अपनी इन ताकतों की वजह से दुनिया के लिए संकट बन गया है 'सनकी तानाशाह'!

अपनी इन ताकतों की वजह से दुनिया के लिए संकट बन गया है 'सनकी तानाशाह'!

उत्तर कोरिया ने कहा है कि जापान की मौजूदगी हमें नहीं चाहिए. परमाणु बम से हमला कर उसके चार द्वीपों को समंदर में डुबो देंगे.

By: | Updated: 15 Sep 2017 08:26 PM
नई दिल्ली: उत्तर कोरिया ने एक और मिसाइल टेस्ट कर दुनिया भर में फिर से तनाव बढ़ा दिया है. तनाव की गंभीरता इतनी ज्यादा है कि आज रात संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने बैठक बुलायी है, जिसमें उत्तर कोरिया की इस हिमाकत पर चर्चा की जाएगी. संयुक्त राष्ट्र पहले ही कड़े प्रतिबंध उत्तर कोरिया पर लगा चुका है लेकिन बावजूद इसके उसने जापान के ऊपर से मिसाइल टेस्ट किया. जापान इसे युद्ध के लिए उकसाने वाला कदम बता रहा है.

उत्तर कोरिया ने सारी चेतावनियों को नजरअंदाज करते हुए फिर से मिसाइल टेस्ट किया है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के बेहद कड़े प्रतिबंध के बाद उत्तर कोरिया ने मिसाइल टेस्ट किया है. मिसाइल जापान के ऊपर से होते हुए प्रशांत महासागर में जाकर गिरी. मिसाइल जमीन से 770 किमी ऊपर से होते हुए गई. मिसाइल ने 3 हजार 700 किमी की दूरी तय की. एक महीने में दूसरी बार उत्तर कोरिया ने जापान के ऊपर से मिसाइल फायर की है.

दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने कहा कि उत्तर कोरिया ने फिर मिसाइल छोड़ी है. अंतरराष्ट्रीय समुदाय की चेतावनियों और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रतिबंधों के बावजूद उसने ऐसा किया. इस क्षेत्र की शांति के लिए उत्तर कोरिया गंभीर खतरा बन गया है. उत्तर कोरिया की हिमाकत के बाद तनाव फिर बढ़ गया है. जापान ने इसे युद्ध को उकसाने वाला कदम बताया है.

जापान के पीएम शिंजो आबे ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इस पर एक साथ आना चाहिए और उत्तर कोरिया को साफ संदेश देना चाहिए कि उसकी उकसाने वाली कार्रवाई दुनिया की शांति के लिए खतरा है. जापान अपने लोगों की सुरक्षा के लिए हर मुमकिन कदम उठाएगा. लेकिन बेरपवाह उत्तर कोरिया ने मिसाइल टेस्ट के बाद सीधे जापान पर हमला करने की धमकी भी दे डाली है.

उत्तर कोरिया ने कहा है कि जापान की मौजूदगी हमें नहीं चाहिए. परमाणु बम से हमला कर उसके चार द्वीपों को समंदर में डुबो देंगे. उत्तर कोरिया के मिसाइल टेस्ट और धमकी के बीच दक्षिण कोरिया ने भी मिसाइल फायर कर संकेत दिया है कि वो भी पूरी तरह तैयार है. उधर अमेरिकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने कहा है कि वो जल्दी इस पर कार्रवाई करेंगे. ट्रंप ने कहा कि मुझे लगता है कि बहुत सारी कोशिशें इसमें की जा रही हैं. हम देख रहे हैं कि क्या हो रहा है, मेरा मतलब है कि जैसा कि हम बोलते हैं, हम इसे देख रहे हैं, आप देखेंगे कि हम क्या करेंगे?

ज़ाहिर है इस वक्त उत्तर कोरिया को लेकर तनाव बहुत ज्यादा है क्योंकि किम जोंग उन ना सिर्फ एक के बाद एक मिसाइल टेस्ट किए जा रहा है बल्कि दक्षिण कोरिया, अमेरिका, और जापान को मिटाने की धमकी भी दे रहा है.

उत्तर कोरिया की ताकत

उत्तर कोरिया से दुनिया के लिए संकट की दो वजहें हैं, पहली ये कि उसकी बागडोर एक सनकी तानाशाह के पास है और दूसरी उसके पास परमाणु बमों से लैस मिसाइलें हैं.

मिसाइलों की ताकत

हुआसोंग 10 - 4 हजार किमी
हुआसोंग 12 - 6 हजार किमी
हुआसोंग 13 - 12 हजार किमी
हुआसोंग 14 - 10 हजार किमी
परमाणु बम - 30-60
जवान - 9.45 लाख
टैंक - 5050
तोप - 6550
विमान - 950
पनडुब्बी - 76

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story घोटाले के बाद नीरव मोदी का पहला बयान, कहा- पीएनबी का बकाया नहीं चुका सकते