राष्ट्रपति चुनाव: कोविंद के बारे में वो सबकुछ जो आप जानना चाहते हैं

एनडीए ने राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद को अपना उम्मीदवार घोषित किया था. आज रामनाथ कोविंद की जीत तय मानी जा रही है. रामनाथ कोविंद पिछले तीस साल से राजनीति में हैं. दलितों के कोली समुदाय से ताल्लुक रखने वाले कोविंद का जन्म कानपुर देहात के एक छोटे से गांव परौख में हुआ.

By: | Last Updated: Thursday, 20 July 2017 7:43 AM
presidential election results: all you need to know about NDA Presidential Candidate Ram Nath Kovind

नई दिल्ली: एनडीए ने राष्ट्रपति पद के लिए रामनाथ कोविंद को अपना उम्मीदवार घोषित किया था. आज रामनाथ कोविंद की जीत तय मानी जा रही है. रामनाथ कोविंद पिछले तीस साल से राजनीति में हैं. दलितों के कोली समुदाय से ताल्लुक रखने वाले कोविंद का जन्म कानपुर देहात के एक छोटे से गांव परौख में हुआ.

अपने लम्बे राजनीतिक जीवन में शुरू से ही अनुसूचित जातियों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों और महिलाओं की लड़ाई लड़ने वाले कोविंद इस वक्त बिहार के राज्यपाल हैं. उन्हें आठ अगस्त 2015 को बिहार का राज्यपाल बनाया गया था.

अगर चुने जाते हैं तो यूपी से आने वाले पहले राष्ट्रपति होंगे कोविंद

बीजेपी दलित मोर्चा और अखिल भारतीय कोली समाज के अध्यक्ष रह चुके कोविंद बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता के तौर पर भी सेवाएं दे चुके हैं. अटल बिहारी वाजपेयी और लालकृष्ण आडवाणी युग के रामनाथ कोविंद उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सबसे बड़े दलित चेहरा माने जाते थे. कोविंद अगर राष्ट्रपति चुने जाते हैं तो वह उत्तर प्रदेश से आने वाले पहले राष्ट्रपति होंगे.

kovind-new-gfxसंघ के बड़े नेताओं के करीब रहे हैं रामनाथ

कानपुर शहर से 80 किलोमीटर दूर कानपुर देहात के रनौख-परौख जुड़वां गांव हैं. यहीं परौख में जन्मे रामनाथ अब देश की सबसे बड़ी कुर्सी पर बैठने वाले हैं. रामनाथ के करीबी मानते हैं कि रामभक्त होने के नाते संघ के बड़े नेताओं के दिल के वो हमेशा करीब रहे हैं और राष्ट्रपति पद पर चयन के लिहाज से ये खूबी भी उनके पक्ष में गईं.

रामनाथ का राजनीतिक सफर

रामनाथ ने 1990 में बीजेपी में शामिल होकर लोकसभा चुनाव लड़ा. चुनाव तो हार गए लेकिन 1993 और 1999 में पार्टी ने इन्हें राज्यसभा भेज दिया गया. इस दौरान रामनाथ बीजेपी अनुसूचित मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी बने. साल 2007 में रामनाथ बोगनीपुर विधानसभा सीट से चुनाव लड़े लेकिन फिर जीत नहीं सके. इसके बाद उन्हें यूपी बीजेपी संगठन में सक्रिय करके प्रदेश का महामंत्री बनाया गया और पिछले साल अगस्त में बिहार का राज्यपाल बनाया गया.

कोविंद राज्यसभा सदस्य के रूप में अनेक संसदीय समितियों में महत्वपूर्ण पदों पर रहे. खासकर अनुसचित जातिाजनजाति कल्याण सम्बन्धी समिति, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता और कानून एवं न्याय सम्बन्धी संसदीय समितियों में वह सदस्य रहे.

दिल्ली हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में की वकालत

एलएलबी की पढ़ाई करने के बाद रामनाथ ने आईएएस की तैयारी की थी. सिविल सर्विसेज की परीक्षा पास भी की लेकिन आईएएस कैडर न मिलने की वजह से उन्होंने वकालत करने का फैसला किया. रामनाथ कोविंद ने दिल्ली हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट में वकालत की. 1977 से 1979 तक दिल्ली हाई कोर्ट में केंद्र सरकार के वकील रहे. जबकि 1980 से 1993 तक सुप्रीम कोर्ट में वकालत की.

एक वकील के रूप में कोविंद ने हमेशा गरीबों और कमजोरों की मदद की. खासकर अनुसूचित जातिाअनुसूचित जनजाति के लोगों, महिलाओं, जरूरतमंदों और गरीबों की वह फ्री लीगल एड सोसाइटी के बैनर तले मदद करते थे.

अक्तूबर 2002 में कोविंद ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को सम्बोधित किया था

कोविंद लखनऊ स्थित भीमराव अम्बेडकर विश्वविद्यालय के प्रबन्धन बोर्ड के सदस्य और भारतीय प्रबन्धन संस्थान कोलकाता के बोर्ड आफ गवर्नर्स के सदस्य भी रह चुके हैं. कोविंद ने संयुक्त राष्ट्र में भारत का प्रतिनिधित्व भी किया है और अक्तूबर 2002 में उन्होंने संयुक्त राष्ट्र महासभा को सम्बोधित किया था.

सरल और सौम्य स्वभाव के कोविंद का कानपुर से है गहरा रिश्ता है. भले ही वह इस समय वह बिहार के राज्यपाल हों लेकिन कानपुर से लगातार उनका जुड़ाव रहा है. यही कारण है कि वह समय समय पर उत्तर प्रदेश का दौरा करते रहे हैं.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: presidential election results: all you need to know about NDA Presidential Candidate Ram Nath Kovind
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Related Stories

कश्मीरी पंडितों के नरसंहार मामले की जांच से सुप्रीम कोर्ट का इंकार
कश्मीरी पंडितों के नरसंहार मामले की जांच से सुप्रीम कोर्ट का इंकार

नई दिल्लीः कश्मीर में 27 साल पहले हुए पंडितों के नरसंहार की जांच से सुप्रीम कोर्ट ने इंकार कर...

सरकार की अनदेखी की वजह से देश में बनते हैं बाढ़ के हालात : CAG रिपोर्ट
सरकार की अनदेखी की वजह से देश में बनते हैं बाढ़ के हालात : CAG रिपोर्ट

नई दिल्ली: इस समय देशभर का करीब का आधा हिस्सा बारिश औऱ बाढ़ की वजह से बेहाल है. सरकार की तरफ से हर...

इराक में लापता भारतीयों पर सरकार से अकाली का सवाल, बताएं जिंदा हैं या नहीं
इराक में लापता भारतीयों पर सरकार से अकाली का सवाल, बताएं जिंदा हैं या नहीं

शिरोमणि अकाली दल के प्रेम सिंह चंदूमाजरा ने सदन में शून्यकाल के दौरान यह मसला उठाते हुए कहा कि 39...

गोरक्षा पर स्पीकर की ओर कागज उछालने वाले सांसदों को सजा, 5 दिन तक संसद आने पर रोक
गोरक्षा पर स्पीकर की ओर कागज उछालने वाले सांसदों को सजा, 5 दिन तक संसद आने पर...

नई दिल्ली: भीड़ की हिंसा और गोरक्षा के मुद्दे पर आज लोकसभा में खूब हंगामा हुआ. कांग्रेस इस...

अचानक आई बाढ़ में फंसा टैंकर ड्राइवर, मुश्किल से बची जान
अचानक आई बाढ़ में फंसा टैंकर ड्राइवर, मुश्किल से बची जान

जम्मू: पानी की धार जब अपनी मनमौजी चाल में उफनती है तो पूरे आन बान शान से धरती का टीका और ध्वज बने...

मुश्किल में लालू की बेटी और दामाद, ‘मीसा और शैलेश का फार्म हाऊस जब्त करेगा ईडी’
मुश्किल में लालू की बेटी और दामाद, ‘मीसा और शैलेश का फार्म हाऊस जब्त करेगा...

नई दिल्ली: बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की बेटी मीसा भारती और दामाद शैलेश कुमार...

मुंबई: सड़क के गड्ढे ने ली बाइकिंग की जुनूनी जागृति की जान
मुंबई: सड़क के गड्ढे ने ली बाइकिंग की जुनूनी जागृति की जान

मुंबई: मुंबई की एक महिला बाइकर जागृति होगले की ट्रक से कुचलने जाने की घटना में मौत हो गई है....

राष्ट्रपति के तौर पर अपनी यादों का एक झरोखा छोड़े जा रहे हैं प्रणब दा
राष्ट्रपति के तौर पर अपनी यादों का एक झरोखा छोड़े जा रहे हैं प्रणब दा

नई दिल्ली: 25 जुलाई 2012 को भारत के 13वें राष्ट्रपति के रूप में जिम्मेदारी संभालने वाले राष्ट्रपति...

चीन ने फिर दी भारत को युद्ध की धमकी, बोला- ‘हमारी सेना को हिला पाना मुश्किल’
चीन ने फिर दी भारत को युद्ध की धमकी, बोला- ‘हमारी सेना को हिला पाना मुश्किल’

बीजिंग:  चीन ने भारत को एक बार फिर युद्ध की धमकी दी है. चीन की सेना के प्रवक्ता ने कहा है कि चीन...

पहले सेटेलाइट 'आर्यभट्ट' बनाने वाले 'हॉल ऑफ फेम' वैज्ञानिक रामचंद्र राव नहीं रहे
पहले सेटेलाइट 'आर्यभट्ट' बनाने वाले 'हॉल ऑफ फेम' वैज्ञानिक रामचंद्र राव नहीं...

नई दिल्ली: जाने माने अंतरिक्ष वैज्ञानिक और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के पूर्व...

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017