चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस में पुलिस ने कहा: 'केस का मीडिया ट्रायल हो रहा है'

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस में पुलिस ने कहा: 'केस का मीडिया ट्रायल हो रहा है'

चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस पर आज चंडीगढ़ पुलिस ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई गई थी जिसमें एसएसपी ईश सिंघल ने जानकारी दी कि केस पर किसी के भी दबाव में जांच नहीं हो रही है. जरूरत पड़ने पर केस में नई धाराएं जोड़ी जा सकती हैं और पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है. पर ऐसा लग रहा है कि इस केस का मीडिया ट्रायल हो रहा है.

By: | Updated: 07 Aug 2017 06:02 PM
नई दिल्लीः चंडीगढ़ छेड़छाड़ केस पर आज शाम एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई गई थी. इस प्रेस कॉन्फ्रेंस में चंडीगढ़ के एसएसपी ईश सिंघल ने जानकारी देते हुए कहा कि किसी के भी दबाव में केस की जांच नहीं हो रही है. पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है और पर ऐसा लग रहा है कि इस केस का मीडिया ट्रायल हो रहा है.

घटना के आगे का अपडेट देते हुए बताया कि पुलिस ने पूरा क्राइम सीन रीक्रिएट किया है और सीसीटीवी फुटेज निकालने की प्रक्रिया चल रही है. हालांकि एसएसपी सिंघल ने मीडिया कवरेज पर सवाल भी उठाते हुए कहा कि पुलिस बिना दबाव के काम कर रही है पर मीडिया में इसे हाई-प्रोफाइल केस बताकर बेवजह की बातें भी कथित आरोपियों और चंडीगढ़ पुलिस के खिलाफ फैलाई जा रही हैं.

चंडीगढ़ छेड़खानी केस: कठघरे में पुलिस, अपहरण की कोशिश की शिकायत के बाद भी नहीं लगाई धारा

पुलिस पर उठ रहे हैं लगातार सवाल
गौरतलब है कि चंडीगढ़ में छेड़खानी की घटना को लेकर लगातार पुलिस पर सवाल उठ रहे हैं, पुलिस पर हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष सुभाष बराला के बेटे विकास बराला को बचाने का आरोप लग रहा है. चंडीगढ़ में छेड़खानी की घटना इसलिए भी ज्यादा सुर्खियों में शामिल हो गई है क्योंकि इसमें हरियाणा बीजेपी नेता के अध्यक्ष के बेटे विकास बराला का नाम प्रमुख रूप से सामने आ रहा है.

हरियाणा BJP अध्यक्ष के बेटे ने की छेड़छाड़ की कोशिशः पीड़िता ने ABP NEWS पर सुनाई आपबीती

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शिकायतकर्ता वर्णिका कुंडु ने पुलिस में अपनी शिकायत में लड़कों पर अपहरण की कोशिश का आरोप भी लगाया था, लेकिन पुलिस ने वर्णिका की इस शिकायत को FIR का हिस्सा नहीं बनाया, जिसकी वजह से हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष के बेटे विकास बराला को थाने से ही जमानत मिल गई.
चंडीगढ़: पीड़ित लड़की ने फेसबुक पर लिखी आपबीती, कहा- मेरे साथ हो सकता था रेप और मर्डर

चंडीगढ़ में छेड़छाड़ की घटना बनी राजनीतिक बहस का मुद्दा
चंडीगढ़ में आईएएस की बेटी के साथ छेड़छाड़ की घटना में नए अपडेट के तहत एबीपी न्यूज को सूत्रों से जानकारी मिली है कि जिन रास्तों पर वर्णिका कुंडु का पीछा किया गया उन रास्तों पर लगे 9 में से छह सीसीटीवी कैमरों की फुटेज गायब है. इसके बाद सवाल साफ हैं कि सीसीटीवी में कैद तस्वीरें किसने गायब की हैं? बड़ा सवाल ये भी है कि आरोपी हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष का बेटा नहीं होता तो क्या ऐसे ही आसानी से छूट सकता था?

चंडीगढ़ छेड़खानी मामला: राहुल समेत विपक्ष के कई बड़े नेताओं का BJP पर तीखा हमला

क्या है पूरा मामला?
हरियाणा में एक वरिष्ठ IAS की बेटी ने बीजेपी नेता सुभाष बराला के बेटे विकास पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया था. लड़की का आरोप है कि विकास बराला और उसका दोस्त आशीष कुमार एक पेट्रोल पंप से ही उनकी कार का पीछा कर रहे थे और कार का दरवाज़ा खोलने की कोशिश की. लड़की के कई बार फोन करने पर पुलिस वहां पहुंची और दोनों लड़कों को गिरफ़्तार कर लिया. इसके बाद पीड़िता ने फेसबुक पर लिखा, ‘खुशकिस्मत हूं कि रेप के बाद नाले में नहीं मिली.’ हालांकि उस समय लड़की को ये नहीं पता था कि वो हरियाणा बीजेपी अध्यक्ष का बेटा है.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest Crime News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story SSC CHSL Tier I: एसएससी ने जारी किया एडमिट कार्ड, ऐसे करें डाउनलोड