r ashwin

r ashwin

By: | Updated: 05 Mar 2015 10:42 AM

पर्थ: टीम इंडिया के ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को अच्छा लगता है जब उनके सामने कोई बड़ा बल्लेबाज हो. यही वजह है कि आईसीसी क्रिकेट विश्व कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ कल होने वाले मैच में वह आक्रामक क्रिस गेल को लेकर दहशत में नहीं बल्कि उन्हें चुनौती देने को लेकर उत्साहित हैं.

 

गेल की चुनौती -

अश्विन ने मैच से पहले कहा, ‘‘केवल क्रिस गेल ही नहीं बल्कि विश्व क्रिकेट के किसी भी आक्रामक बल्लेबाज को लेकर मेरी राय ऐसी है. जो भी आक्रामक खेलता है वह आपको हावी नहीं होने देना चाहता. इसी तरह से मैं विकेट लेने पर ध्यान देता हूं और जो भी मुझे खतरनाक बल्लेबाज लगता है उसका विकेट लेने के लिये अपनी जीजान लगा देता हूं. मुझे यह पसंद है. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं मैदान पर उतरकर यह जानने की कोशिश करता हूं कि मैं किसी खास मैच में कितना प्रभाव छोड़ सकता हूं. चाहे क्रिस गेल हो, एबी डिविलियर्स या कोई और. मैं उन्हें आउट करने पर ध्यान देता हूं. एक बार आप उन्हें आउट कर देते तो फिर आपके लिये काम आसान हो जाता है. ’’

 

सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का इंतजार -

 

अश्विन ने अब तक विश्व कप में तीन मैचों में आठ विकेट लिये हैं लेकिन वह इसे अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी नहीं मानते. उन्होंने कहा, ‘‘मैं खुश हूं. विकेट लेने से खुशी मिलती है. अच्छा प्रदर्शन करके हमेशा सुखद अहसास होता है. इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है. मेरा मानना है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में गेंदबाज के रूप में मेरी यात्रा में मुझे काफी कुछ सीखने को मिला. कभी आपको लगता है कि आप वास्तव में बहुत अच्छी गेंदबाजी कर रहे हो और इस दौर में आपको काफी कुछ सीखने को मिलता है. इसलिए आप यह नहीं कह सकते कि आप अपनी सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी कर रहे हो. ’’

 

वेस्टइंडीज के खिलाफ अश्विन की तैयारी -

 

मैच को लेकर अपनी तैयारियों के बारे में अश्विन ने कहा, ‘‘मैच के लिये तैयारियों की बात है तो यह हमेशा की तरह हैं. हम प्रत्येक टीम के खिलाफ खेलने के लिये ऐसी तैयारी करते हैं जैसे हमें बड़ी टीम से भिड़ना है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. हम कल अच्छा प्रदर्शन करने के लिये आश्वस्त हैं. ’’

 

सेमीफाइनल के बारे में नहीं सोचती टीम -

 

इस गेंदबाज ने हालांकि काफी सतर्कता बरतते हुए बात की और उन्होंने कहा कि वह अभी से सेमीफाइनल के बारे में नहीं सोच रहे हैं. अश्विन ने कहा, ‘‘अभी हम वहां नहीं पहुंचे हैं. अभी तीन मैच खेलने हैं और आयरलैंड भी अच्छी क्रिकेट खेल रहा है. हमारे ग्रुप में क्या हो रहा है हम उससे अच्छी तरह वाकिफ हैं. हमारे लिये यह महत्वपूर्ण है कि हम एक बार में एक मैच पर ध्यान दें. हम प्रत्येक मैच को नॉकआउट मैच की तरह ले रहे हैं. ’’

 

ट्राई सीरीज के बारे में अश्विन की राय -

 

भारतीय क्रिकेट टीम के निदेशक रवि शास्त्री ने हाल में पीटीआई से साक्षात्कार में कहा था कि विश्व कप से पहले त्रिकोणीय वनडे श्रृंखला समय की बर्बादी थी. इस बारे में अश्विन से पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘आप जानते हैं कि किसी के विचार पर टिप्पणी करना बहुत कठिन है क्योंकि उन्होंने इसे समय की बर्बादी बताया और यदि मैं कहूंगा कि यह समय की बर्बादी नहीं था तो विरोधाभास पैदा हो जाएगा. इसलिए मैं इस रास्ते पर नहीं जाने वाला. मुझे लगता है कि वह यह कहना चाहते थे कि खिलाड़ियों के लिये यह थका देने वाला रहा. ’’ उन्होंने कहा, ‘‘आप साल के 12 महीने क्रिकेट खेलते हो और ऐसा समय आता है जबकि आप काफी हताश महसूस करते हो और ऐसे में खुद को प्रेरित करना मुश्किल होता है. वह भी ऐसा ही दौर था और उन्होंने बहुत साफ शब्दों में यह बात कही. ’’

फटाफट ख़बरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर और डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App
Web Title:
Read all latest India News headlines in Hindi. Also don’t miss today’s Hindi News.

First Published:
Next Story बिहार में बेकाबू बोलेरो ने स्कूली बच्चों को रौंदा, 9 की मौत, 20 से अधिक जख्मी