ऋषि-मुनि भी बीफ खाया करते थे: आरजेडी नेता रघुवंश सिंह

By: | Last Updated: Saturday, 10 October 2015 2:12 AM
RaGhuvansh Singh on beef

नई दिल्ली: बीफ पर राजनीति थमने का नाम नहीं ले रही. अखलाक की हत्या के बाद से ही इस पर बयानबाजी जारी है. अब लालू यादव की पार्टी के बड़े नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रघवुंश सिंह ने बीफ को लेकर बड़ा विवादित बयान दिया है. रघुवंश ने कहा है कि बीफ का जिक्र पुराणों में है और ऋषि-मुनि भी बीफ खाया करते थे.

आरजेडी उम्मीदवार राम विचार राय द्वारा कल नामांकन पत्र दाखिल करने के बाद मुजफ्फरपुर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए रघुवंश ने कहा, ‘‘वेदों में लिखा है कि ऋषि-मुनि भी गौमांस खाया करते थे… इस पर अभी (जब चुनाव हो रहे हैं) चर्चा करने की आवश्यक्ता नहीं है.’’ रघुवंश ने कहा कि यह वैचारिक बहस का विषय है और चुनाव के समय इस पर बहस की आवश्यक्ता नहीं है. इसपर बाद में भी बहस की जा सकती है.

 

रघुवंश का यह बयान ऐसे समय में आया है जब गौमांस मुद्दे को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजद प्रमुख लालू प्रसाद के बीच वाकयुद्ध छिड़ा हुआ है .

 

चंद दिनों पहले ही लालू यादव ने भी कहा था कि कुछ हिंदू भी गौमांस खाते हैं. इस बयान पर उनकी काफी आलोचना हुई थी. हालांकि बाद में सफाई पेश करते हुए लालू ने कहा था कि उन्होंने हिंदुओं के बारे में ऐसा नहीं कहा है. लालू ने कहा कि वे बीफ की बात कर रहे हैं ना कि गो मांस की बात कर रहे. एबीपी न्यूज से बातचीत में कहा कि उनके बयान का मतलब गौमांस से नहीं था. बाकी चीजें बाहर रहने वाले हिंदू भी खाते हैं.

 

गोमांस नहीं, मटन रखा था अखलाक के फ्रीज में: फोरेंसिक जांच 

 

इस मसले पर विवादित बयान देने वालों में सपा नेता आजम खान का नाम भी शामिल है. आजम खान ने तो कहा था कि हिम्मत हो तो बीफ बेचने वाले होटलों को बाबरी मस्जिद जैसा तोड़ दो. अखलाक की मौत से नाराज आजम ने  एक बयान जारी कर गोभक्तों को चुनौती देते हुए कहा कि उनके अंदर अगर हिम्मत है तो वो आज के बाद किसी भी होटल के मेन्यू में बीफ की कीमत ना लिखने दें.

 

बीफ पार्टी करने वाले MLA को बीजेपी विधायकों ने सदन में पीटा 

 

आपको बता दें कि 28 सितंबर को बिसाड़ा में अखलाक नामक शख्स को सिर्फ इसलिए पीट-पीटकर मार डाला गया क्योंकि शक था कि उसने गौमांस खाया है. गुस्से का आलम ये था कि पुलिस के पहुंचने के बाद भी भीड़ अखलाक और उसके बेटे को जानवरों की तरह पीट रही थी.

 

बीफ वाले बयान से भड़के लालू ने दी मीडिया को गाली 

 

वहीं अब अखलाक के घर से बरामद मांस के टुकड़े की जांज रिपोर्ट आ गई है. इसमें गोमांस बजाय मटन होने की पुष्टि की गई है. पीड़ीत परिवार लगातार दावा करता आया है कि उनके घर में गोमांस नहीं था. अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया के अनुसार फोरेंसिक जांच में साफ हो गया है कि जो मांस का टुकड़ा हमलावरों ने अखलाक के घर से पाया था वह गोमांस नहीं है. जांच में साफ हो गया है कि मांस के मटन होने की पुष्टि हुई है.

 

आजम की चुनौती, कहा- हिम्मत हो तो बीफ बेचने वाले होटलों को तोड़ दो 

 

दरअसल, 28 सितंबर को बिसाड़ा गांव में किसी निवासी का बछड़ा गायब हो गया था. इसके बाद किसी बच्चे ने अखलाक को एक संदिग्ध प्लास्टिक बैग ले जाते देखा जिसमें मांस होने का शक हुआ. यह खबर फैलते ही गांव के मंदिर से अनाउंसमेंट कर दिया गया कि अखलाक के घर में गोमांस है और वह उसी गायब बछड़े का है. इसके बाद वहां भीड़ ने अखलाक के घर में घुसकर उसकी पीट-पीट कर हत्या कर दी.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: RaGhuvansh Singh on beef
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: akhlaq beef lalu yadav Raghuvansh Singh RJD
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017