हेरल्ड अखबार फिर शुरु होगा

By: | Last Updated: Thursday, 21 January 2016 10:52 PM
National Herald to turn Non-Profit, Newspaper to be revived

नई दिल्ली: विवादों में घिरी एसोसिएटेड जरनल्स लिमिटेड ने फिर से नेशनल हेरल्ड अखबार शुरू करने का एलान किया है. मोतीलाल वोरा की अध्यक्षता में लखनऊ में हुई मीटिंग में इसे एक गैर मुनाफे वाली कंपनी में बदलने का भी फैसला हुआ.

एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड के जनरल बॉडी की मीटिंग लखनऊ में हुई. कांग्रेस के गुलाम नवी आज़ाद, शीला दीक्षित, जितिन प्रसाद, ऑस्कर फर्नांडीस, सैम पित्रोदा, दीपेन्द्र हुड्डा समेत कई नेता इसमे शामिल हुए. मोतीलाल वोरा की अध्यक्षता में हुई बैठक में कई महत्त्वपूर्ण फैसले हुए. उन्होंने बताया कि एजीएल फिर से नेशनल हेरल्ड अखबार का प्रकाशन शुरू करेगी.

एसोसिएटेड जर्नल्स लिमिटेड यानि एजीएल को पूर्व प्रधान मंत्री जवाहर लाल नेहरू ने 1937 में बनाया था. नेशनल हेरल्ड, नवजीवन और उर्दू अखबार कौमी आवाज इसी कंपनी से छपती थी. अब ये सारे अखबार फिर से शुरू होंगे. ये भी तय हुआ कि एजीएल को अब एक बिना मुनाफे वाली कंपनी बनाया जायेगा साथ ही नाम भी बदला जाएगा.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: National Herald to turn Non-Profit, Newspaper to be revived
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: National Herald
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017