ओबामा के भारत दौरे पर हो सकते हैं कई अहम समझौते, 60 हजार करोड़ का मौजूदा कारोबार पहुंच सकता है 300 हजार करोड़ तक

By: | Last Updated: Tuesday, 20 January 2015 4:35 AM

नई दिल्ली: गणतंत्र दिवस के मौके पर बराक ओबामा भारत के मेहमान बनने जा रहे हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा को मोदी का न्योता दरअसल एक बड़ा कूटनीतिक कदम माना जा रहा है. ओबामा तीन दिन तक भारत में रहेंगे और इस दौरान कई ऐसे समझौते हो सकते हैं जो दोनो देशों के बीच 60 हजार करोड़ के मौजूदा कारोबार को 300 हजार करोड़ तक पहुंचा सकता है.

 

 

सितंबर, 2014- पहली मुलाकात

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमेरिका दौरे पर बराक ओबामा से मिले.

 

नवंबर, 2014- दूसरी मुलाकात

म्यांमार में हुई ईस्ट एशिया में मोदी और ओबामा एक बार साथ थे.

 

नवंबर, 2014- तीसरी मुलाकात

 

ऑस्ट्रेलिया के ब्रिसबेन में हुई G-20 समिट में भी मोदी और ओबामा दोनों मौजूद थे.

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सात महीने के कार्यकाल में अब चौथी बार नरेंद्र मोदी और बराक ओबामा के बीच मुलाकात होने जा रही है. इस बार मोदी ने गणतंत्र दिवस पर बराक ओबामा को देश का मेहमान बना लिया है. अब निगाहें इस बात पर टिकी हैं ओबामा का इंडिया प्लान क्या है? ये बताने से पहले आपको बताते हैं कि अब तक अमेरिकी राष्ट्रपति के दौरे में क्या क्या चीजें शामिल हैं

 

साल 2010 में जब पहली बार बराक ओबामा भारत के मेहमान बने थे तब उनके भारत दौरे की पूरी योजना नौ दिन पहले ही सार्वजनिक कर दी गई थी लेकिन इस बार सुरक्षा कारणों से ओबामा के भारत दौरे की पूरी योजना अब तक सार्वजनिक नहीं की गई है. लेकिन ये साफ हो चुका है कि ओबामा तीन दिन के दौरे पर भारत आ रहे हैं और ये दौरा शुरू होगा 25 जनवरी से.

 

 

25 जनवरी- बराक ओबामा का कार्यक्रम

 

बराक ओबामा अपने एयरफोर्स वन विमान से 25 जनवरी को भारत पहुंचेगे. किसी किले की तरह अभेद माना जाने वाला ये विमान अमेरिकी राष्ट्रपति को दिल्ली के इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचेगा.

 

दिल्ली के अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से प्रधानमंत्री बराक ओबामा दिल्ली के पांच सितारा होटल आईटीसी मौर्या पहुंचेंगे. इस होटल की तीन मंजिलों को खाली करवा लिया गया है और अमेरिकी सुरक्षा एजेंसियों ने यहां अपना कंट्रोल रूम भी बनाना शुरू कर दिया है.

 

समय का खुलासा नहीं किया गया है लेकिन मोदी और ओबामा के बीच शिखर वार्ता की तारीख तय हुई है 25 जनवरी. ये वो अहम मौका होगा जब दोनों देशों के बीच कारोबार, कूटनीति और साझेदारी को लेकर अहम बातचीत होगी. ओबामा दौरे का ये सबसे अहम कार्यक्रम होगा. दोनों नेताओं के बीच इस बातचीत का एजेंडा भी बताएंगे लेकिन इससे पहले अमेरिकी राष्ट्रपति के बाकी दो दिनों का कार्यक्रम

 

दोनों देशों के बीच कारोबार बढ़ाना अमेरिका के लिए भी जरूरी है और भारत के लिए भी. इस दौरे में मोदी और बराक ओबामा दोनों को इंडो-यूस सीईओ फोरम और यूएस इंडिया कौंसिल को भी संबोधित करना है. कार्यक्रम तय है लेकिन समय और तारीख को लेकर अभी आखिरी फैसला सामने नहीं आया है.

 

26 जनवरी- बराक ओबामा का कार्यक्रम

 

बराक ओबामा का गणतंत्र दिवस पर पहले अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर शामिल होना दुनिया भर में चर्चा की वजह बना हुआ है. गणतंत्र दिवस की परेड के वक्त राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी के साथ बराक ओबामा भी मौजूद रहेंगे. इसे देखते हुए इस बार झांकियों की संख्या 20 से बढ़ाकर 25 कर दी गई है. समारोह को देखने के लिए 10 हजार सीटें भी बढ़ा दी गई हैं और परेड का समय भी बढ़ सकता है.

 

इस बार बराक ओबामा के सामने 18 लड़ाकू विमान और 10 हेलिकॉप्टर हिस्सा लेंगे. हवाई करतबों का दायरा जमीन से 60 मीटर से लेकर 300 मीटर की ऊंचाई तक होगा. इसमें नौसेना का पहला सुपरसोनिक MIG 29 K तो होगा ही साथ ही अमेरिका से खरीदे गए C-130 J सुपर हरक्यूलिस, C-17  ग्लोबमास्टर-3 और पोजेडियॉन-8 आई भी शामिल होंगे.

 

राजपथ पर ओबामा के सुरक्षा इंतजामों को आखिरी रूप दिया जा रहा है. ये तय हो चुका है कि राजपथ पर बराक ओबामा और प्रणव मुखर्जी के मंच के सामने एक बुलेटप्रूफ कांच की दीवार लगाई जा रही है. इसके अलावा हवाई खतरे पर नजर रखने के लिए रडार और 23 एजेंसियों का साझा कंट्रोल रूम भी बनाया जा रहा है.

 

खबरें हैं कि अब ओबामा बीस्ट नाम से मशहूर अपनी 8 टन और 18 फीट लंबी कैडिलक कार में ही राजपथ पहुंचेंगे. वजह ये है कि इस कार में ओबामा के ब्लड ग्रुप का खून भी रखा जाता है. इसके टायर में स्टील की प्लेट लगी है जिसकी वजह से पंचर नहीं होते. यही नहीं पूरी कार हथियारों और नाइट विजन कैमरा से भी लैस है.

 

27 जनवरी- बराक ओबामा का कार्यक्रम

 

ये तस्वीरे हैं आगरा की जहां बराक ओबामा और उनकी पत्नी मिशेल ओबामा ताजमहल के दीदार करने 27 जनवरी यानी दौरे के आखिरी दिन पहुंचेंगे. इसे देखते हुए ताज महल के पास बहने वाली यमुना नदी में अभी से पेट्रोलिंग शुरू कर दी गई है. 27 जनवरी को ताजमहल और आसपास के इलाके को पूरी तरह खाली भी करवा लिया जाएगा. सुरक्षा के मददेनजर दुकानों होटलों और रेस्त्रां की जांच भी शुरू हो चुकी है.

 

पहले आई जानकारी के मुताबिक बराक ओबामा को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने चुनाव क्षेत्र वाराणसी भी दिखाना चाहते थे. ये तस्वीरे हैं अमेरिकी राजदूत कैथलीन स्टीफेंस की जब 26 दिसंबर को वो सुरक्षा का जायजा लेने वाराणसी पहुंची थीं. सुरक्षा के लिहाज से जरूरी था कि दशाश्वमेध घाट को पूरी तरह सील किया जाए जो कि मुमकिन नहीं था. यही नहीं ये भी कहा गया कि वाराणसी के करीब बाबतपुर एयरपोर्ट पर ओबामा के विमान एयरफोर्स वन को उतारने की सहूलियत भी नहीं है. ऐसे में ओबामा के भारत दौरे की योजना से वाराणसी का नाम हटा दिया गया.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: obama_india_visit
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र
यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 7574 किसानों को कर्जमाफी का प्रमाणपत्र दिया गया. इसके बाद 5...

सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की मंजूरी
सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की...

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया. मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए...

क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?
क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक विदेशी महिला की चर्चा चल रही है.  वायरल वीडियों...

भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश
भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

पटना/भागलपुर: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से पैसे की अवैध...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017