ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने के लिए 100 करोड़ रू. की व्यवस्था

By: | Last Updated: Tuesday, 8 July 2014 9:03 AM

नई दिल्ली: रेल मंत्री सदानंद गौड़ा ने आज संसद में 2014-15 का रेल बजट प्रस्तुत करते हुए उच्च रफ्तार परियोजना के लिए आरवीएनएल/ एचएसआरसी (उच्च रफ्तार रेल गलियारा) हेतु 100 करोड़ रु. की व्यवस्था की. उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी जी की दूरदर्शिता थी जिन्होंने भारत में स्वर्णिम चतुर्भुज रोड नेटवर्क दिया. आज हम नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में देश के प्रमुख महानगरों और विकास केन्द्रों को जोड़ने के लिए उच्च गति वाले रेल के हीरक चतुर्भुज नेटवर्क की महत्वकांक्षी योजना आरंभ कर रहे हैं.

 

रेल मंत्री ने कहा कि प्रत्येक भारतीय की यह इच्छा और सपना है कि भारत में यथाशीघ्र बुलेट ट्रेन चलाई जाए. भारतीय रेल लंबे समय से संजोए हुए इस सपने को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है. हमारा मुंबई-अहमदाबाद खंड पर पहले से ही चिन्हित किए हुए खंड पर बुलेट ट्रेन चलाने का प्रस्ताव है, जिसके लिए कई अध्ययन किए गए हैं.
 

ट्रेनों की गति 160-200 किलोमीटर करने का प्रयास

गौड़ा ने कहा कि यद्यपि बुलेट ट्रेनों के लिए पूरी तरह से नई अवसंरचना की आवश्यकता होगी तथापि वर्तमान नेटवर्क को अपग्रेड करके मौजूदा रेलगाड़ियों की गति बढ़ाई जाएगी. इसलिए, चुनिंदा सेक्टरों में 160-200 कि.मी.प्र.घं. तक रेलगाड़ियों की गति बढ़ाने का प्रयास किया जाएगा ताकि प्रमुख नगरों के बीच यात्रा समय में काफी कमी आ सके. चुने गए क्षेत्र इस प्रकार हैः

 

  1. दिल्ली-आगरा

  2. दिल्ली-चंडीगढ़

  3. दिल्ली-कानपुर

  4. नागपुर-बिलासपुर

  5. मैसूर-बेंगलूरू-चेन्नै

  6. मुंबई-गोवा

  7. मुंबई-अहमदाबाद

  8. चेन्नई-हैदराबाद और

  9. नागपुर-सिकंदराबाद

 

(अपने स्मार्टफोन पर ताज़ातरीन खबरों को पढ़ने और देखने के लिए डाउनलोड करें एबीपी न्यूज़ के ये एंड्रॉयड और आईओएस एप. ये एप पूरी तरह से मुफ्त है.)

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: rail_budget
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: budget 2014
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017