लगातार दूसरे महीने घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 1 करोड़ के पार | Number of domestic air passengers crossed 10 million for the second consecutive month

लगातार दूसरे महीने घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 1 करोड़ के पार

आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर महीने के दौरान घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 104.89 लाख रही. खास बात ये रही कि इस दौरान विमानों पर औसतन 80 फीसदी से ज्यादा सीटें भरी रहीं.

By: | Updated: 19 Dec 2017 09:02 PM
Number of domestic air passengers crossed 10 million for the second consecutive month

नई दिल्ली: लगातार दूसरे महीने नवंबर के दौरान घरेलू एयरलाइन कंपनियों ने एक करोड़ से ज्यादा हवाई यात्रियों को एक जगह से दूसरे जगह तक पहुंचाया. विमानन बाजार की नियामक संस्था नागर विमानन महानिदेशालय यानी डीजीसीए की की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या नवंबर के दौरान हवाई यात्रियों की संख्या में सालाना आधार पर करीब 17 फीसदी की बढ़ोतरी हुई.


आंकड़ों के मुताबिक, नवंबर महीने के दौरान घरेलू हवाई यात्रियों की संख्या 104.89 लाख रही. खास बात ये रही कि इस दौरान विमानों पर औसतन 80 फीसदी से ज्यादा सीटें भरी रहीं. वैसे तो बाजार हिस्सेदारी के मामले में इंडिगो अब भी पहले स्थान पर है, लेकिन समय पर उड़ान भरने के मामले में स्पाइसजेट ने बाजी मार ली है. समय पर उड़ान भरने के मामले में सबसे बुरा प्रदर्शन जेट एयरवेज का रहा.


बाजार हिस्सेदारी की बात करें तो इंडिगो की बाजार हिस्सेदारी करीब 39.4 फीसदी रही यानी औसतन हर पांच में से दो हवाई यात्री ने इंडिगो पर ही सफर किया. 17.5 फीसदी बाजार हिस्सेदारी के साथ जेट एयरवेज दूसरे और 13.6 फीसदी के साथ एयर इंडिया तीसरे स्थान पर रही. ध्यान रहे कि इस समय घरेलू रास्तों पर इंडिगो, जेट एय़रवेज (जेट लाइट के साथ) और एयर इंडिया के अलावा स्पाइसजेट, गो, विस्तारा और एयर एशिया मुख्य रुप से उड़ानें मुहैया कराती हैं.


समय पर उड़ान की बात करें तो चार महानगरों (दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद और बैंगलुरू) के प्रदर्शन के आधार पर स्पाइसजेट करीब 82 फीसदी के साथ सबसे आगे रही. यानी स्पाइसेजट के औसतन पांच में से चार उड़ानें समय पर रवाना हुईं. स्पाइसेजट के नाम एक और रिकॉर्ड सबसे ज्यादा सीटों के साथ उड़ान भरने की रही. एयरलान की उड़ानों पर 95 फीसदी से भी ज्याद सीटें भरी रहीं. कंपनी का दावा है कि इतनी ज्यादा सीटों का भरा रहना एक रिकॉर्ड है और उड़ान में सबसे ज्यादा सीटें भरे रहने का ये लगातार 32वां महीना था.


समय पर उड़ान भरने के मामले में इंडिगो दूसरे औऱ एयर इंडिया तीसरे स्थान पर रही. वहीं जेट एयरवेज की महज 54 फीसदी उड़ानें ही समय पर रवाना हो सकीं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Number of domestic air passengers crossed 10 million for the second consecutive month
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें