Paradise documents do not have any transactions for 'private purpose': Jayant Sinha-पैराडाइज दस्तावेज मामला में कोई भी लेनदेन 'निजी उद्देश्य' के लिए नहीं :जयंत सिन्हा

पैराडाइज दस्तावेज मामला में कोई भी लेनदेन 'निजी उद्देश्य' के लिए नहीं :जयंत सिन्हा

कर से बचने के लिए कर पनाहगाह वाले देशों से संबंधित, लीक हुए पैराडाइज दस्तावेजों में केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा का नाम आने पर उन्होंने कहा कि किसी भी 'निजी उद्देश्य' से कोई लेनदेन नहीं किया गया.

By: | Updated: 06 Nov 2017 01:02 PM
Paradise documents do not have any transactions for ‘private purpose’: Jayant Sinha

नई दिल्ली: कर से बचने के लिए कर पनाहगाह वाले देशों से संबंधित, लीक हुए पैराडाइज दस्तावेजों में केंद्रीय मंत्री जयंत सिन्हा का नाम आने पर उन्होंने कहा कि किसी भी 'निजी उद्देश्य' से कोई लेनदेन नहीं किया गया. पैराडाइज दस्तावेजों की जांच पर आधारित रिर्पोट के अनुसार, जयंत सिन्हा भारत में ओमिदयार नेटवर्क के प्रबंध निदेशक रहे हैं और ओमिदयार नेटवर्क ने अमेरिकी कंपनी डी. लाइट डिजाइन में निवेश किया था. डी. लाइट डिजाइन की केमैन द्वीप में सहायक कंपनी है.


सिन्हा ने आज ट्वीट की एक श्रृंखला में कहा, "लेनदेन वैध और प्रमाणिक हैं." नगर विमानन राज्य मंत्री सिन्हा ने दूसरा ट्वीट कर कहा, "यह लेनदेन दुनिया के प्रतिष्ठित संगठनों की ओर से किए गए यह कार्य ओमिदयार नेटवर्क में सहयोगी और इसकी ओर से डी.लाइट डिजाइन के निदेशक मंडल में नामित प्रतिनिधि के तौर पर किए गए."


आखिरी में कहा, "यह गौर करने की बात है कि यह लेनदेन डी.लाइट डिजाइन के लिए ओमिदयार के प्रतिनिधि के तौर पर किए गए, ना कि किसी निजी उद्देश्य के लिए."

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: Paradise documents do not have any transactions for ‘private purpose’: Jayant Sinha
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story सुप्रीम कोर्ट ने बैंक अकाउंट और मोबाइल को आधार से लिंक कराने की डेडलाइन बढ़ाई