बिहार: आंधी से 32 लोगों की मौत, हालात देखने जाएंगे नीतीश कुमार

By: | Last Updated: Wednesday, 22 April 2015 8:48 AM

पटना: बिहार के कई जिलों में बीती रात आए तूफान से 32 लोगों की मौत हो गई और 80 से अधिक गंभीर रूप से घायल हो गए. तूफान से कई मकान नष्ट हो गए और फसल को भी नुकसान पहुंचा.

 

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार खुद तबाही का जायजा लेने जाएंगे. विधानसभा में उन्होंने मृतकों के परिवारों को 4-4 मुआवजे का एलान किया है.

 

बिहार आपदा प्रबंधन विभाग के मुख्य सचिव व्यासजी ने आज यहां बताया कि पूर्णिया जिले में सर्वाधिक 25 लोगों की मौत होने की खबर है. मधेपुरा में तूफान से छह व्यक्तियों की जान गई जबकि एक व्यक्ति की मौत मधुबनी में हुई.

 

बिहार के पूर्णिया, मधेपुरा, सहरसा, मधुबनी, समस्तीपुर और दरभंगा में आए भीषण तूफान की वजह से हजारों पेड़ उखड़ गए, बिजली की लाइनें क्षतिग्रस्त हो गईं, हजारों मकान और झोपड़े नष्ट हो गए तथा मक्का, गेहूं और दालों की खड़ी फसलों को नुकसान पहुंचा.

 

व्यासजी ने बताया कि जिलों में सड़क परिवहन भी प्रभावित हुआ क्योंकि तूफान की वजह से कई पेड़ उखड़ कर सड़कों पर गिर गए. पटना में भारतीय मौसम विभाग के निदेशक आर के गिरी ने बताया कि तूफान के दौरान हवाओं की गति करीब 65 किमी प्रति घंटा थी.

 

गिरी ने बताया कि नेपाल की ओर से आए इस तूफान का कहर पूर्णिया, सीतामढ़ी, दरभंगा से लेकर भागलपुर तक टूटा. ‘‘हमारे रडार का आंकड़ा बताता है कि हवाओं की गति करीब 65 किमी प्रति घंटा थी.’’ उन्होंने बताया कि इस मौसम में अक्सर ऐसे तूफान आते हैं और इन्हें ‘काल बैसाखी’ कहा जाता है.

 

राज्य सरकार ने तूफान में मारे गए प्रत्येक व्यक्ति के परिवार वालों को चार लाख रूपये की क्षतिपूर्ति देने का ऐलान किया है. यह राशि आपदा प्रबंधन कोष से दी जाएगी.

 

व्यासजी ने बताया कि प्रभावित जिलों में प्रशासन स्थिति का जायजा ले रहा है और नुकसान का आकलन कर रहा है.

 

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार स्थिति का जायजा लेने तथा नुकसान का आकलन करने के लिए प्रभावित इलाकों का हवाई सर्वे करेंगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Nor’wester claims 32, injures over 80 in Bihar
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017