Pak-based militants may attack JK ahead of Obama visit: Army

Pak-based militants may attack JK ahead of Obama visit: Army

By: | Updated: 15 Jan 2015 02:41 PM

नगरौता: सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की इस महीने के आखिर में होने वाली भारत यात्रा के पहले पाकिस्तान से अपनी गतिविधियां चलाने वाले आतंकी संगठन जम्मू-कश्मीर में स्कूलों, धार्मिक स्थलों, सैनिक काफिलों और असैन्य क्षेत्रों जैसे ‘आसान लक्ष्यों’ को निशाना बना कर हमले कर सकते हैं .

 

ओबामा इस साल गणतंत्र दिवस परेड में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने के लिए इस महीने के आखिर में भारत आ रहे हैं.

 

सेना की सोलहवीं कोर के जनरल आफिसर कमांडिंग लेफ्टिनेंट जनरल के. एच. सिंह ने खुफिया जानकारी के आधार पर उस वक्त यह बयान दिया है जब सुरक्षा बलों ने दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में जैश-ए-मोहम्मद और हिज्बुल मुजाहिदीन के पांच खूंखार आतकवादियों को मार गिराया.

 

सिंह ने कहा कि पूरी तरह हथियारों से लैस करीब 200 आतंकवादी पीर पंजाल पहाड़ियों के दूसरी ओर नियंत्रण रेखा के पार स्थित 36 घुसपैठ ठिकानों पर इंतजार कर रहे हैं और ऐसी पूरी आशंका है कि पाकिस्तान अपनी धरती पर पनपे इन आतंकी संगठनों के आतंकवादियों को सीमा के इस पार भेजने का प्रयास कर सकता है .

 

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा ,‘‘ ऐसी सूचनाएं मिली है कि आतंकवादी स्कूलों , धार्मिक स्थलों ,सेना के काफिलों और अन्य असैनिक इलाकों पर हमले कर सकते हैं . ’’ सिंह ने कहा कि सेना आतंकी संगठनों के हर तरह के नापाक इरादों को विफल करने के लिए पूरी तरह तैयार है .

 

उन्होंने कहा ,‘‘पीर पंजाल पहाड़ियों के पीछे सीमा के पार 200 आतंकी भारत में घुसने के लिए 36 ठिकानों पर मौजूद हैं . हम अभी तक उनकी इन कोशिशों को विफल करने में सफल रहे हैं .’’ सिंह ने कहा कि सीमा के उस पार आतंकी ढांचा सक्रिय है और आतंकी संगठनों को वहां की सेना और आईएसआई सहित पाकिस्तान के प्रतिष्ठानों से समर्थन मिल रहा है .

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story नसीमुद्दीन सिद्दीकी की 'घरवापसी' के बाद कांग्रेस में उठने लगे विरोध के स्वर