ABP न्यूज सर्वे: नीतीश, लालू और कांग्रेस के अलग रहने से बीजेपी को बहुमत

By: | Last Updated: Saturday, 23 May 2015 1:59 AM

नई दिल्ली: बिहार में बीते एक साल में हुए राजनीति भूकंप और उठापटक के बाद राजनीति की राह सत्ताधारी जेडीयू के लिए मुश्किल भरी है. एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक अगर आज चुनाव हुए और लालू, नीतीश और कांग्रेस में गठबंधन नहीं हुआ तो बिहार में मोदी नीतीश को मात दे देंगे.

 

ओपिनियन पोल के मुताबिक अगर नीतीश आरजेडी और कांग्रेस के साथ गठबंधन में चुनाव में जाते हैं तो मुश्किल से पर सत्ता की चाबी एक बार फिर अपने पास रखने में कामयाब होते दिख रहे हैं.

 

इस गठजोड़ में जेडीयू गठबंधन के 127 सीटें जीतकर बहुमत का जादुई आंकड़ा पार कर जाने के आसार हैं, जबकि बीजेपी गठबंधन 112 सीटों पर सिमट जाएगा. निर्दलीय और अन्य के खाते में 4 सीटें जाती दिख रही हैं.

 

देश का मूड: बिहार में नीतीश-लालू और कांग्रेस रोक सकते हैं मोदी लहर

 

जेडीयू गठबंधन के 127 सीटों में जेडीयू का योगदान महज़ 42 सीटों का होगा, जबकि आरजेडी 61 और कांग्रेस 24 सीटों का योगदान देती दिख रही है. बीजेपी की 112 सीटों में 93 सीटें बीजेपी की होगी, जबकि रामविलास की पार्टी एलएनजेपी की 3 और उपेंद्र कुशवाही की पार्टी आरएलएसपी की 16 सीटें होगी.

 

वोट शेयर

जेडीयू गठबंधन में 42 फीसदी, बीजेपी गठबंधन को 33 और अन्य को 25 फीसदी सीटें जाती दिख रही हैं.

 

2010 में क्या रहे थे नतीजे?

आपको बता दें कि बीते विधानसभा में जेडीयू को 115, आरजेडी को 22, बीजेपी को 90, कांग्रेस को 4 और एलएनजेपी को 3 सीटें मिली थीं. निर्दलीय और अन्य के खाते में 8 सीटें गई थीं.

 

अगर जेडीयू, आरजेडी और कांग्रेस अलग-अलग चुनाव लड़े?

 

नीतीश, मोदी सेना के खिलाफ मिलकर चुनाव लड़ते हैं तो जंग जीतते दिख रहे हैं, लेकिन आरजेडी, कांग्रेस और जेडीयू अलग-अलग चुनाव लड़ते हैं तो नीतीश को सत्ता गंवानी पड़ सकती है.

 

ओपिनियन पोल के मुताबिक ऐसी स्थिति में बीजेपी के बहुमत का जादुई आंकड़ा पार कर जाने का अनुमान है. इन हालात में बीजेपी गठबंधन के 126 सीटें जीत जाने के आसार हैं. जबकि जेडीयू 64, आरजेडी 42 और कांग्रेस दो सीटों पर सिमट जाएगी. निर्दलीय और अन्य के खाते में 9 सीटें जाती दिख रही हैं.

 

अगर कांग्रेस अकेले लड़ी तो?

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक अगर कांग्रेस अकेले लड़ी को बीजेपी के बल्ले-बल्ले है. बीजेपी गठबंधन 124 सीटें जीत जाएगा. जबकि जेडीयू और आरजेडी गठबंधन 112 पर सिमट जाएगा.

 

अगर जेडीयू-बीजेपी मिलकर लड़े तो?

 

एबीपी न्यूज़-नीलसन ओपिनियन पोल के मुताबिक अगर एक बार फिर से जेडीयू-बीजेपी साथ आ जाएं तो ये गठबंधन अपना दोबारा जलवा बिखेर में कामयाब हो जाएगा.

 

ऐसी स्थिति में बीजेपी और जेडीयू गठबंधन के 207 सीटें जीतने के आसार हैं, जोकि बीते चुनाव में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन के जरिए जीते गए सीट से भी ज्यादा होगी. साल 2010 में बीजेपी-जेडीयू गठबंधन ने 203 सीटें जीती थीं.

 

आरजेडी 26, एलएनजेपी 4 और कांग्रेस 2 सीटें जीत सकती है.

 

क्या मोदी सरकार में बिहार में विकास हुआ?

 

 

सीएम नीतीश के कार्यकाल में काम हुआ?

 

25 अप्रैल से 30 अप्रैल के बीच किया गया ओपिनियन पोल. बिहार की 40 लोकसभा सीटों में से 16 सीटों वोटरों की राय ली गई. सर्वे में पश्चिम बंगाल में 2501 वोटर शामिल हुए. ये सर्वे यूरोपियन सोसाइटी फॉर ओपिनियन एंड मार्केटिंग रिसर्च यानी ESOMAR के दिशानिर्देशों को पूरी तरह ध्यान में रखकर किया गया है.

देश का मूड: बिहार में नीतीश-लालू और कांग्रेस रोक सकते हैं मोदी लहर 

 

यह भी पढ़ें-

ABP न्यूज़ सर्वे: देश की 48 फीसदी जनता ने माना, अच्छे दिन आए 

ABP न्यूज सर्वे: नीतीश की लोकप्रियता के सामने बौने हैं बिहारी ‘मोदी’ 

ABP न्यूज सर्वे: नीतीश, लालू और कांग्रेस के अलग रहने से बीजेपी को बहुमत 

ABP न्यूज सर्वे: ममता की आंधी में उड़ेंगे मोदी, मिशन बंगाल होगा फेल 

ABP न्यूज़ सर्वे: देश की 48 फीसदी जनता ने माना, अच्छे दिन आए 

 

 

 

 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Opinion poll by ABP News and Nielson
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017