भारत और चीन के बीच तीन समझौतों पर हस्ताक्षर हुए

By: | Last Updated: Wednesday, 17 September 2014 2:22 AM
PM Modi to meet China President

नई दिल्ली: चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के दौरे से पहले ही दिन अहमादाबद में  भारत और चीन के बीच तीन समझौतों पर हस्ताक्षर हुए हैं.

 

ये समझौते हैं….

 

  • पहला समझौता- गुजरात को चीन के विकसित राज्य ग्वांगडोंग की तर्ज पर विकसित करने को लेकर हुआ है. 
     

  • दूसरा समझौता- भारत और चीन के बीच अहमदाबाद को चीन के शहर ग्वांगजाओ की तर्ज विकसित करने को लकेर है.
     

  • तीसरा समझौता- वडोदरा के करीब इंडस्ट्रियल पार्क के विकास का हुआ. इस इंडस्ट्रियल पार्क को विकसित करने का सारा खर्च चीन उठाएगा और मालिका हक राज्य सरकार का होगा.

# समझौते के बाद चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग साबरमती आश्रम पहुंचे. जहां मोदी खुद शी को घुमाते देखे गए.

 

#  साबरमती आश्रम में मोदी ने शी जिनपिंग को सूत की माला पहनाई

 

आपको बता दें कि इससे पहले, चीन के राष्ट्रपित शी जिनपिंग दोहर तीन बजे अहमदाबाद एयरपोर्ट पर पहुंचे, जहां गुजरात की सीएम आनंदीबेन पटेल ने उनकी आगवानी की.  एयरपोर्ट से हयात होटल पहुंचे शी का पीएम मोदी ने प्रोटोकॉल दरकिनार कर स्वागत किया.

 

शी जिनपिंग की आशिकमिज़ाजी तो देखिए….पेंग की अदाओं पर ऐसे फिदा हुए कि …40 मिनट में ही शादी का फैसला कर डाला 

#  खास बात ये है कि ये पहली बार है जब भारत में दो देशों के राष्ट्राध्यक्ष राष्ट्रीय राजधानी से बाहर मुलाकात कर रहे हैं.

 

#  शी जिनपिंग के साथ उनकी पत्नी भी भारत आई हैं. उनकी पत्नी चीन में खासा लोकप्रिय हैं.

 

जब शी जिनपिंग अहमदाबाद के होटल में पहुंचे तो भारत के कई जाने माने उद्योगपति उनके स्वागत में वहां मौजूद थे.

शी जिनपिंग तीन दिवसीय दौरे पर भारत आए हैं.

 

दौरे की खास बातें

 

समझौतों के बाद दोनों देशों के बीच प्रतिनिधिमंडल स्तर की बातचीत होगी. चीन के राष्ट्रपति के साथ 70 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल आया है. बातचीत में गुजरात के प्रमुख उद्योगपति भी रहेंगे.

समझौतों पर हस्ताक्षर के बाद मोदी और जिनपिंग महात्मा गांधी के साबरमती आश्रम पहुंचे. चीनी राष्ट्रपति को मोदी ने साबरमती रिवर फ्रंट परियोजना को दिखाया.

 

यहीं रिवर फ्रंट पर रात्रिभोज का भी आयोजन किया गया. रात्रिभोज के लिए साबरमति रिवरफ्रंट पर खास मेकशिफ्ट किचन बना. ताज गेटवे होटल को डिनर की जिम्मेदारी दी गई.

 

मोदी और शी जिनपिंग को शुद्ध गुजराती थाली परोसी गई. थाली में 35 तरह के पकवान थे.

 

शाम सात बजे के करीब मोदी और जिनपिंग एयरपोर्ट के लिए रवाना हुए. दोनों अहमदाबाद से दिल्ली आ गए. गुजरात के बाद दिल्ली में मोदी और शिनपिंग की मुलाकात होगी. परमाणु ऊर्जा पर सहयोग और सीमा विवाद सुलझाने पर भी बातचीत हो सकती है.

 

प्रधानमंत्री मोदी चीन से भी भारत में बुलेट ट्रेन चलाने पर बात कर सकते हैं. पिछले दिनों बुलेट ट्रेन को लेकर जापान से समझौता हुआ था. उद्योग, रेलवे, हाईवे, ऊर्जा, ऑटोमोबाइल और फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र में भी चीन से करार हो सकता है.

 

चीन भारत में बड़ा निवेश कर सकता है. एक अनुमान के मुताबिक जिनपिंग 6 लाख करोड़ रुपये के निवेश की पेशकश कर सकते हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: PM Modi to meet China President
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017