punjab and haryana high court_prisoners_jail_

punjab and haryana high court_prisoners_jail_

By: | Updated: 07 Jan 2015 01:09 PM

नई दिल्ली: पंजाब और हरियाणा हाईकोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसला सुनाया है. कोर्ट ने कहा है कि जेल में बंद कैदी अब अपने पति या पत्नी के साथ सेक्स संबंध बना सकते हैं. कोर्ट ने साथ ही एक कमेटी बनाने का आदेश दिया है जो यह तय करेगा कि किस तरह के कैदियों को और किस स्थिति में ये अधिकार दिए जाएंगे.

 

आपको बता दें कि जसवीर और सोनिया केस मामले में कोर्ट ने यह फैसला सुनाया है. जसवीर और सोनिया पटियाला के सेंट्रल जेल में कैदी है. दोनों को 16 साल के एक बच्चे के अपहरण और हत्या के मामले में मौत की सजा सुनाई गई है.

 

एक कैदी पति-पत्नी के मामले में निर्णय देते समय कोर्ट ने कहा जेल में बंद कैदी को अपने पति या पत्नी से सेक्स संबंध बनाने और बच्चा पैदा करने का अधिकार है. कोर्ट ने आगे कहा संविधान के मुताबिक यह एक मौलिक अधिकार है और जेल में बंद कैदियों को इससे दूर नहीं रखा जा सकता है.

 

हाईकोर्ट ने यह भी आदेश दिया कि हाईकोर्ट के एक रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में कमेटी का गठन किया जाए. कमेटी जेलों में बंद कैदियों की हालत को समझकर एक दिशा-निर्देश बनाएगी. कमेटी ही यह तय करेगी किस तरह के कैदियों को और किस स्थिति में ये अधिकार दिया जाएगा.

 

आपको बता दें कि जेल के अंदर ही सुविधा बनाई जाएगी जहां कैदी की पत्नी या उसका पति उससे मिल सके. कोर्ट ने स्पष्ट किया है कि किस तरह के कैदी को यह अधिकार दिया जाएगा इसका फैसला सरकार करेगी. इसमें सामाजिक सरोकार और कानून व्यवस्था का भी ख्याल रखा जायेगा.

 

कोर्ट ने अपने फैसले में यह भी कहा कि हर व्यक्ति को अपने खानदान को बढ़ाने का अधिकार है. इसलिए कैदियों को यह अधिकार मिलना चाहिए.

 

आपको बता दें कि ब्रिटेन और अमेरिका में पहले से ही कैदियों के लिए इस तरह के प्रावधान मौजूद हैं.

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार देश में ‘सबसे ज्यादा भ्रष्ट’- अमित शाह