राजे सरकार ने राजीव गांधी सेवा केंद्र का नाम वाजपेयी के नाम पर रखा

By: | Last Updated: Friday, 26 December 2014 2:14 AM

जयपुर: राजस्थान सरकार ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन पर राज्य में 9000 से ज्यादा राजीव गांधी सेवा केंद्रों और जन सुविधा केंद्रों का पुन:नामकरण किया है.

 

राज्य सरकार के इस कदम पर विपक्षी कांग्रेस ने कड़ा एतराज जताया है. कल के एक सरकारी आदेश के मुताबिक, राजस्थान के ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग ने गांवों में 9278 राजीव गांधी सेवा केंद्रों और जन सुविधा केंद्रों का फिर से नामकरण करते हुए वाजपेयी के नाम पर रखा है, जिन्हें इस साल का भारत रत्न नवाजा जाएगा.

 

राजस्थान कांग्रेस ने पंचायत राज अध्यादेश की तीखी आलोचना की

 

इस कदम पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि राज्य की भाजपा सरकार ने ‘संकीर्ण मानसिकता’ के साथ जान बूझकर यह किया है. उन्होंने कहा, ‘‘एक सरकारी आदेश के जरिए राजस्थान ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग ने गांवों में 9278 राजीव गांधी सेवा केंद्रों और जन सुविधा केंद्रों का नाम पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा है.’’

 

उन्होंने सवाल किया, ‘‘राजीव जी भी प्रधानमंत्री थे जिन्होंने देश के लिए अपने जीवन का बलिदान दिया. उन्हें भी भारत रत्न मिला है तब आखिर मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने ऐसा क्यूं किया.’’

 

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार अटलजी के नाम पर नये संस्थानों का नाम रख सकती है और कांग्रेस अटलजी के खिलाफ नहीं है.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Raje govt renames Rajiv Gandhi Seva Kendras after Vajpayee
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017