500 करोड़ की हेराफेरी करने वाले से राहुल-सोनिया की कंपनी ने लिया था एक करोड़ रूपये का लोन!

By: | Last Updated: Wednesday, 21 October 2015 3:51 PM
OperationYoungIndian : rahul gandhi and sonia gandhi’s company got loan

नई दिल्ली: सोनिया और राहुल गांधी की कंपनी को एक करोड़ का लोन देने वाली डोटेक्स कंपनी के पीछे जो शख्स है उसका नाम है उदय शंकर महावर. उदय महावर एक नहीं करीब 200 कंपनियों का मालिक है. आयकर विभाग के दस्तावेज मुताबिक उदय महावर कंपनी खरीदने बेचने के धंधे में 500 करोड़ की हेराफेरी कर चुका है. कंपनी को बेचने वालों ने अपने बयान में कहा है कि काले धन को सफेद बनाने के एवज में इन्हें डेढ़ फीसदी कमीशन मिला था. पूरा खुलासा यहां पढ़ें

 

ऑपरेशन यंग इंडियन: राहुल-सोनिया की कंपनी को कालाधन सफेद करने वाली कंपनी ने दिया था लोन! 

 

ये है डोटेक्स कंपनी के मालिक उदय महावर. वो ही डोटेक्स कंपनी जिसने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके बेटे राहुल गांधी को एक करोड़ का लोन दिया था.

कोलकाता के आयकर विभाग को पता चला कि कोलकाता के साल्ट लेक में रहने वाले उदय शंकर महावर के पास लगभग करीब दो सौ कंपनियां है और उदय महावर कंपनी खरीदने और बेचने का काम करता है साथ ही उदय महावर की कंपनियों में काला धन भी जमा कराया जाता है.

 

आयकर विभाग कोलकाता ने एक सूचना के आधार पर उदय शंकर महावर की कंपनियो का सर्वे शुरू किया जैसे-जैसे जांच आगे बढी रहस्यों की परत दर परत खुलनी शुरू हो गई औऱ फिर इसी जांच के दौरान आय़ा डोटेक्स मर्चेन्टाइज का नाम.

 

आयकर विभाग की टीम ने अपने सर्वे के दौरान उदय शंकर महावर के घर से कई दस्तावेज अपने कब्जे में लिए इन दस्तावेजों की पड़ताल में पता चला कि उदय शंकर महावर की डोटेक्स मर्जेन्टाइज पहले किसी और के पास थी जिसे एक ब्रोकर के जरिए उदय महावर ने खरीदा था.

 

जब आयकर विभाग ने उदय से पूछा कि वो इन 200 कंपनियों का धंधा कैसे करता था तो उसने बताया कि कुछ कंपनियां मैंने मार्केट से खरीदी थी और इन कंपनियों को मैं बोगस शेयर कैपिटल रेज कर के बेच देता था. मैं इन कंपनियो में नकद पैसे जमा कराता था जिससे उसकी शेयर कैपिटल बढ जाती थी ये नगदी भी उन्हीं लोगो की होती थी जो इससे फायदा उठाते थे पहले मैं फायदा उठाने वाले से कैश लेता था.

 

मैं कैश खुद नहीं जमा कराता था बल्कि एंट्री आपरेटरों के जरिए जमा करवाता था एंट्री आपरेटर ये कैश अलग-अलग खातों में जमा करते थे और ये पैसा मेरी कंपनियो में आ जाता था मैं एंट्री आपरेटरो को इस के बदले कमीशन देता था और फिर मैं कमीशन लेकर इन कंपनियो को फायदा उठाने वालो को बेच देता था.

 

उदय महावर क्या और कैसे करता था उसे ऐसे समझिए. आयकर विभाग के दस्तावेजों के मुताबिक उदय के पास 200 कंपनियां थी. जब कोई खऱीदार उदय के पास कंपनी खरीदने के लिए पहुंचता था तो उसे नकद पैसा देने को कहा जाता था. कंपनी खरीदने वाला शख्स नकद पैसे उदय महावर को देता था और उदय महावर अमित अग्रवाल नाम के शख्स को ये पैसे देता था. ये काला धन अमित अग्रवाल अलग-अलग खातों में जमा करवा देता था. और फिर इन खातों से पैसा उस कंपनी में पहुंच जाता था जो कंपनी बिकनी होती थी. उदय अपना कमीशन रख लेता था बाकी पैसा वापस पहुंच जाता था. और काला धन भी सफेद हो जाता था.

 

आयकर विभाग कोलकाता के दस्तावेजों के मुताबिक उदय महावर ने अपने बयान में ये भी कहा है कि डोटेक्स मर्चेन्डाइस में भी उसने काले धन को सफेद करने का काम किया था और इसके लिए उसे पैसा जमा कराने के लिए आरपीजी ग्रुप कोलकाता से पैसा मिला था. पैसे आरपीजी ग्रुप के एस चक्रवर्ती ने दिए थे. बोगस कैपिटल बढ़ाने के बाद उदय महावर ने कंपनी आरपीजी ग्रुप को बेच दी थी.

 

हालांकि आरपीजी ग्रुप के प्रवक्ता ने कहा है कि इन आरोपों में कोई सच्चाई नहीं है और आरोप निराधार हैं .

 

दस्तावेजों के मुताबिक महावर ने अपने कमीशन के बारे में कहा कि उसे इस काम में सौ रुपये पर दो रुपए कमीशन मिलता था. और सारे खर्चे घटाने के बाद उसे ये कमीशन प्रति सौ रूपये पर तीस से अस्सी पैसा मिलता था.

 

जांच में ये भी पता चला है कि उदय महावर की इन कंपनियों के सात डायरेक्टर भी हैं. लेकिन एबीपी न्यूज जब उदय महावर की कंपनी के चार डायरेक्टरों के घर पहुंचा तो सामने आई चौंकाने वाले हकीकत. लाखों करोडों रुपये की कंपनी के ये डायरेक्टर आज भी अपनी रोजी रोटी चलाने के लिए मेहनत मजदूरी करते हैं.

कोलकाता के पाठक पारा रोड बेहाला में उदय महावर की कंपनी के दो डायरेक्टर रहते है जो कहने को तो लाखों करोडों की कंपनी में डायरेक्टर हैं.

 

एबीपी न्यूज सबसे पहले पहुंचा धमेंद्र कुमार शर्मा के घर. आयकर विभाग के दस्तावेजों के मुताबिक धर्मेंद्र कुमार शर्मा उदय महावर की 85 कंपनियो में डायरेक्टर है और 12 वीं पास है.

 

सच्चाई जानने के लिए जब एबीपी न्यूज ने धर्मेद्र शर्मा से बात की तो सामने आई दस हजार की सैलरी पर काम करने वाले एक डायरेक्टर की कहानी.

 

धर्मेद्र शर्मा- मैं उदय महावर की कंपनी में काम करता हूं औऱ मुझे अब दस हजार रुपये मिलते है पहले मुझे आठ हजार रुपये मिलते थे. किराये के मकान में रहता हूं किराया पापा को पता है मैं दो तीन हजार रुपये अपने पास रख कर बाकी पैसे घर में देता हूं दस सालों में कुछ नहीं बचा पाया.

 

यहीं इस मकान के करीब ही उदय महावर की कंपनी का एक और डायरेक्टर धीरज चौधरी भी रहता है. एबीपी न्यूज जब धीरज चौधरी के घर पहुंचा तो धीरज बिना बात किए वहां से चुपचाप निकल गए और तो और हैरानी की बात ये है कि धीरज कंपनी में डायरेक्टर हैं लेकिन ना तो बुआ को कुछ पता है और ना ही दादी को.

 

200 कंपनियों के मालिक उदय महावर के डायरेक्टरों की पड़ताल में अगला नाम रुपेश कुमार पांडे का था. इनके घर पहुंचने के लिए जो सीढ़ियां थीं वहां अंधेरा था और जिस 500 रुपए के किराए के घर में रुपेश रहा करते थे वहां ताला था. लेकिन ताला भी घर के अंदर हकीकत बयां होने से रोक नहीं पाया.

 

चौथा और आखिरी नाम था चौथे डायरेक्टर सचिन कुमार शर्मा का. आय़कर विभाग के दस्तावेजों के मुताबिक सचिन उदय महावर की 54 कंपनियो में डायरेक्टर हैं. लेकिन सचिन की मां के मुताबिक बेटे ने 6 महीने से घर छोड़ रखा है. 

 

इसके बाद इस पूरे मामले पर एबीपी न्यूज उदय महावर का पक्ष जानने के लिए उसके घर साल्ट लेक सिटी पहुंचा. ये इलाका कोलकाता के बेहद पॉश इलाकों में शुमार किया जाता है. यहां मौजूद गार्ड ने बताया कि घर तो उदय महावर का ही है.

 

आय़कर विभाग के दस्तावेजों में यही पता है उदय महावर का लेकिन उनके घर पर मौजूद लोगों ने बताया कि उदय कही औऱ रहता है यहां अब उसकी कंपनियां चलती हैं.

 

उदय महावर समेत उसकी कंपनी के ये डायरेक्टर भी आयकर विभाग के सामने से कबूल कर चुके हैं कि वो सिर्फ डमी यानि नाम के डायरेक्टर हैं. उन्हें नहीं पता कि ये कंपनिया कहां है औऱ क्या काम करती हैं 200 कंपनियों का मालिक उदय महावर भी आयकर विभाग के सामने ये कह चुका है कि वो काले धन को सफेद करने में लोगों की मदद करता है.

 

ऑपरेशन यंग इंडियन: राहुल-सोनिया की कंपनी को कालाधन सफेद करने वाली कंपनी ने दिया था लोन! 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: OperationYoungIndian : rahul gandhi and sonia gandhi’s company got loan
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र
यूपी के 7000 से ज्यादा किसानों को मिला कर्जमाफी का प्रमाणपत्र

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में गुरुवार को 7574 किसानों को कर्जमाफी का प्रमाणपत्र दिया गया. इसके बाद 5...

सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की मंजूरी
सेना की ताकत बढ़ाएंगे छह अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर, सरकार ने दी खरीदने की...

नई दिल्ली: रक्षा मंत्रालय ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया. मंत्रालय ने भारतीय सेना के लिए...

क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?
क्या है अमेरिकी राजदूत के हिंदू धर्म परिवर्तन कराने का वायरल सच?

नई दिल्लीः सोशल मीडिया पर पिछले कुछ दिनों से एक विदेशी महिला की चर्चा चल रही है.  वायरल वीडियों...

भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश
भागलपुर घोटाला: सीएम नीतीश कुमार ने दिए CBI जांच के आदेश

पटना/भागलपुर: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भागलपुर जिला में सरकारी खाते से पैसे की अवैध...

हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम: पाकिस्तान
हिजबुल मुजाहिदीन को विदेशी आतंकी संगठन करार देना अमेरिका का नाजायज कदम:...

इस्लामाबाद: आतंकी सैयद सलाहुद्दीन को इंटरनेशनल आतंकी घोषित करने के बाद अमेरिका ने कश्मीर में...

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017