असली गंदगी सड़कों पर नहीं है बल्कि दिमाग में है : राष्ट्रपति

By: | Last Updated: Tuesday, 1 December 2015 7:20 AM

नई दिल्ली/अहमदाबाद : गुजरात के अहमदाबाद में राष्ट्रपति ने अहम बयान दिया है. देश में कथित असहिष्णुता पर चल रही बहस और संसद में इस विषय पर हो रहे हंगामें के बीच राष्ट्रपति ने बांटने वाली सोच को बंद करने की सलाह दी है. इससे पहले भी राष्ट्रपति निरंतर अंतरालों पर इन मसलों को लेकर सलाह देते नजर आए हैं. साथ ही इशारा किया कि हमें अपने दिमाग को साफ करने की जरूरत है.

 

पढ़ें : राष्ट्रपति की नसीहत, कुछ घटनाओं से विचलित न हों बुद्धिजीवी

 

गुजरात की अपनी पहली तीन दिवसीय यात्रा पर यहां आए मुखर्जी ने कहा, ‘हमें स्वच्छ भारत अभियान का स्वागत करना चाहिए और इस सराहनीय अभियान को सफल बनाना चाहिए. हालांकि इसे हमारे दिमागों को साफ करने और गांधी जी की सोच को इसके सभी पहलुओं के साथ साकार करने के एक अधिक बड़े प्रयास की शुरूआत मात्र के रूप में देखा जाना चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘जब तक सिर पर मैला ढोने की अमानवीय प्रथा है, तब तक हम असल स्वच्छ भारत को प्राप्त नहीं कर सकते.’

 

देखें वीडियो-

सड़क से पहले जरूरी है दिमाग की सफाई: राष्ट्रपति 

 

पढ़ें : भारत के राष्ट्रपति-पीएम ने की हमले की निंदा, फ्रांस के साथ दुनिया

 

मुखर्जी ने कहा कि गांधी जी केवल ‘राष्ट्रपिता’ नहीं है बल्कि हमारे देश के निर्माता भी हैं. उन्होंने हमारे कार्यों को निर्देशित करने के लिए हमें नैतिक बल दिया, एक ऐसा तरीका जिससे हमें आंका जाता है. उनके अनुसार ‘गांधीजी ने भारत को एक ऐसे समावेशी देश के रूप में देखा था जहां हमारी जनसंख्या का हर वर्ग समानता के साथ रहे और उसे समान अधिकार मिलें. उन्होंने भारत को एक ऐसे देश के रूप में देखा जो अपनी अतुल्य विविधिता और बहुलवाद के प्रति प्रतिबद्धता को लगातार मजबूत करे.’

 

पढ़ें : सहिष्णुता और असंतोष को स्वीकार करने की क्षमता क्या खत्म हो रही है?

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: President Pranab Mukherjee today urged the cleansing of minds of divisive thoughts
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017