प्रेस कॉन्फ्रेंस: पाक उच्चायुक्त ने कहा, 'पकड़े गए जिंदा आंतकवादी हमारे देश के नहीं'

By: | Last Updated: Saturday, 5 September 2015 11:47 AM
Press Confrence

नई दिल्ली: आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान भारत के दिए सबूतों को न पहले मानता आया है और न अब मान रहा है. ABP न्यूज के कार्यक्रम प्रेस कॉन्फ्रेंस में पाकिस्तान के उच्चायुक्त ने दाऊद के टेलीफोन बिल को फर्जी कहा है. जबकि पाकिस्तान ने आतंक के दो जिंदा सबूतों को भी अपना बताने से इंकार कर दिया है.

 

पाकिस्तानी आतंक के दो चेहरे नवेद और सज्जाद को भारत ने पिछले दिनों जिंदा पकड़ा था. पूछताछ में इन दोनों ने कुबूल किया कि वो पाकिस्तान के बाशिंदे हैं और उन्होंने वहां के आतंकी ट्रेनिंग कैंपों में प्रशिक्षण मिला है लेकिन इन दो जिंदा सबूतों के बावजूद पाकिस्तान ये मानने को तैयार नहीं है कि दोनों आतंकी उसके ही मुल्क के हैं.

प्रेस कॉन्फ्रेंस: क्या पाकिस्तान कभी PoK को भारत को वापस देगा? 

ABP न्यूज के कार्यक्रम प्रेस कॉन्फ्रेंस में वरिष्ठ पत्रकार दिबांग के सवाल पर पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने नवेद, सज्जाद को अपना मानने से इनकार कर दिया है.

 

भारत के दुश्मन नंबर 1 दाऊद इब्राहिम के इसी टेलीफोन बिल और पासपोर्ट के आधार पर भारत ने दाऊद के पाकिस्तान में होने का सबूत पाकिस्तान को सौंपा है. यहां तक कि भारत ने दाऊद के पाकिस्तान में नौ ठिकानों की जानकारी भी दी है. लेकिन पाकिस्तान इसे भी फर्जी करार दे रहा है.

 

पिछले महीने दिल्ली में होने वाली एनएसए स्तर की बातचीत तोड़ने वाला पाकिस्तान अब आमने-सामने बैठकर बातचीत भी करने के मूड में नहीं है.

 

आतंकवाद के खिलाफ पाकिस्तान की दोहरी नीति की झलक अब्दुल बासित के बयानों से हो रही है. ऐसे में सवाल उठना लाजमी है कि खुद आतंकवाद का सबसे बड़ा शिकार पाकिस्तान इससे लड़ने के लिए ईमानदार पहल क्यों नहीं करना चाहता.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Press Confrence
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: abdul basit ABP News press confrence
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017