पाकिस्तान ने दक्षेस के समझौतों के रास्ते में रूकावट पैदा की

By: | Last Updated: Wednesday, 26 November 2014 2:12 AM

काठमांडू: दक्षेस शिखर बैठक में बेहतर क्षेत्रीय संपर्क को लेकर प्रस्तावित समझौतों पर हस्ताक्षर की संभावना फिलहाल नजर नहीं आती क्योंकि पाकिस्तान ने यह कहते हुए इनका विरोध कर दिया है कि उसने अभी अपनी ‘आंतरिक प्रक्रियाओं’ को पूरा नहीं किया है.

 

चीन की ओर से एक पर्यवेक्षक की हैसियत से आगे निकलकर दक्षेस का सक्रिय सदस्य बनने के लिए जोर दिए जाने के बीच मंत्री स्तरीय बैठक में कुछ देशों ने इस क्षेत्रीय संगठन के पर्यवेक्षकों की भूमिकाओं को मजबूत करने को लेकर नीतिगत बयान दिया.

 

बहरहाल, विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता सैयद अकबरूद्दीन ने कहा कि इस मुद्दे पर कोई चर्चा या बहस नहीं हुई और उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि दक्षेस देशों के बीच समझबूझ को प्रगाढ़ बनाया जाए और फिर आगे बढ़ा जाए.

 

दक्षेस के संपर्क संबंधी समझौतों पर अकबरूद्दीन ने कहा कि इन समझौतों पर कई वरिष्ठ स्तरों पर चर्चा हुई है और इसको लेकर किसी देश का कोई विरोध नहीं है लेकिन एक देश ने ऐसा संकेत दिया है कि उसे अपनी आंतरिक प्रक्रियाओं’ की मंजूरी की जरूरत है. उन्होंने इस संबंधित देश का नाम नहीं लिया.

 

सूत्रों का कहना है कि जिस देश को लेकर सवाल किए जा रहे हैं वह पाकिस्तान है. अकबरूद्दीन ने कहा कि दक्षेस सहमति के आधार पर काम करता है और यही काम का बेहतरीन और प्रभावी तरीका है. उन्होंने कहा कि भारत को उम्मीद है कि कुछ ठोस नतीजे निकलेंगे क्योंकि आमतौर पर दक्षेस पर तेजी से आगे नहीं बढ़ने के आरोप लगते रहे हैं.

 

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा, ‘‘हम सहमति के साथ जुड़ने को तैयार हैं.’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दक्षेस शिखर सम्मेलन के दौरे से पहले कैबिनेट ने दक्षेस मोटर वाहन समझौते और दक्षेस क्षेत्रीय रेल समझौते पर भारत के हस्ताक्षर करने एवं अनुमोदित करने की अनुमति दे दी थी.

 

पाकिस्तानी की ओर से कुछ दूसरे देशों के साथ मिलकर चीन को सक्रिय सदस्यता दिए जाने पर जोर देने के बारे में पूछे गए सवाल पर अकबरूद्दीन ने कहा कि नई सदस्यता को लेकर ‘कोई बहुत बड़ा समर्थन’ नहीं है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: pakistan hinders the connectivity related deals at saarc
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: india pakistan Pakistan SAARC
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017