जात नहीं, जमात की राजनीति करता हूं: पप्पू यादव

By: | Last Updated: Saturday, 16 May 2015 12:31 PM

पटना: बिहार के मधेपुरा संसदीय क्षेत्र से जनता दल (युनाइटेड) जद(यू) के अध्यक्ष शरद यादव को हरा चुके बाहुबली सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव ने कहा कि वह ‘जात’ की नहीं, ‘जमात’ की राजनीति करते हैं.

 

पप्पू हाल ही में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) से छह साल के लिए निकाले जा चुके हैं. उन्होंने राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद पर कटाक्ष करते हुए कहा कि अब सामाजिक न्याय के नाम पर ‘पारिवारिक न्याय’ से काम नहीं चलेगा, वास्तविक सामाजिक न्याय की बात करनी होगी.

 

सांसद ने आईएएनएस से विशेष बातचीत में कहा, “लालू प्रसाद एक तरफ पार्टी को मजबूत करने की बात करते हैं, वहीं राजद की विचारधारा को मजबूत करने और गरीबों की मदद करने वाले पप्पू यादव को पार्टी से निकाल रहे हैं.”

 

बकौल पप्पू, लालू प्रसाद अपने आलोचकों और स्वाभिमान वाले व्यक्तियों को अपने साथ कभी नहीं रख सकते. उन्हें केवल चाटुकारों और माफियाओं से प्रेम है.

 

उन्होंने कहा, “मैंने राजनीति में सिस्टम के बदलाव की लड़ाई लड़ी. राजद में कार्यकर्ताओं को अपमानित होना पड़ रहा है. इसके लिए मैंने लालू प्रसाद से कई बार बात की, परंतु अंत में मुझे ही दरकिनार कर दिया गया.”  सांसद पप्पू ने आरोप लगाया कि लालू ने उन्हें हर समय इस्तेमाल किया.

 

राजद और जद(यू) गठबंधन के विषय में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, “पुराने जनता परिवार के बीच विलय सिर्फ मेरे कारण नहीं हुआ. सभी लोगों को डर था कि पप्पू को ‘लालटेन’ मिल जाएगा. अब राजद-जद(यू) गठबंधन कर रहे हैं. यह गठबंधन बेमेल और सिर्फ सत्ता के लिए होगा. इससे बिहार का कल्याण नहीं होने वाला.”

 

नई पार्टी बनाने के विषय में पप्पू ने स्पष्ट कहा कि वह जमात की राजनीति करते हैं और नई पार्टी बनाने को लेकर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करने वाले हैं, उसके बाद ही इस पर कोई निर्णय लेंगे.

 

लालू के शासनकाल को जंगलराज कहा जा रहा है, इस पर आपकी क्या प्रतिक्रिया है? इस सवाल पर पप्पू ने किसी का नाम लिए बगैर कहा, “जंगलराज का मतलब यादवराज बना दिया गया. गलती किसी ने की और भोगा पूरी जमात ने. यह पूरी जमात का दुर्भाग्य है कि उसे नौ वर्षो तक गाली सुनने को मिला.”

 

लालू को आप यादव जाति का नेता मानते हैं? इसके जवाब में उन्होंने लालू पर तंज कसते हुए कहा, “जब मुलायम सिंह यादव के प्रधानमंत्री बनने का मौका आया था, तब लालू ने मुलायम का समर्थन नहीं किया था. इसको लेकर मुलायम सिंह ने सार्वजनिक रूप बयान भी दिए हैं, और आज जब वे रिश्तेदार हो गए तब मुलायम अच्छे हो गए, यादव हो गए.”

 

उन्होंने कहा कि आने वाले समय में कोसी क्षेत्र बिहार की दिशा तय करेगा. कोसी के लोगों को हर वक्त छला गया है. आप पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी का हर वक्त साथ देंगे? इस सवाल पर पप्पू ने सीधे तौर पर तो कुछ नहीं कहा, परंतु इतना जरूर कहा, “मांझी गरीबों, पिछड़ों की बात तो करते हैं.”

 

सांसद ने कहा, “लालू प्रसाद सिर्फ परिवार हित पर ध्यान दे रहे हैं, यही कारण है कि पप्पू जैसे व्यक्ति को तिरस्कृत कर दिया गया.”

 

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव में पांचवीं बार सांसद बने पप्पू यादव को राजद ने छह मई को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में छह वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया. नीतीश कुमार और मांझी के बीच ठनी लड़ाई में उन्होंने जद(यू) से निष्कासित मांझी का पक्ष लिया था.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: pappu yadav
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Bihar Congress JDU pappu yadav RJD
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017