अमेरिका के प्रतिष्ठित अख़बार न्यू यॉर्क टाइम्स ने भारत विरोधी कार्टून पर मांगी माफी

By: | Last Updated: Monday, 6 October 2014 3:55 AM
new york times apologies for it’s mocking editorial cartoon on mangalyaan

नई दिल्ली: अमेरिका के सबसे प्रतिष्ठित अख़बरों में शुमार न्यू यॉर्क टाइम ने अपने उस कार्टून पर माफ़ी मांगी है जिसमें भारत के मंगलयान अभियान का मखौल बनाने की कोशिश की गई थी. अख़बार ने अपने फेसबुक वॉल पर लिखा है कि बहुत सारे पाठकों ने ‘न्यू यॉर्क टाइम्स इंटरनेशनल’ में छपे उस संपादकीय कार्टून की शिकायत की है जो भारत के अंतरिक्ष में बढ़ते मजबूत कदमों पर आधारिता था.

अख़बार ने आगे लिखा है कि कार्टूनिस्ट हेंग किम सांग जिन्होंने इसे बनाया था, वो इसके सहारे यह दिखाने कि कोशिश कर रहे थे कि अंतरिक्ष में संभावनाएं तलाशना अब सिर्फ अमीर, पश्चिमी देशों का विशेषाअधिकार नहीं है. अख़बार का कहना है कि कार्टूनिस्ट हेंग सिंगपुर के रहने वाले हैं और आंतराष्ट्रीय घटनाक्रमों पर अपनी राय व्यक्त करने के लिए वो अपने कार्टूनों में उत्तेजक तस्वीरों का इस्तेमाल करते हैं.

 

इसके बाद अंग्रेजी के इस अख़बार ने उन पाठकों से माफी मांगी है जो कार्टून में इस्तेमाल की गई तस्वीरों से नाराज हैं और बाद में सफाई देते हुए यह लिखा है कि कार्टूनिस्ट हेंग अपने कार्टून से किसी भी तरह से भारत, देश की सरकार या यहां के नागरिकों को खारिज नहीं करना चाहते थे.

 

दरअसल न्यू यॉर्क टाइम्स में एक कार्टून छपा था जिसमें मंगल पर पहले पहुंच चुके एलीट स्पेस क्लब के लोग अख़बार में भारत के पहले ही प्रयास में मंगल पर पहुंचने की ख़बर पढ़ रहे हैं और भारत का प्रतिनिधि उनके कमरे के बाहर गाय के साथ खड़े होकर दरवाजा खटखटा रहा है. पश्चिमी देशों भारत को लेकर एक नजरिया यह भी रहा है कि यह सपेरों का देश है और शायद यही बात पाठकों को बुरी लगी हो.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: new york times apologies for it’s mocking editorial cartoon on mangalyaan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017