गजेंद्र  के जीवन के अंतिम 24 घंटों को बारीकी से देखना चाहती है पुलिस

By: | Last Updated: Wednesday, 29 April 2015 5:08 AM

नई दिल्ली: दिल्ली पुलिस किसान गजेंद्र  के मोबाइल फोन डेटा का विश्लेषण कर उसके जीवन के अंतिम 24 घंटों को बारीकी से देखना चाहती है. वह उन लोगों से पूछताछ करना चाहती है जिनसे गजेंद्र  ने बातचीत की और जिनसे वह मिला था.

 

गजेंद्र  ने जंतर मंतर पर किसान रैली के दौरान कथित रूप से आत्महत्या कर ली थी.

 

गजेंद्र  के मोबाइल लॉग से उसके एक रिश्तेदार का नंबर मिला. उसने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया कि, गजेंद्र  ने उसे यह कहते हुए टीवी ऑन करने को कहा था कि ‘‘कुछ बड़ा आने वाला है.’’

 

जांच से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘‘सिंह के पैतृक गांव, दौसा राजस्थान के रहने वाले रिश्तेदार को उसने (22 अप्रैल को) दोपहर करीब एक बजे फोन किया था. सिंह ने उससे कहा, टीवी देखो, देखो कुछ बड़ा होने वाला है.’’

 

पुलिस ने कहा, वह पता करने का प्रयास कर रही है कि क्या गजेंद्र  की बातों में फोन के तुरंत बाद आम आदमी पार्टी की रैली में हुए घटनाक्रम के संबंध में क्या कोई संकेत था .

 

गजेंद्र  के पेड़ पर चढ़कर, गले में गमछा लपेट कर फांसी पर झूलने से पहले वह जिन लोगों के संपर्क में था उनसे भी पूछताछ की जा रही है. यह जानने का प्रयास किया जा रहा है कि क्या गजेंद्र  में पहले से आत्महत्या करने के कुछ लक्षण दिख रहे थे.

 

पुलिस ने बताया कि गजेंद्र  को पेड़ पर चढ़ते देखने वाले दो प्रत्यक्षदर्शियों और उसे नीचे उतारने के लिए पेड़ पर चढ़े आप के तीन कार्यकर्ताओं से भी पूछताछ की जा रही है.

 

दौसा से निकल कर गजेंद्र  के दिल्ली पहुंचने के बीच की गतिविधियों का भी पुलिस जांच कर रही है. पुलिस का कहना है, ‘‘इनसभी से हमें पता चल सकेगा कि वह यहां आत्महत्या करने आया था या फिर दुर्घटनावश उसकी मौत हो गयी.’’

 

इसबीच दिल्ली के पुलिस आयुक्त बी. एस. बस्सी ने मीडिया में आ रही उन खबरों को गलत बताया कि जिनमें कहा जा रहा है कि पुलिस विभाग ने दिल्ली सरकार को एक रिपोर्ट भेजकर घटना को दुर्घटनावश हुई मौत बताया है.

 

बस्सी ने कहा, ‘‘जहां तक मुझे पता है, दिल्ली पुलिस ने कोई रिपोर्ट दिल्ली सरकार को नहीं भेजी है. नयी दिल्ली के पुलिस उपायुक्त और जिला मजिस्ट्रेट में बीच कुछ पत्रव्यवहार जरूर हुआ है. जैसा कि मैंने पहले भी आपको बताया है, इस तरह के संवाद में गोपनीयता होती है और उनका खुलासा करना उचित नहीं होगा.’’

 

उन्होंने कहा कि सूचनाएं उस वक्त साझा की जाएंगी जब जांच के दौरान कुछ साझा करने लायक होगा.

 

यह पूछने पर कि आप की रैली के दौरान जब किसान ने कथित रूप से आत्महत्या कर ली, उस दौरान वहां मंच पर मौजूद दिल्ली सरकार के कैबिनेट सदस्यों से पूछताछ की जाएगी, बस्सी ने कहा कि इस संबंध में निर्णय लेने का अधिकार जांच अधिकारी के पास है.

 

नयी दिल्ली जिले के जिलाधिकारी संजय कुमार ने कहा कि वे लोग जांच रिपोर्ट शुक्रवार को सौपेंगे.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Police seek to reconstruct last 24-hrs of Gajendra’s life
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Delhi Police gajendra singh
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017