न महंगा न सस्ता होगा पेट्रोल-डीजल के दाम

By: | Last Updated: Thursday, 13 November 2014 9:18 AM

नई दिल्ली : सरकार ने पेट्रोल और डीजल दोनों पर उत्पाद शुल्क 1.50 रुपये लीटर बढ़ा दिया लेकिन इस शुल्क वृद्धि से इनके खुदरा दाम नहीं बढेंगे.

 

तेल कंपनियां इस शुल्क वृद्धि का भार उपभोक्ताओं पर नहीं डालेंगी. कंपनियां इसकी भरपाई वैश्विक स्तर पर तेल के दाम में आई गिरावट से घरेलू मूल्यों में संभावित कमी से करेंगी.

 

उत्पाद शुल्क वृद्धि को कल देर शाम अधिसूचित किया गया. सालाना आधार पर इससे सरकार को 13,000 करोड़ रुपये अतिरिक्त राजस्व प्राप्त होगा जिससे बजट घाटे से निपटने में मदद मिलेगी.

 

देश की सबसे बड़ी खुदरा ईंधन विक्रेता कंपनी इंडियन ऑयल कारपोरेशन (आईओसी) ने कहा कि उत्पाद शुल्क में वृद्धि का बोझ उपभोक्ताओं पर नहीं डाला जाएगा और इस सप्ताहांत होने वाली संभावित कटौती से इसकी भरपाई की जाएगी.

 

अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के गिरते दाम के कारण अगस्त के बाद से पेट्रोल के दाम लगातार छह बार घटे हैं जबकि पिछले एक महीने में डीजल के दाम दो बार घटे हैं. ऐसी संभावना थी कि इस सप्ताहांत दोनों ईंधन के दाम में और कमी की जा सकती है.

 

सरकार की अधिसूचना के अनुसार सामान्य यानी बिना ब्रांड वाले पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 1.20 रुपये से बढ़ाकर 2.70 रुपये लीटर कर दिया गया है. वहीं सामान्य डीजल पर उत्पाद शुल्क 1.46 रुपये से बढ़ाकर 2.96 रुपये प्रति लीटर किया गया है.

 

वहीं प्रीमियम यानी ब्रांडेड पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 2.35 रुपये से बढ़ाकर 3.85 रुपये लीटर तथा ब्रांडेड डीजल पर मौजूदा 3.75 रुपये से बढ़ाकर 5.25 रुपये प्रति लीटर कर दिया गया है.

 

इंडियन ऑयल के चेयरमैन बी अशोक ने कहा, ‘‘इस समय उत्पाद शुल्क वृद्धि को उपभोक्ताओं पर नहीं डाल रहे हैं. कंपनी इसका बोझ उठाएगी और शनिवार को होने वाली दरों की समीक्षा के जरिये इसका समायोजन किया जाएगा.’’

 

बी. अशोक ने कहा कि ईंधन मूल्य समीक्षा पर विचार अब अगले पखवाड़े (नवंबर के अंत) में किया जाएगा. ‘‘जब भी ऐसी स्थिति बनती है, हम मूल्य समीक्षा पर गौर करते हैं, हम स्थिति को देखेंगे और तब दरों की समीक्षा का निर्णय करेंगे.’’ उत्पाद शुल्क बढ़ने के समय दिल्ली में पेट्रोल 64.25 रुपये लीटर तथा डीजल 53.35 रुपये लीटर है और इनके दाम यही रहेंगे.

 

उन्होंने कहा, ‘‘पेट्रोल, डीजल के खुदरा दाम में कोई बढ़ोतरी नहीं हुई है.’’ वैश्विक मूल्य में गिरावट और इसके परिणामस्वरूप खुदरा दामों में होने वाली कटौती से विशेषतौर पर राज्य सरकारों को राजस्व नुकसान हुआ लेकिन केंद्र सरकार को पेट्रोल, डीजल के दाम घटने से कोई नुकसान नहीं हुआ क्योंकि केन्द्र दोनों ईंधन पर उत्पाद शुल्क मूल्यानुसार नहीं बल्कि मात्रा के हिसाब से लगाता है.

 

सामान्य यानी बिना ब्रांड वाले पेट्रोल पर फिलहाल मूल उत्पाद शुल्क 1.20 रुपये प्रति लीटर लगता है. इसके अलावा विशेष अतिरिक्त उत्पाद शुल्क 6 रुपये लीटर तथा सड़क उपकर 2 रुपये लीटर लिया जाता है. गैर-ब्रांडेड डीजल के मामले में मूल उत्पाद शुल्क 1.46 रपये तथा सड़क उपकर 2 रुपये लीटर लगता है.

 

उत्पाद शुल्क में ताजा वृद्धि के बाद सामान्य पेट्रोल पर कुल उत्पाद शुल्क मौजूदा 9.20 रुपये से बढ़कर 10.70 रुपये लीटर गया और सामान्य डीजल के मामले में यह 3.46 रुपये से बढ़कर 4.96 रुपये लीटर हो जायेगा.

 

ब्रांडेड पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क 10.35 रुपये लीटर से बढ़कर 11.85 रुपये वहीं ब्रांडेड डीजल पर उत्पाद शुल्क मौजूदा 5.75 प्रतिशत से बढ़कर 7.25 रुपये लीटर हो जायेगा. सार्वजनिक क्षेत्र की तेल कंपनियां इंडियन ऑयल कारपोरेशन (आईओसी), भारत पेट्रोलियम कारपोरेशन (बीपीसीएल) तथा हिंदुस्तान पेट्रोलियम कारपोरेशन (एचपीसीएल) हर पखवाड़े दाम की समीक्षा करती हैं. शनिवार को पेट्रोल और डीजल के दामों की समीक्षा होनी है.

 

अगर अंतरराष्ट्रीय बाजार की स्थिति देखी जाए तो ईंधन के खुदरा दाम में नरमी आनी चाहिए.

 

इससे पहले, एक नवंबर को पेट्रोल के दाम में 2.41 रुपये लीटर की कमी की गयी थी. उसी दिन, डीजल के दाम में 2.25 रुपये प्रति लीटर कटौती की गयी. इस कटौती के बाद दिल्ली में पेट्रोल का दाम 64.25 रुपये लीटर है.

 

अगस्त से लेकर अब तक पेट्रोल 9.36 रुपये प्रति लीटर सस्ता हुआ है. डीजल के दाम में 19 अक्तूबर को 3.37 रुपये लीटर की कटौती की गयी. पांच साल से अधिक समय में यह पहला मौका था जब डीजल के दाम कम किये गये. उसके बाद एक नवंबर को फिर से डीजल के दाम कम किये गये. डीजल फिलहाल दिल्ली में 53.35 रुपये लीटर पर उपलब्ध है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: petrol_diesel
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Diesel petrol
First Published:

Related Stories

डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट फाड़े
डोकलाम के बाद उत्तराखंड के बाराहोती बॉर्डर पर चीन की अकड़, चरवाहों के टेंट...

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी जगजाहिर है. इस बीच उत्तराखंड के बाराहोती...

एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें
एबीपी न्यूज पर दिनभर की बड़ी खबरें

1. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने मिशन 2019 की तैयारियां शुरू कर दी हैं और आज इसको लेकर...

20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य
20 महीने पहले ही 2019 के लिए अमित शाह ने रचा 'चक्रव्यूह', 360+ सीटें जीतने का लक्ष्य

नई दिल्ली: मिशन-2019 को लेकर बीजेपी में अभी से बैठकों का दौर शुरू हो गया है. बीजेपी के राष्ट्रीय...

अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी
अगर लाउडस्पीकर पर बैन लगना है तो सभी धार्मिक जगहों पर लगे: सीएम योगी

लखनऊ: कांवड़ यात्रा के दौरान संगीत के शोर को लेकर हुई शिकायतों पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ...

मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर फैसला सुरक्षित रखा
मालेगांव ब्लास्ट मामला: सुप्रीम कोर्ट ने श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका...

नई दिल्ली: 2008 मालेगांव ब्लास्ट के आरोपी प्रसाद श्रीकांत पुरोहित की ज़मानत याचिका पर सुप्रीम...

'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी
'आयरन लेडी' इरोम शर्मिला ने ब्रिटिश नागरिक डेसमंड कॉटिन्हो से रचाई शादी

नई दिल्ली: नागरिक अधिकार कार्यकर्ता इरोम शार्मिला और उनके लंबे समय से साथी रहे ब्रिटिश नागरिक...

अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे
अब तक 113: मुंबई एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा खाकी में लौटे

 मुंबई: मुंबई पुलिस के मशहूर एनकाउंटर स्पेशलिस्ट पुलिस अधिकारी प्रदीप शर्मा को महाराष्ट्र...

RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी
RSS ने तब तक तिरंगे को नहीं अपनाया, जब तक सत्ता नहीं मिली: राहुल गांधी

आरएसएस की देशभक्ति पर कड़ा हमला करते हुए राहुल गांधी ने कहा कि इस संगठन ने तब तक तिरंगे को नहीं...

चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’
चीन की खूनी साजिश: तिब्बत में शिफ्ट किए गए ‘ब्लड बैंक’

नई दिल्ली: डोकलाम विवाद पर भारत और चीन के बीच तनातनी बढ़ती जा रही है. चीन ने अब भारत के खिलाफ खूनी...

सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'
सृजन घोटाला: लालू का नीतीश पर वार, बोले 'बचने के लिए BJP की शरण में गए'

पटना: सृजन घोटाले को लेकर बिहार की राजनीति में संग्राम छिड़ गया है. आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017