मोदी के मुरीद हुए अमर्त्य सेन

By: | Last Updated: Monday, 22 December 2014 4:20 PM
pm modi

नई दिल्ली: नोबेल पुरस्कार से सम्मानित अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने लोकसभा चुनाव के समय नरेंद्र मोदी को अस्वीकार करते हुए कहा था कि वह नहीं चाहते कि मोदी भारत के प्रधानमंत्री बनें क्योंकि उनकी धर्मनिरपेक्ष साख नहीं है. आज उसी अमर्त्य सेन ने की है मोदी के काम की तारीफ.

 

प्रो अमर्त्य सेन दुनिया के जाने-माने अर्थशास्त्री, चिंतक और विचारक. अर्थशास्त्र में नोबेल पुरुस्कार से सम्मानित. नरेंद्र मोदी के विरोधी रहे प्रो अमर्त्य सेन ने की है अब प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ. मोदी को लेकर प्रो सेन के सुर क्यों बदले?

 

अर्थशास्त्री और चिंतक प्रो अमर्त्य सेन ने कहा था कि मोदी पर मेरी प्रतिक्रिया के बारे में सब जानते हैं. मैं नहीं मानता कि वह प्रधानमंत्री पद के अच्छे उम्मीदवार हैं. निश्चित तौर पर वह कुछ तबकों में काफी लोकप्रिय हैं, पर इसका मतलब यह नहीं कि वह मेरे भी पसंदीदा उम्मीदवार हैं. मैं एक ऐसा उम्मीदवार चाहता हूं जो ज्यादा धर्मनिरपेक्ष हो और ईसाई तथा मुसलमान जैसे अल्पसंख्यक समुदाय उससे डरा हुआ न महसूस करे. देश के नेता का यह एक गुण होना चाहिए.

 

आइए अब हम आपको बताते हैं जिस अमर्त्य सेन ने मोदी का विरोध किया था आज किस तरह तारीफ के कसीदे पढ़ रहे हैं. अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में प्रो सेन ने कहा है कि मैं मोदी का आलोचक हूं लेकिन मुझे कहना पड़ेगा कि मोदी लोगों में इस बात का भरोसा पैदा करने में कामयाब रहे हैं कि बदलाव मुमकिन है. हो सकता है हम जिस तरह से चीजों को हुबहू होते देखना चाहते हैं वैसे नहीं हो. मुझे लगता है ये एक बड़ी उपलब्धि है. ये प्रशंसा की बात है. हालांकि धर्मनिरपेक्षता और बाकी चीजों को लेकर हमारा मतभेद बरकरार है.

 

प्रो अमर्त्य सेन ने प्रधानमंत्री मोदी के स्वतंत्रता दिवस के भाषण की भी तारीफ की. प्रो सेन ने कहा कि मैं वर्षों से खुले शौच और शौचालय की जरूरत पर लिखता रहा हूं. मैं मोदी की इस बात के लिए तारीफ करता हूं कि उन्होंने लाल किले के प्राचीर से कई अच्छी बातें कही. इनमें से एक है शौचालय की कमी और दूसरा है महिलाओं की सुरक्षा का मुद्दा.

 

प्रो अमर्त्य सेन ने चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी के गुजरात मॉडल की आलोचना की थी. सेन का कहना था कि गुजरात में कारोबार और इंफ्रास्ट्रक्चर के क्षेत्र में तरक्की तो हुई लेकिन शिक्षा, स्वास्थ्य और अल्पसंख्यक अधिकारों के मामले में गुजरात पीछे है. सेन के विरोध के बाद दुनिया के जाने-माने अर्थशास्त्री प्रो जगदीश भगवती मोदी के समर्थन में आए गए थे. प्रो जगदीश ने नरेन्द्र मोदी एक बेहद काबिल नेता बताया और मोदी के गुजरात मॉडल की तारीफ की थी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: pm modi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017