मोदी पर नरम नीतीश, बोले- पीएम के साथ मिलकर काम करने को तैयार

By: | Last Updated: Sunday, 22 February 2015 6:25 AM
nitish kumar is ready to work with narendra modi

नई दिल्ली: आज शाम 5 बजे पटना के राजभवन में नीतीश कुमार चौथी बार बिहार के सीएम की शपथ लेंगे. शपथ लेने से पहले नीतीश कुमार ने एनडीटीवी में एक लेख लिखा है जिसमें कहा है कि बिहार की बेहतरी के लिए वो केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री के साथ तत्परता से काम करेंगे.

 

 

नीतीश ने लिखा है, ‘बिहार के लोगों की सेवा करने का जो अवसर मिला है, उसका आभारी हूं. देश में बिहार बड़ी संभावनाओं वाला राज्य है. विकसित भारत की कहानी विकसित बिहार के बिना संभव नहीं है. इसके लिए मैं काम करता रहा हूं और करता रहूंगा. किसी भी दूसरे राज्य को सुशासन और नीति निर्माण से उतना फायदा नहीं हो सकता, जितना बिहार को. केंद्र की जिम्मेदारी है कि देश में गैरबराबरी को नीति निर्माण के जरिए दूर करे. विशेष राज्य का दर्जा ऐसा ही नीतिगत कदम है.’

 

नीतीश ने आगे लिखा है, ‘ इस बार बिहार दूसरी हरित क्रांति में शामिल नहीं होगा बल्कि उसका नेतृत्व भी करेगा. मेरी हसरत एक ऐसा राज्य बनाने की है जहां मजबूती संस्थागत हो जाए. मैं यह कोशिश हमेशा-हमेशा जारी रखूंगा. मैं ऐसा राज्य बनाना चाहता हूं जो सकारात्मक भविष्य, जीवंत संस्कृति और टिकाऊ समरसता की दास्तान को भरोसे के साथ आगे ले जा सके, और ये हासिल करने में मैं बिहार के हक में भारत सरकार और मामनीय प्रधानमंत्री के साथ तत्परता से काम करूंगा.’

 

 

नीतीश-मोदी का झगड़ा क्या है?

नीतीश और नरेंद्र मोदी के विवाद की शुरुआत साल 2008 में हुई थी. नीतीश मोदी से दूरी इसलिए बनाकर रखना चाहते थे क्योंकि उन्हें बिहार में मुस्लिम वोटों की जरूरत थी. अपने पहले कार्यकाल में नीतीश ने मुस्लिम वोटरों पर मजबूत पकड़ बनानी शुरू कर दी थी. खासकर पिछड़े मुस्लिम समुदाय के नीतीश चहेते बन चुके थे. उन्हें लगता था कि अगर वो मोदी के साथ खड़े हुए तो फिर मुस्लिम वोटों का नुकसान होगा.

 

नतीजा हुआ कि 2008 में कोसी बाढ राहत में मोदी ने जो मदद की थी नीतीश से उसे लौटा दिया. 2009 में लुधियाना रैली की तस्वीर छपी तो नीतीश ने बीजेपी नेताओं का भोज रद्द कर दिया. 2009, 2010 में  बिहार में नरेंद्र मोदी को चुनाव प्रचार नहीं करने दिया. और जब 2013 में बीजेपी ने उन्हें अपना चेहरा बनाया तब सत्रह साल से चला आ रहा रिश्ता ही तोड़ लिया.

 

 

नीतीश का आज का कार्यक्रम

बिहार में नीतीश कुमार आज चौथी बार मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने वाले हैं. नीतीश कुमार के साथ करीब एक दर्जन मंत्रियों के शपथ लेने की उम्मीद की जा रही है. शाम 5 बजे राजभवन में शपथ ग्रहण का कार्यक्रम है.

 

लेकिन सबसे ज्यादा चर्चा इस बात की है कि क्या नीतीश कुमार के साथ आरजेडी और कांग्रेस के विधायक भी मंत्री पद की शपथ लेंगे . जेडीयू के जिन नेताओं के मंत्री बनने की चर्चा है उनमें विजय चौधरी, ललन सिंह, पीके शाही, विजेंद्र यादव , रमई राम, श्याम रजक के नाम प्रमुख हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: nitish kumar is ready to work with narendra modi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017