मकर संक्रान्ति के मौके पर पटना में दही चूड़ा के भोज में बुखार की वजह से नहीं आएंगे नीतीश कुमार

By: | Last Updated: Wednesday, 14 January 2015 5:37 AM

नई दिल्ली: मकर संक्राति के मौके पर पटना में राजनीतिक दही चूड़ा के भोज का आयोजन हुआ है. इस आयोजन में लालू यादव, नीतीश कुमार, शरद यादव, जीतनराम मांझी समेत बिहार के कई नेताओँ के आने की उम्मीद थी. लेकिन नीतीश कुमार बुखार की वजह से नहीं आएंगे. आज लालू और नीतीश की पार्टी के विलय पर भी चर्चा होनी थी.

 

इस साल 2015 में बिहार में चुनाव भी होने हैं और मकर संक्रांति के मौके पर प्रदेश में सियासी हलचल भी तेज है. जेडीयू की ओर से आज न्यू पटना क्लब में दही-चूड़ा भोज का आयोजन किया गया है. इस भोज में जेडीयू राष्ट्रीय अध्यक्ष शरद यादव, पूर्व सीएम नीतीश कुमार, प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह, महासचिव केसी त्यागी,  आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद जैसे बड़े नेताओं के शामिल होने की उम्मीद थी. आज ही लालू-राबड़ी के 10, सकरुलर रोड स्थित सरकारी आवास पर भी दही-चूड़ा भोज का आयोजन किया गया है. इसमें शरद और नीतीश समेत जेडीयू के सभी प्रमुख नेता शामिल होंगे.

 

इस भोज में लालू की पार्टी आरजेडी और जेडीयू के विलय पर भी चर्चा होनी थी लेकिन अब नीतीश कुमार के आने की खबर से दोनों पार्टियों के आज विलय पर भी प्रश्न लग गया है.

 

15 को सुशील मोदी के आवास पर है भोज

बीजेपी के वरिष्ठ नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी के आवास पर गुरुवार को दही-चूड़ा भोज का आयोजन किया गया है. इसमें पार्टी के सभी नेता और सहयोगी दलों के नेताओं को भी आमंत्रित किया गया है.

 

गौरतलब है कि जेडीयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा, “झारखंड में आए चुनाव परिणाम के बाद बीजेपी के विजय रथ को रोकने के लिए अगले साल होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव के पहले छह पार्टियों का जनवरी में विलय हो जाएगा.”

 

वहीं आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद ने कहा था कि वह और नीतीश कुमार देशभर में गैर बीजेपी दलों को एकजुट होने का मजबूत संदेश देना चाहते हैं, ताकि देश की ‘सर्वधर्म समभाव’ वाली छवि कायम रह पाए. दुनिया में भारत की प्रतिष्ठा सभी धर्मो को साथ लेकर चलने की है. मौजूदा समय में देश की छवि धर्मांतरण और दंगों वाले देश के रूप में बन रही है, जो चिंता का विषय है.

 

संबंधित खबरें-

नीतीश के मुख्यमंत्री और लालू की बेटी मीसा के उप मुख्यमंत्री बनने की अटकलें 

बीजेपी को रोकने के लिए जनता दल परिवार की 6 पार्टियों का होगा विलय! 

झारखंड में ‘जनता परिवार’ का सूपड़ा साफ 

मोदी सरकार के खिलाफ साझा मोर्चा बनाएगा पुराना जनता दल परिवार, मुलायम के घर जुटेंगे लालू, शरद, नीतीश और देवगौड़ा 

राजद-जद (यू) विलय मुद्दे पर जद (यू) नेता आमने-सामने

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: nitish_not_to_attend_dahi_chura_feast
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017