वृन्दावन में राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिए लंगूरों की सहायता लेगा जिला प्रशासन

By: | Last Updated: Thursday, 13 November 2014 5:11 PM

मथुरा: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अगले रविवार को वृन्दावन में प्रस्तावित दुनिया के सबसे ऊंचे वृन्दावन चंद्रोदय मंदिर की आधारशिला रखने के लिए आ रहे हैं. उनकी सुरक्षा के लिए प्रशासन लंगूरों की सहायता लेगा.

 

जिला प्रशासन के अनुसार राष्ट्रपति की सुरक्षा के लिहाज से उनके वृन्दावन आगमन पर वैसे तो तकरीबन डेढ़ हजार पुलिसकर्मियों सहित चार दर्जन गैजटेड पुलिस अधिकारियों को लगाया जाएगा. राष्ट्रपति वृन्दावन में दो घण्टे रहेंगे. सुरक्षा के लिए चप्पे-चप्पे पर जवानों की तैनाती की जा रही है.

 

एडिशनल एसपी (नगर) मनोज कुमार सोनकर को चिंता जतायी है कि जब राष्ट्रपति बैटरी कार में बैठकर वृन्दावन की तंग गलियों से होते हुए ठाकुर बांकेबिहारी मंदिर पहुंचे तो कहीं किसी भी कंगूरे से उतरकर कोई बंदर उन पर हमला न कर दे.

 

उन्होंने विशेष तौर पर दिल्ली-आगरा नेशनल हाईवे पर स्थित छटीकरा गांव से लेकर वृन्दावन तक के छह किमी के मार्ग को आम आदमी के लिए प्रतिबंधित करने के साथ मंदिर के आसपास के बाजारों को बंद कराने का आदेश देते हुए मंदिर के आसपास डेढ़-दर्जन लंगूरों को तैनात करने का इंतजाम किया गया है.

 

सोनकर ने बताया कि वह राष्ट्रपति के मंदिर आगमन पर उनकी व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे. उन्होंने बताया कि पुलिस, प्रशासन से लेकर सेना के अधिकारी भी इस जिम्मेदारी को निभाने में पूरा सहयोग कर रहे हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: pranab mukherjee_temple
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Pranab Mukherjee temple
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017