'आप' कार्यकारिणी से निकाले जाने के खिलाफ कोर्ट जा सकते हैं योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण, अन्ना ने 'आप' के झगड़े को समझ से परे बताया

By: | Last Updated: Sunday, 29 March 2015 2:28 AM

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी में प्रचंड बहुमत से सत्ता में आई आम आदमी पार्टी (आप) के दो संस्थापक सदस्य प्रशांत भूषण व योगेंद्र यादव सहित चार वरिष्ठ नेताओं को पार्टी ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी से हटा दिया. ये चारों इधर कई हफ्तों से पार्टी संयोजक अरविंद केजरीवाल के खिलाफ मोर्चा खोले हुए थे.

 

शनिवार को पश्चिमी दिल्ली के कापसहेड़ा में हुई पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में करीब 311 सदस्य मौजूद थे. दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने योगेंद्र और प्रशांत को हटाने का प्रस्ताव पेश किया.

 

बैठक में शामिल रहे एक सदस्य ने बताया कि केजरीवाल ने सदस्यों से कहा कि वे या तो उनका साथ दें या फिर योगेंद्र यादव व प्रशांत भूषण के साथ रहें.

 

आप के राष्ट्रीय सचिव पंकज गुप्ता ने बताया कि 247 सदस्यों ने चारों सदस्यों को राष्ट्रीय कार्यकारिणी से हटाने के पक्ष में वोट किया. सिर्फ आठ सदस्यों ने विरोध किया, जबकि 54 सदस्यों ने कोई राय जाहिर नहीं की.

 

बैठक के दौरान विरोध में बोलने वाले एक सदस्य के साथ हाथापाई की बात भी सामने आई है.

 

पार्टी के संस्थापक सदस्य प्रशांत व यादव ने अरविंद केजरीवाल को तानाशाह करार दिया और कहा कि पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में फैसला अवैध तरीके से लिया गया. इसके खिलाफ वह अदालत जाएंगे.

 

उधर, दोनों को बाहर निकालने के फैसले के बाद पार्टी की वरिष्ठ नेता मेधा पाटकर ने पार्टी की प्रतिक्रिया पर अपना दर्द बयां करते हुए कहा, “आप की बैठक में जो कुछ हुआ, वह अनुचित है और मैं उसकी निंदा करती हूं.”

 

मेधा ने कहा, “बैठक के दौरान हिंसा और जो कुछ भी वहां हुआ, वह पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के प्रति अशिष्टता दर्शाता है. इस कारण मैंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया है.”

 

बैठक के दौरान केजरीवाल मौजूद थे, लेकिन मतदान होने के पहले वह वहां से चले गए. पार्टी ने योगेंद्र के समर्थकों -आनंद कुमार और अजीत झा को भी 21 सदस्यीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी से हटा दिया है.

 

बैठक सुबह 10 बजे से शुरू हुई, जिसमें दोनों गुटों के समर्थक नारा लगा रहे थे और एक दूसरे के खिलाफ बैनर लिए हुए थे. योगेंद्र यादव ने बैठक स्थल के बाहर प्रदर्शन भी किया.

 

राष्ट्रीय परिषद के एक सदस्य ने कहा कि कई लोगों ने बैठक के दौरान यादव व प्रशांत के पक्ष में नारे लगाए, जिन्हें बल प्रयोग कर बाहर निकाल दिया गया.

 

उदास दिख रहे प्रशांत ने बाद में कहा, “यह बात सही है कि हम अदालत या निर्वाचन आयोग का रुख कर सकते हैं या राष्ट्रीय परिषद की एक दूसरी बैठक बुलाने की मांग कर सकते हैं.”

 

योगेंद्र ने बैठक से बाहर आने के बाद कहा, “राष्ट्रीय परिषद की बैठक में लोकतंत्र की हत्या हुई है.” वहीं प्रशांत ने कहा कि जो लोग केजरीवाल से असमत थे, उन्हें पीटा गया और उन्हें बैठक से निकाल दिया गया.

 

आप के एक नेता संजय सिंह ने बैठक के दौरान मारपीट होने की बात से इनकार किया. उन्होंने बैठक के बाद मीडिया से कहा, “कोई हिंसा नहीं हुई. किसी को कोई चोट नहीं आई. सारी झूठी बातें हैं.”

 

सर्वोच्च न्यायालय के वकील प्रशांत ने दावा किया कि बैठक की पटकथा पहले से तैयार कर ली गई थी. प्रशांत ने कहा, “जो कुछ हुआ, वह पूर्व नियोजित था. ऐसा लगता है कि सबकुछ पहले से लिखा गया था.”

 

योगेंद्र और प्रशांत ने पांच मांगों- पार्टी के अंदर पारदर्शिता, पार्टी की स्थानीय इकाइयों को स्वायत्तता, भ्रष्टाचार की जांच के लिए लोकपाल, आप के अंदर आरटीआई के इस्तेमाल और मुख्य मामलों में गुप्त मतदान पर जोर दिया.

 

दिल्ली में सरकार बनने के लगभग 15 दिनों बाद से ही योगेंद्र व प्रशांत मीडिया के सामने पार्टी के कामकाज में पारदर्शिता न होने और आंतरिक लोकतंत्र के अभाव की बात दोहराते रहे थे.

 

हालांकि दोनों इस बात से इनकार करते रहे वे केजरीवाल को राष्ट्रीय संयोजक के पद पर नहीं देखना चाहते. कई हफ्तों बाद उन्होंने खुले तौर पर केजरीवाल की कार्यशैली पर उंगली उठानी शुरू कर दी.

 

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) के प्रोफेसर आनंद कुमार ने कहा कि वह पार्टी नहीं छोड़ेंगे. आनंद ने कहा, “हम पार्टी से बाहर नहीं हैं. हम न पार्टी छोड़ेंगे न तोड़ेंगे. यह कार्यकर्ताओं की पार्टी है.”

अन्ना ने ‘आप’ के झगड़े को अपनी समझ से बाहर बताया

भ्रष्टाचार विरोधी कार्यकर्ता अन्ना हजारे ने आज आम आदमी पार्टी में टकराव की स्थिति को पार्टी का आंतरिक मामला करार दिया और कहा कि वह पार्टी के आपस में लड़ रहे नेताओं को कोई सलाह देने की स्थिति में नहीं हैं.

 

आप की राष्ट्रीय कार्यकारिणी से असंतुष्ट नेताओं प्रशांत भूषण और योगेंद्र यादव को निकाले जाने के बारे में पूछे जाने पर हजारे ने कहा कि यह संगठन का आंतरिक मामला है.

 

हालांकि जब उनसे पूछा गया कि क्या वह पार्टी नेताओं को कोई सलाह देना चाहेंगे तो उन्होंने कहा, ‘‘यह मेरी सोच से बाहर की बात है.’’ हजारे अपने पैतृक गांव रालेगण सिद्धि में संवाददाताओं से बात कर रहे थे.

 

आज ही आम आदमी पार्टी से इस्तीफा देने वाली सामाजिक कार्यकर्ता मेधा पाटकर ने एक स्थानीय समाचार चैनल से कहा कि वह पार्टी के आंतरिक लोकपाल एल रामदास समेत कुछ सदस्यों को आज की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में प्रवेश से इनकार किये जाने से आहत हैं.

 

उन्होंने कहा, ‘‘अरविंद को बड़े दिल से सभी को साथ लेकर चलना चाहिए.’’

 

संबंधित खबरें-

आप नेताओं को नहीं दे सकते सलाह: हजारे 

अब आम आदमी पार्टी में आगे क्या होगा ? 

क्या केजरीवाल ने स्टिंग में जो कुछ कहा था, उसे वाकई कर दिखाया? 

यहां पढ़ें: 10 बिंदुओं में ‘आप’ का पूरा बवाल 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: New Delhi_AAP_ Yogendra Yadav_Prashant Bhushan_press conference
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसाः रेल मंत्री, सीएम योगी ने किया मृतकों के परिजानों की आर्थिक मदद का एलान
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसाः रेल मंत्री, सीएम योगी ने किया मृतकों के परिजानों की...

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुजफ्फरनगर में हुई ट्रेन दुर्घटना में मृत...

एबीपी न्यूज की खबर पर मुहर, रेलवे की लापरवाही से गई 23 लोगों की जान
एबीपी न्यूज की खबर पर मुहर, रेलवे की लापरवाही से गई 23 लोगों की जान

नई दिल्ली: यूपी के भीषण रेल हादसे में रेलवे की लापरवाही के कारण 23 लोगों की जान चली गई. एबीपी...

सीएम योगी ने बाढ़ग्रस्त इलाके का दौरा किया, प्रभावित लोगोे के बिजली बिल होंगे माफ
सीएम योगी ने बाढ़ग्रस्त इलाके का दौरा किया, प्रभावित लोगोे के बिजली बिल...

गोरखपुर/लखनऊ: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर और दूसरे पूर्वी इलाकों में बाढ़ की स्थिति भयावह बनी हुई...

मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा : हादसे से लेकर मुआवजे तक की 15 अहम जानकारियां...
मुजफ्फरनगर ट्रेन हादसा : हादसे से लेकर मुआवजे तक की 15 अहम जानकारियां...

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस दुर्घटनाग्रस्त...

लालू की रैली में शामिल होने पर छिन सकती है शरद यादव की राज्यसभा की सदस्यता!
लालू की रैली में शामिल होने पर छिन सकती है शरद यादव की राज्यसभा की सदस्यता!

पटना: शरद यादव के जेडीयू की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में भाग ना लेकर ‘जन अदालत कार्यक्रम’ का...

एबीपी न्यूज की दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज की दिनभर की बड़ी खबरें

1. यूपी के मुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है. मुजफ्फरनगर में खतौली के पास कलिंग-उत्कल...

गोरखपुर ट्रेजडी: मृतक बच्चों के परिजनों से मिले राहुल गांधी, बोले- यह सरकार की बनाई 'राष्ट्रीय त्रासदी'
गोरखपुर ट्रेजडी: मृतक बच्चों के परिजनों से मिले राहुल गांधी, बोले- यह सरकार...

गोरखपुर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में पिछले दिनों संदिग्ध...

पुराने अंदाज में दिखीं किरन बेदी, रात में स्कूटी पर सवार होकर लिया महिला सुरक्षा का जायजा
पुराने अंदाज में दिखीं किरन बेदी, रात में स्कूटी पर सवार होकर लिया महिला...

पुदुच्चेरी: पुदुच्चेरी की उप राज्यपाल किरन बेदी ने रात में भेष बदलकर केंद्र शासित प्रदेश में...

LIVE: मुजफ्फरनगर के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में 23 लोगों की मौत, 81 घायल
LIVE: मुजफ्फरनगर के पास कलिंग-उत्कल एक्सप्रेस ट्रेन हादसे में 23 लोगों की मौत, 81...

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा हुआ है. मुजफ्फरनगर में खतौली के पास...

गायों के 'सीरियल किलर' की एक और काली करतूत, 93 लाख के घोटाले का आरोप!
गायों के 'सीरियल किलर' की एक और काली करतूत, 93 लाख के घोटाले का आरोप!

नई दिल्ली: छत्तीसगढ़ में बीजेपी नेता हरीश वर्मा जो 200 से ज्यादा गायों को भूखा मारने के आरोप में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017