बुलेट ट्रेन सिर्फ ‘सूट-बूट’ वाले लोगों के लिए: राहुल गांधी

By: | Last Updated: Tuesday, 16 June 2015 4:10 PM
RAHUL GANDHI

जांजगीर: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर गरीबों और आदिवासियों की उपेक्षा करने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि सरकार भले ही बुलेट ट्रेन के बारे में बात करती हो, लेकिन इन ट्रेनों में सिर्फ ‘सूट-बूट वाले लोग’ सफर कर सकेंगे.

 

उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि केंद्र और छत्तीसगढ़ की भाजपा सरकारों ने विकास के नाम पर भूमि अधिग्रहण किया लेकिन विकास गरीबों और आदिवासियों की चौखट तक नहीं पहुंचा.राहुल ने कहा, ‘‘हम ऐसा विकास नहीं चाहते हैं.’’ उन्होंने इस बात पर जोर दिया कि वह ऐसा विकास नहीं होने देंगे.

 

राहुल ने जांजगीर चांपा जिले में 10 किलोमीटर लंबी पदयात्रा के बाद दभरा गांव में एक सभा को संबोधित करते हुए कहा कि छत्तीसगढ़ के गांव में बच्चे भूख से मर रहे हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहते हैं कि मनरेगा बेकार कार्यक्रम है और इसका मजाक उड़ाते हैं. लेकिन उन्हें गांवों में आकर देखना चाहिए कि मनरेगा में क्या काम हुए हैं. उन्हें अपना 15 लाख रूपए वाला सूट उतारकर गांव आना चाहिए.

 

राहुल ने ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि मोदी अमेरिका और आस्ट्रेलिया का दौरा करते हैं लेकिन वह गांव में दिखाई नहीं दंेगे. यदि गांव में आएंगे तो उन्हें पता चलेगा कि मनरेगा से क्या फायदा हुआ है.

 

गांधी ने कहा कि चुनाव खत्म हो गए हैं और वादे किनारे कर दिए गए हैं. अब वह (मोदी) यहां दिखाई नहीं देने वाले हैं. वे सीधे पांच साल बाद ही दिखाई देंगे. पांच साल बाद जब वह आएंगे तब कहेंगे कि अच्छे दिन आ गए हैं और अच्छे दिन आएंगे तब गांव की जनता उन्हें सबक सिखाएगी.

 

कांग्रेस नेता ने कहा कि वह यहां इसलिए आए हैं क्योंकि वह गांव की जनता के साथ खड़े हैं. मोदी और उनकी सरकार को बताने आए हैं कि आसानी से किसानों की जमीन नहीं दी जाएगी और उन्हें आसानी से दबाया नहीं जा सकता है. और न ही हिंदुस्तान के किसान और आदिवासियों पर दबाव डाला जा सकता है.

 

गांधी ने कहा कि यहां जब वह गांवों का दौरा कर रहे थे तब एक महिला ने कहा कि वह जान दे देगी पर जमीन नहीं देगी. आदिवासी की जिंदगी जंगल से घिरी होती है और अगर जंगल काट दिया जाए तो आदिवासी के पास क्या बचेगा वह खत्म हो जाएगा. जंगल के बिना आदिवासी का कोई भविष्य नहीं है.

 

राहुल गांधी ने कहा कि किसानों और आदिवासियों की हितों की रक्षा करना सबका कर्तव्य है. सबकी जिम्मेदारी है. और वह इस जिम्मेदारी को निभाएंगे तथा पीछे नहीं हटेंगे.

 

उन्होंने कहा कि मोदी की सरकार ने किसानों को बोनस देने और उनके पैदावार की अच्छी कीमत दिलाने का वादा किया था. लेकिन आज स्थिति यह है कि बारिश और ओले पड़ते हैं तब भी किसानों को मुआवजा नहीं दिया जाता है. जारी भाषा संजीव हक गांधी ने कहा कि मोदी विकास की बात करते हैं और कहते है कि देश में बुलेट ट्रेन चलेगी. एक बुलेट ट्रेन में तीन सौ या चार सौ लोग सूट बूट वाले चढ़ेंगे और किसान मजदूर देखते रह जाएंगे.

 

राहुल गांधी ने आरोप लगाया कि दिल्ली में मोदी जो काम कर रहे हैं वही काम रमन सिंह छत्तीसगढ़ में कर रहे हैं. यहां यही कहा जा रहा है कि जमीन और जंगल दो तथा आपको रोजगार दिया जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है.

 

गांधी ने कहा कि छत्तीसगढ़ में गरीबों के राशन में घपला किया गया और चुनाव से पहले सभी का राशन कार्ड बनाया गया तथा बाद में काट दिया गया. इस घपले का पैसा दो तीन उद्योगपतियों तथा कुछ लोगों के हाथ में चला गया.

 

राहुल ने कहा, ‘‘वे आपकी जमीन चाहते हैं और आपसे विकास का वादा करते हैं. वे गरीबों, किसानों और आदिवासियों की जमीन छीनते हैं, लेकिन अमीरों से नहीं छीनते…वे लोग दावा करते हैं कि वे भूमि के बदले रोजगार और विकास देंगे. मैंने जिन लोगों से बात की उनमें से किसी एक भी पुरूष अथवा महिला ने यह नहीं कहा कि उसे नौकरी मिली है.’’ उन्होंने कहा कि जब सरकार बुलेट ट्रेन की बात करती है, तो उसने गरीबों के हितों की उपेक्षा की है.

 

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘‘ट्रेन 400 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी. आप इसे देखेंगे लेकिन इस पर सवार नहीं हो सकेंगे. सिर्फ सूट-बूट वाले लोग इसमें दाखिल हो सकेंगे. किसान और मजदूर बिना सूट आई टाई के इन ट्रेनों में प्रवेश नहीं कर सकेंगे.’’

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: RAHUL GANDHI
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017