नीतीश और बीजेपी के साथ आने की चर्चा क्यों ?

By: | Last Updated: Thursday, 26 March 2015 11:07 AM
Nitish Kumar meets PM Narendra Modi

नई दिल्ली: नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री बनने के बाद पहली बार बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुलाकात की है . चर्चा बिहार के विकास को लेकर हुई है . करीब तीन साल पहले मोदी और नीतीश की किसी सरकारी कार्यक्रम में मुलाकात हुई थी . उसके बाद ये पहली मुलाकात हुई है.  लेकिन सवाल ये है कि क्या इस मुलाकात के पीछे कोई राजनीति चल रही है .

 

बिहार के विकास को लेकर सीएम नीतीश और पीएम मोदी की ये पहली मुलाकात हुई है . नीतीश ने बिहार की बदहाली पर पीएम से मदद मांगी है और उन्हें मोदी ने भरोसा भी दिया है .

 

नीतीश ने कहा कि योजनाओं को जो राशि दी गई है मिलना बंद हो गया. बात की है.. मिलना चाहिए. लोकसभा चुनाव में बीजेपी की जीत के बाद नीतीश ने मुख्यमंत्री की कुर्सी छोड़ दी थी . लेकिन वक्त का पहिया घूमा तो नीतीश एक बार फिर मुख्यमंत्री बन गये और बतौर मुख्यमंत्री बिहार के विकास के लिए उन्होंने पीएम से बात की है . वह भी ऐसे वक्त में जब नीतीश और बीजेपी के साथ आने की चर्चा हो रही है .

 

सूत्रों के मुताबिक आरएसएस ने पिछले दिनों बीजेपी नेताओं को साफ कहा था कि बिहार में नीतीश कुमार के साथ मिलकर चुनाव लड़ने की तैयारी करनी चाहिए . इस सवाल पर नीतीश चाहते तो मीडिया को सीधे सीधे मना कर सकते थे . लेकिन उन्होंने जिस अंदाज में जवाब दिया उसने साथ आने की चर्चाओं को हवा देने का काम किया है .

 

नीतीश-मोदी का झगड़ा क्या?

लोकसभा चुनाव से पहले मोदी के सवाल पर ही नीतीश और बीजेपी का सत्रह साल पुराना रिश्ता टूटा था . मोदी और नीतीश के बीच विवाद की शुरुआत 2008 में हुई थी . लेकिन 2009 के लोकसभा चुनाव के दौरान लुधियाना की रैली की ये तस्वीरें जब बिहार के अखबारों में छपी तो विवाद ने दुश्मनी का रूप ले लिया . राजनीतिक रूप से साथ रहते हुए भी नीतीश मोदी को बिल्कुल पसंद नहीं करते थे . लेकिन जब बीजेपी ने मोदी को पीएम का उम्मीदवार बना दिया तो नीतीश ने नाता ही तोड़ लिया . लोकसभा की लड़ाई में मोदी पास हुए और नीतीश फेल . लेकिन इस बार बिहार में नीतीश का सब कुछ दांव पर है .

 

नीतीश और बीजेपी के साथ आने की चर्चा क्यों ?

 

नीतीश और बीजेपी के साथ आने की चर्चा इसलिए भी हो रही है क्योंकि मांझी प्रकरण ने नीतीश के महादलति वोट बैंक को बिगाड़ दिया है . बिहार में महादलित वोट करीब 16 फीसदी है और मुस्लिम वोट भी इतना ही है . और सवर्ण 15 फीसदी हैं .

 

बीजेपी से हाथ मिलाकर नीतीश महादलित और सवर्ण वोट बैंक अपनी झोली में कर सकते हैं . लेकिन इसके लिए उन्हें 16 फीसदी मुस्लिम वोटबैंक से हाथ धोना पड़ सकता है . वैसे भी मुस्लिम वोट बैंक में लालू का भी हिस्सा है . जहां तक 51 फीसदी पिछड़े वोट बैंक का सवाल है तो उसमें लालू, नीतीश, बीजेपी का भी बराबर बराबर का हिस्सा है . और लालू इन दिनों नीतीश को छोड़कर अकेले ही बिहार भ्रमण कर रहे हैं .

 

मोतिहारी में जिस अंदाज में लालू ने नीतीश सरकार को लेकर बयान दिया है उससे भी लालू -नीतीश की दूरी साफ दिख रही है . जनता परिवार के विलय का मुद्दा भी फंसा हुआ है . तो क्या वाकई में नीतीश बिहार का किला बचाने के लिए फिर से बीजेपी के साथ जाएंगे .

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Nitish Kumar meets PM Narendra Modi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

चुनाव आयुक्त ओपी रावत बोले, आज हर हाल में चुनाव जीतने का चलन है
चुनाव आयुक्त ओपी रावत बोले, आज हर हाल में चुनाव जीतने का चलन है

नई दिल्ली: गुजरात में हुए राज्यसभा चुनाव के राजनीतिक ड्रामे के करीब दस दिन बाद चुनाव आयुक्त ओपी...

भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया
भारत को मिला जापान का साथ, डोकलाम में सेना की तैनाती को सही ठहराया

नई दिल्ली: डोकलाम को लेकर चीन से तनातनी के बीच भारत को जापान का समर्थन मिला है. जापान ने डोकलाम...

2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा
2015 से पहले के तेजाब हमला पीड़ितों को मिल सकता है मुआवजा

नई दिल्ली: दिल्ली की आप सरकार तेजाब हमलों के उन मामलों पर विचार करेगी, जो सरकार की 2015 में...

बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने  बच्चे को जन्म दिया
बलात्कार पीड़ित 10 साल की लड़की ने बच्चे को जन्म दिया

चंडीगढ़: बलात्कार पीड़ित एक 10 साल की लड़की ने कल अस्पताल में एक बच्चे को जन्म दिया. लड़की के...

‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां
‘साझी विरासत’ को बचाने के लिए एकजुट होकर लड़ेंगी विपक्षी पार्टियां

नई दिल्ली:  लगभग एक दर्जन से ज्यादा विपक्षी पार्टियों ने कल एक मंच पर आकर आरएसएस पर तीखा हमला...

गोरखपुर ट्रेजडी: बच्चों की मौत के मामले पर इलाहाबाद HC में आज सुनवाई
गोरखपुर ट्रेजडी: बच्चों की मौत के मामले पर इलाहाबाद HC में आज सुनवाई

इलाहाबाद: गोरखपुर के बीआरडी मेडिकल कॉलेज में बच्चों की मौत के मामले की न्यायिक जांच की मांग को...

गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद
गुजरात में स्वाइन फ्लू से अबतक 230 की मौत, राज्य ने केंद्र से मांगी मदद

अहमदाबाद: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य में स्वाइन फ्लू की स्थिति के बारे में...

मनमोहन वैद्य का राहुल को जवाब, कहा- 'RSS क्या देश के बारे में नहीं जानते कुछ'
मनमोहन वैद्य का राहुल को जवाब, कहा- 'RSS क्या देश के बारे में नहीं जानते कुछ'

नागपुर: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के नेता मनमोहन वैद्य ने कहा है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल...

गोरखपुर ट्रेजडी: जारी है बच्चों की मौत का सिलसिला, गुरुवार को 8 की मौत
गोरखपुर ट्रेजडी: जारी है बच्चों की मौत का सिलसिला, गुरुवार को 8 की मौत

गोरखपुर: उत्तर प्रदेश के गोरखपुर में बाबा राघव दास मेडिकल कालेज में बच्चों की मौत का सिलसिला...

मुरथल रेप केस: हाईकोर्ट ने SIT को एक महीने में जांच पूरी करने को कहा
मुरथल रेप केस: हाईकोर्ट ने SIT को एक महीने में जांच पूरी करने को कहा

चंडीगढ़: पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने साल 2016 के जाट आंदोलन के दौरान सोनीपत के निकट मुरथल में...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017