के लिए सभी उपाय किए जाएंगे: .

 

हसीन के साथ कल वार्ता के बाद मोदी ने विश्वास जताया था कि तीस्ता और फेनी नदी जल बंटवारे के मुद्दों का उचित हल निकल जाएगा .

 

सरकार विरोधी रूख के लिए मशहूर ‘न्यू एज’ ने अपनी खबर में कहा, ‘‘मोदी गेट्स ट्रांजिट बूस्ट : ही प्लेजेस फेयर शेयर आफ तीस्ता वाटर, हसीना फार फुलफिलमेंट आफ कमिटमेंट्स’’ .

 

न्यू एज ने एक लेख में कहा कि मोदी की बांग्लादेश यात्रा दोनों देशों के लिए महत्वपूर्ण रही . व्यापार, आंतरिक शांति और सांप्रदायिक सद्भाव, निवेश तथ्ज्ञा विकास के क्षेत्रों में सहयोग के लिहाज से यह यात्रा अहम है .

 

प्रमुख बांग्ला दैनिक ‘दि जुगान्तर’ के शीषर्क में लिखा है, ‘‘हसीना मोदी मेनली रिमेन वोकल आन कनेक्टिविटी, रेड कार्पेट रिसेप्शन टू इंडियन प्रीमियर इन ढाका .’’ बांग्लादेश आब्जर्वर ने भी खबर दी कि मोदी को तीस्ता नदी जल बंटवारे के मुद्दे के उचित समाधान का विश्वास है .

 

मोदी बांग्लादेश के उद्योग संघ प्रमुखों से मिले

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को ढाका में बांग्लादेश के उद्योग संघों के प्रमुखों से मुलाकात की. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्विटर पर कहा, “मोदी प्रमुख उद्योग संघों के प्रमुखों से मिले.” मोदी बांग्लादेश के दो दिवसीय दौरे पर हैं.

 

मोदी ने रविवार सुबह पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की ओर से बांग्लादेश मुक्ति संग्राम पुरस्कार हासिल किया. यह पुरस्कार ढाका में एक समारोह में बांग्लादेश के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्दुल हमीद ने प्रदान किया.

 

वह ढाका में ढाकेश्वरी मंदिर भी गए और वहां पूजा-अर्चना की. उसके बाद वह गोपीबाग स्थित रामकृष्ण मठ गए. उन्होंने बारीधारा में भारतीय उच्चायोग की नई इमारत का उद्घाटन किया, जहां उन्होंने छह परियोजनाएं भी लांच की. इन परियोजनाओं के लिए आर्थिक सहायता भारत से मिली है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: narendra modi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: bangladesh India media Narendra Modi PM
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017