तीसरे कार्यकाल के लिये 20 नवंबर को शपथ लेंगे नीतीश कुमार

By: | Last Updated: Saturday, 14 November 2015 3:25 PM
Nitish Kumar to take oath 20 november

पटना : बिहार में राजद प्रमुख लालू प्रसाद के साथ मिलकर भाजपा नीत राजग के खिलाफ महागठबंधन को दो तिहायी बहुमत से जीत दिलाने वाले नीतीश कुमार राज्य के मुख्यमंत्री के रूप में अपने तीसरे कार्यकाल के लिए 20 नवम्बर को अपने मंत्रिमंडल के साथ शपथ ग्रहण करेंगे.

नीतीश कुमार को आज महागठबंधन के विधायक दल का नेता चुन लिया गया जिससे उनके मुख्यमंत्री बनने का मार्ग प्रशस्त हो गया. उन्होंने राज्यपाल रामनाथ कोविंद से मुलाकात करने के बाद राजभवन के बाहर संवाददाताओं से कहा कि वह मुख्यमंत्री के तौर पर 20 नवम्बर को दोपहर दो बजे यहां गांधी मैदान में शपथ ग्रहण करेंगे.

 

उन्होंने राज्यपाल के साथ 45 मिनट की बैठक के बाद राजभवन से बाहर निकलते हुए कहा कि महागठबंधन की तीनों पार्टियां जदयू, राजद और कांग्रेस उनके नयी कैबिनेट का हिस्सा होंगी.

 

संवाददाताओं के इस सवाल पर कि 20 नवम्बर को उनके साथ कितने मंत्री शपथ लेंगे, कुमार ने कहा कि बिहार के लिए अधिकतम सीमा 36 निर्धारित की गई है.

 

यह पूछे जाने पर कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी को शपथ ग्रहण समारोह के लिए निमंत्रित किया जाएगा, कुमार ने कहा कि इन मामलों का ‘‘निर्णय उचित समय पर किया जाएगा और मीडिया को सूचित किया जाएगा.’’ कुमार को इससे पहले महागठबंधन की बैठक में महागठबंधन के विधायक दल का नेता चुन लिया गया और उन्होंने बाद में सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए राज्यपाल से मुलाकात की.

 

राज्यपाल से मुलाकात करने के लिए कुमार के साथ लालू प्रसाद, जदयू अध्यक्ष शरद यादव, कांग्रेस महासचिव सी पी जोशी, जदयू महासचिव के सी त्यागी और जदयू, राजद और कांग्रेस के बिहार प्रदेश अध्यक्ष क्रमश: वशिष्ठ नारायण सिंह, रामचंद्र पुर्वे और अशोक चौधरी भी गए.

 

इससे पूर्व जदयू, राजद और कांग्रेस विधायक दल की बैठक की अध्यक्षता जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने की और नीतीश के नाम का प्रस्ताव राबडी देवी ने रखा जिसका समर्थन सी पी जोशी ने किया और इस प्रकार सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित हुआ. उन्होंने कहा कि बैठक के दौरान सभी नेताओं ने अपने-अपने विचार व्यक्त किए. हम लोगों ने चुनाव के दौरान एकजुटता दिखायी है उसी तरह से एकजुट होकर सरकार चलाएंगे और जो लोगों की अपेक्षाएं हैं उस पर खडा उतरने की अपनी क्षमता भर पूरी कोशिश करेंगे. बिहार में कानून का राज है और कानून का राज चलेगा और हम न्याय के साथ विकास के मार्ग पर हैं. महागठबंधन ने अपना साझा कार्यक्रम भी घोषित किया है. हम उस साझा कार्यक्रय पर अमल करेंगे जिसमें हमारे सात निश्चय भी हैं.

 

नीतीश ने प्रदेश की जनता को भरोसा दिलाया कि इन चीजों पर अमल होगा और परस्पर सहयोग और विश्वास के साथ हमलोग एकजुट होकर काम करेंगे. तीनों दल के लोग मंत्रिमंडल में शामिल रहेंगे और पूरी बुलंदी के साथ जनता की जो अपेक्षा है और जो उम्मीद है..यह कोई मामूली बात नहीं है कि बिहार की जनता ने जो निर्णायक और ठोस बहुमत और जनादेश दिया है वह काम करने के लिए है. जो विकास का नजरिया हम लोगों का है उस पर बिहार की जनता ने अपनी सहमति प्रकट की है. इसलिए हम उसका काम को हम आगे बढाएंगे और सब लोगों तथा बिहार की जनता को आश्वस्त कराना चाहेंगे कि बिहार विकास के रास्ते पर चलेगा तथा सद्भाव एवं भाईचारे के माहौल को कायम रखा जाएगा. कानून का राज चलेगा और मिल-जुलकर हमलोग समाज के हर तबके के कल्याण और विकास के लिए बिना किसी भेदभाव के काम करेंगे.

स्पीकर की पोस्ट के लिए कांग्रेस की लॉबिंग, पार्टी के ये 5 विधायक बन सकते हैं मंत्री!

 

बिहार चुनाव परिणाम के बाद नीतीश ने कहा- हर क्रिया की प्रतिक्रिया होती है

 

जीत की खुशी में बौरा जाना मेरा स्वभाव नहीं: नीतीश

 

20 नवंबर को नीतीश लेंगे शपथ: सूत्र

 

क्या अपना सबसे बड़ा वादा पूरा कर पाएंगे नीतीश कुमार?

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Nitish Kumar to take oath 20 november
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017