बिहार चुनावः महागठबंधन से एनसीपी ने तोड़ा रिश्ता

By: | Last Updated: Monday, 17 August 2015 3:09 AM

नई दिल्लीः राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने बिहार में महागठबंधन से अलग हो रही है. पार्टी के महासचिव और सांसद तारिक अनवर ने रविवार को पटना में एक प्रेस कांफ्रेंस में इस महागठबंधन का साथ छोड़ने की घोषणा की.

 

बिहार में महागठबंधन में जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस शामिल हैं. इस गठबंधन में  सीटों का बंटवारा हो चुना है जिसमें जेडीयू को 100, आरजेडी को 100 और कांग्रेस को 40 सीटें देने पर बात बनी है.

 

बीबीसी को दिए एक इंटरव्यू में तारिक अनवर ने बताया कि, वह सीटों के बंटवारे से नाखुश हैं, ‘सीट बंटवारे में एनसीपी को नजर अंदाज किया गाया है.’

तारिक अनवर ने आगे कहा, ‘महागठबंधन को किसी मुशस्लिम चेहरे की जरुरत नहीं है, शायद इसी कारण हमें इस कदर नजरअंदाज कर दिया गया.’

 

एमआईएम की एंट्री

ओवैसी की पार्टी एमआईएम महाराष्ट्र के बाद बिहार विधानसभा में भी किस्मत आजमाने वाली है. रविवार को एमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने बिहार के किशनगंज में बड़ी रैली की. ओवैसी की रैली में हजारों की भीड़ भी जुटी. चुनावी भाषण में ओवैसी ने पीएम मोदी सहित लालू यादव और नीतीश कुमार पर भी निशाना साधा. हालांकि बिहार में MIM कितनी सीटों पर लड़ेगी इस पर ओवैसी ने पत्ते नहीं खोले हैं.

 

ओवैसी ने किशनगंज की रुईधासा मैदान में हज़ारो की भीड़ को संबोधित किया. ओवैसी ने लालू, नितीश और पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा. ओवैसी ने बिना नाम लिए बिहार के नेताओं की तुलना बन्दर से की. ओवैसी ने कहा कि सीमांचल को शेरों की ज़रुरत है, बंदरों की नहीं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: ncp part aways from bihar allience
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017