पीएनबी घोटालाः नीरव मोदी के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी, क्या वापस आएगा बैंक का पैसा | PNB Fraud case, lookout notice issued against neerav modi

पीएनबी घोटालाः नीरव मोदी, मेहुल चौकसी ने देश छोड़ा, एबीपी न्यूज की खबर पर CBI की मुहर

नीरव मोदी का पासपोर्ट रद्द करने के लिए ईडी ने विदेश मंत्रालय को चिट्ठी लिखी है. 11,500 करोड़ रुपये घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी दोनों ही इस वक्त देश से बाहर हैं

By: | Updated: 15 Feb 2018 09:47 PM
PNB Fraud case, lookout notice issued against neerav modi

नई दिल्लीः पीएनबी महाघोटाले पर सरकार के भरोसे के कुछ देर बाद ही ईडी ने घोटालेबाज नीरव मोदी की 5100 करोड़ की संपत्ति जब्त कर ली है. ईडी ने देशभर में 17 जगह छापेमारी करते हुए नीरव मोदी और गीतांजलि जेम्स की 5100 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली. इसमें सोना, हीरे और कीमती पत्थर शामिल हैं. वहीं नीरव मोदी का पासपोर्ट रद्द करने के लिए ईडी ने विदेश मंत्रालय को चिट्ठी लिखी है. 11,500 करोड़ रुपये के घोटाले के आरोपी नीरव मोदी और मेहुल चौकसी दोनों ही इस वक्त देश से बाहर हैं.


ग्यारह हजार पांच सौ करोड़ का घोटाला करने के बाद हीरा कारोबारी नीरव मोदी - पत्नी और भाई समेत विदेश भाग गया है, एफआईआर से पहले ही हीरा कारोबारी मेहुल चौकसी ने भी भारत छोड़ दिया है. सीबीआई ने एबीपी न्यूज की खबर पर मुहर लगाई.


वहीं पीएनबी घोटाले को लेकर वित्त मंत्रालय से स्थायी संसदीय समिति ने रिपोर्ट तलब की, समिति की बैठक आज ही हुई है. कांग्रेस के सांसद वीरप्पा मोइली समिति के अध्यक्ष हैं.


देश के बैंकिंग इतिहास के सबसे बड़े फ्रॉड में से एक पंजाब नेशनल बैंक के 11,500 करोड़ रुपये के घोटाले के खुलासे के बाद डायमंड किंग नीरव मोदी पर शिकंजा कस गया है. नीरव मोदी इस घोटाले का मुख्य आरोपी है और उसे देखते ही पकड़ने के लिए लुकआउट नोटिस जारी हो गया है.


सीबीआई ने पीएनबी की शिकायत पर उद्योगपति नीरव मोदी और उनके सहयोगियों समेत कुल 6 लोगों के खिलाफ धोखाधडी और आपराधिक षडयंत्र और सरकारी पद के दुरुपयोग का मुकदमा दर्ज किया है. इसके तहत मुंबई, दिल्ली, सूरत सीबीआई की छापेमारी चल रही है.


tweet


केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा कि कांग्रेस इस घोटाले को राजनीतिक रंग देने से बचे. सरकार का रुख बहुत स्पष्ट है, जो कोई भी इसमें संलिप्त पाया जाएगा, उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई होगी, चाहे उसका कद कितना भी बड़ा क्यों ना हो. दावोस में प्रधानमंत्री मोदी के डेलिगेशन का हिस्सा नहीं थे. उनकी ना तो प्रधानमंत्री से कोई मुलाकात हुई ना कोई बात हुई. कांग्रेस फोटो की राजनीति ना करे, शहजाद पूनावाला ने ट्वीट कर बताया है कि 2013 में नीरव मोदी के शो में राहुल गांधी भी गए थे. मोदी सरकार में साढ़े तीन साल में बैंक ने एक भी ऐसा लोन नहीं दिया है, जो एनपीए हुआ हो. आज जो घटना हुई है इसकी चर्चा 2011 में हुई थी. कुछ लोगों ने सिस्टम को बायपास किया है. बैंक के कुछ अधिकारियों का नाम आया है. लेकिन अगर किसी ने ऊपर से मदद की है तो उसे छोड़ा नहीं जाएगा.


रविशंकर प्रसाद ने कहा कि नीरव मोदी की 1300 करोड़ की संपत्ति सीज़ की गई है. साथ ही उसके पासपोर्ट को रद्द करने की कार्रवाई शुरू हो गई है. इसके अवाला उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस भी जारी किया गया है. कांग्रेस पर हमला करते हुए उन्होंने कहा, ''ये छोटा मोदी कौन सा शब्द है. इस देश में करोड़ों लोग होंगे जिनका उपनाम मोदी है. इसके जरिए कांग्रेस क्या कहना चाह रही है. प्रधानमंत्री के खिलाफ वो हारते हैं इसलिए क्या वो गुस्से में राजनीतिक शालीनता की हदें लांघ देंगे.''


यहां पढ़ें पूरी डिटेल खबर
पीएनबी में 11,500 करोड़ रुपये का घोटालाः अरबपति ज्वैलर नीरव मोदी के खिलाफ केस दर्ज


पीएनबी से नीरव मोदी ने 2000 करोड़ और मेहुल चौकसी ने 9000 करोड़ रुपये लिए थे. मेहुल चोकसी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत केस दर्ज हो गया है. इस मामले में आज सुबह प्रवर्तन निदेशालय यानी ईडी ने नीरव मोदी के मुंबई शोरूम और काला घोड़ा स्थित ऑफिस सहित नौ ठिकानों पर छापेमारी की है. दिल्ली में नीरव के ठिकाने पर छापेमारी के तहत डिफेंस कॉलोनी में भी तलाश हो रही है. सीबीआई ने कहा कि नीरव एफआईआर दर्ज होने से पहले इसी साल 1 जनवरी को देश से चला गया है और कहा जा रहा है कि वह स्विटजरलैंड के दावोस में है.


PNB की शिकायत से पहले देश छोड़कर भाग गया था नीरव मोदी


पंजाब नेशनल बैंक घोटाले पर वित्त मंत्री अरुण जेटली ने चुप्पी साध ली है लेकिन केंद्रीय इस्पात मंत्री चौधरी वीरेंद्र सिंह ने कहा है कि पीएनबी का मामला बड़ा है. जांच होनी चाहिए और कार्रवाई होनी चाहिए.


नीरव मोदी-मेहुल चोकसी के खाते फ्रॉड घोषित
वहीं, पीएनबी से नीरव मोदी ने 2000 करोड़ और मेहुल चौकसी ने 9000 करोड़ रुपये लिए थे. ये दोनों विदेशों से कच्चा हीरा आयात करते थे. सीबीआई ने दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है. नीरव मोदी और मेहुल चौकसी की कंपनियों के वो खाते जिनके ज़रिए घोटाला हुआ उन्हें पीएनबी ने फ्रॉड खाता घोषित कर दिया है. नीरव मोदी ने बैंक से पैसे लौटाने के लिए छह महीनों का वक्त मांगा था, लेकिन सूत्रों के मुताबिक, बैंक ने उनकी इस मांग को खारिज कर दी और उनके खिलाफ कानूनी शिकायत जांच एजेंसियों से कर दी.


पीएनबी के एमडी का बयान
पंजाब नेशनल बैंक के एमडी सुनील मेहता ने आज मीडिया से बात करते हुए कहा कि उनके बैंक ने ही सबसे पहले इस मामले को पकड़ा था. उन्होंने कहा कि बैंक जांच एजेंसियों के साथ सहयोग कर रहा है. पीएनबी के एमडी सुनील मेहता ने साढ़े ग्यारह हजार करोड़ के घोटाले को कैंसर कहा और कहा कि बैंक ने जो एक्शन लिया है वो इस कैंसर की सर्जरी है. प्रेस कॉन्फ्रेंस में बैंक के एमडी ने माना कि नीरव मोदी ने पैसे लौटाने की पेशकश की थी.


कैसे हुआ घोटला?
आरोप है कि पंजाब नेशनल बैकं के दो अधिकारियों की मिलीभगत से नीरव मोदी और उनके सहयोगियो ने साल 2017 में विदेश से सामान मंगाने के नाम पर बैंकिंग सिस्टम में जानकारी डाले बिना ही आठ एलओयू (लेटर ऑफ अंडरटेकिंग) जारी करवा दिए, जिससे बैंक को 280 करोड रुपये से ज्यादा का नुकसान हुआ. हालांकि ये पूरा घोटाला 11 हजार 500 करोड़ का है.


फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title: PNB Fraud case, lookout notice issued against neerav modi
Read all latest Business News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story राजस्थान विधानसभा भवन में 'बुरी आत्माओं' का साया, हवन कराने की मांग