क्या केंद्र के दखल से पौने दो लाख शिक्षा मित्रों की नौकरी बहाल हो पाएगी?

By: | Last Updated: Friday, 18 September 2015 3:54 PM

नई दिल्ली: आज पीएम नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में थे. वाराणसी में पीएम ने कई योजनाओं का शिलान्यास किया लेकिन सबसे अहम बात ये कि उन्होंने यूपी के उन पौने दो लाख शिक्षा मित्रों से सहानुभूति जताई जिनकी नौकरी हाईकोर्ट के आदेश के बाद चली गई है.

 

अपने संसदीय क्षेत्र काशी के दौरे पर आए प्रधानमंत्री मोदी ने शिक्षामित्रों की नियुक्ति को कोर्ट से अवैध ठहराए जाने का मुद्दा भी उठाया और इस राज्य सरकार के साथ मदद का भरोसा दिया. मोदी ने कहा कि डिटेल आएगी तो अखिलेश सरकार से बात करेंगे.

 

इसी महीने की 12 तारीख को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने शिक्षा मित्रों को असिस्टेंट टीचर बनाने के फैसले को अवैध बताते हुए पौने दो लाख शिक्षा मित्रों की नियुक्ति रद्द कर दी थी. अब अखिलेश सरकार हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी. 

 

अदालत के फैसले के बाद जहां जगह-जगह से विरोध प्रदर्शन की तस्वीरें आईं वहीं कन्नौज के शिक्षा मित्र की खुदकुशी का मामला भी सामने आया था. पीएम की ये बहुप्रतीक्षित बनारस यात्रा 9 महीने बाद हुई थी. पीएम मोदी ने शिक्षा मित्रों के प्रतिनिधियों से भी मुलाकात की. अब बड़ा सवाल ये है कि क्या केंद्र के दखल के बाद यूपी के पौने दो लाख शिक्षा मित्रों की दोबारा नौकरी बहाल हो पाएगी?

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: PM Modi to talk akhilesh for Uttar Pradesh Contractual Teachers
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017