पंजाब में पेट्रोल और डीजल हुआ महंगा

By: | Last Updated: Thursday, 21 May 2015 1:32 AM

चंडीगढ़/नई दिल्ली: पंजाब सरकार ने अतिरिक्त राजस्व जुटाने के लिए विभिन्न ‘शुल्क’ व कर लगाने का फैसला किया है जिससे राज्य में पेट्रोल, डीजल, बिजली व चीनी के साथ साथ संपत्ति का पंजीकरण महंगा हो जाएगा.

 

उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल की अध्यक्षता में हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय का फैसला किया गया. हालांकि सरकार की ओर से यह नहीं बताया गया कि मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल बैठक में क्यों नहीं आए.

 

राज्य सरकार इन कदमों के जरिए सालाना 1,400 करोड़ रपये अतिरिक्त जुटाना चाहती है.

 

इसके तहत सरकार ने डीजल पर एक रपये प्रति लीटर का ‘आईडी शुल्क’ लगाने तथा पेट्रोल पर ‘आईडी शुल्क’ को एक रपये से बढाकर दो रपये करने का फैसला किया है. स्थानीय करों को शामिल करने के बाद यह बढ़ोतरी कहीं अधिक यानी डीजल के लिए लगभग 12 प्रतिशत तथा पेट्रोल के लिए लगभग 30 प्रतिशत होगी.

 

आधिकारिक बयान के अनुसार मंत्रिमंडल ने ‘खपत की गई बिजली के मूल्य’ पर पांच प्रतिशत आईडी शुल्क लगाने का फैसला किया है जिससे सभी तरह के ग्राहकों के लिए बिजली महंगी हो जाएगी.

 

मुख्यमंत्री कार्यालय द्वारा जारी बयान के अनुसार,‘ इन कदमों से सालाना 1,400 करोड़ रपये का अतिरिक्त राजस्व मिलने की उम्मीद है.’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: punjab_petrol_diesel_prices_hiked
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: Diesel petrol
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017