उधमपुर हमले में शामिल दोनों आतंकवादी पाकिस्तानी थे: राजनाथ

By: | Last Updated: Thursday, 6 August 2015 7:40 AM

नई दिल्ली: आतंकवाद से सख्ती से निपटने की प्रतिबद्धता जताते हुए सरकार ने आज कहा कि कल उधमपुर में बीएसएफ के काफिले पर हमला करने वाले दोनों आतंकवादी पाकिस्तानी थे और पकड़े गये आतंकवादी से पूछताछ में महत्वपूर्ण जानकारियां मिलेंगी.

 

गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस आतंकवादी हमले के बारे में आज राज्यसभा में दिए गए बयान में कहा कि सरकार इसमें शहीद हुए बीएसएफ के दोनों जवानों को वीरता पुरस्कार देने पर विचार करेगी. साथ ही जिन निहत्थे ग्रामीणों ने अदम्य साहस दिखाते हुए एक आतंकवादी को पकड़ने में मदद की, उनको पुरस्कृत करने के लिए राज्य सरकार से अनुरोध किया जाएगा.

 

उन्होंने कहा कि पांच अगस्त को सुबह करीब सात बजे उधमपुर शहर से 18 किमी दूर चिनानी तहसील में नरसू नाला के समीप जम्मू श्रीनगर राजमार्ग पर सीमा सुरक्षा बल के काफिले पर आतंकवादी हमला हुआ. इस हमले में बीएसएफ की 59वीं बटालियन के कॉन्स्टेबल एवं हरियाणा के यमुना नगर निवासी रॉकी तथा दूसरी बटालियन के कॉन्स्टेबल एवं पश्चिम बंगाल के जलपाईगुड़ी निवासी शुभेन्दु राय शहीद हो गए. इस हमले में बीएसएफ के 14 अन्य जवान घायल हुए.

 

सिंह ने कहा कि इस हमले में संलिप्त दो आतंकवादियों मे से एक को मार गिराया गया जबकि दूसरे को स्थानीय निवासियों की मदद से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. सिंह ने कहा कि पकड़े गए आतंकवादी को जम्मू लाया गया है जहां संबंधित अधिकारियों द्वारा उससे पूछताछ जारी है. प्रारंभिक पूछताछ में पकड़े गए आतंकवादी ने अपना नाम मोहम्मद नावेद उर्फ उस्मान, निवासी फैसलाबाद, पाकिस्तान बताया है. उसने अपने मारे गए साथी का नाम मोहम्मद नोमेन उर्फ नोमीन, निवासी बहावलपुर, पाकिस्तान बताया है.

 

गृह मंत्री ने कहा कि इस संबंध में चेनानी पुलिस थाने में शस्त्र कानून, गैरकानूनी गतिविधियां निरोधक कानून तथा अन्य कानूनों के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है और आगे की जांच जारी है. आतंकवादियों के पास से दो एके 47 रायफल, मैगजीन, ग्रेनेड और गोलाबारूद आदि बरामद किए गए हैं.

 

सिंह ने कहा ‘‘हम इस हमले एवं जम्मू कश्मीर में शांतिपूर्ण माहौल को सीमा पार के आतंकवादियों द्वारा लगातार अस्थिर करने की कोशिशों की कड़े शब्दों में निंदा करते हैं.’’ उन्होंने कहा ‘‘संसद की ओर से शहीद हुए बीएसएफ के जवानों के परिवारों के प्रति मैं हृदय से शोक व्यक्त करता हूं एवं निर्थक हिंसा में घायल जवानों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं.’’

 

सिंह ने कहा कि बीएसएफ, जम्मू कश्मीर पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने क्षति को कम करने तथा हमले को विफल करने में अदम्य साहस का परिचय दिया है. उन्होंने कहा कि जवानों के इस साहसी कदम के लिए शहीद हुए जवानों के परिजनों को अनुग्रह राशि एवं नौकरी देने के अतिरिक्त सरकार तत्काल सभी को वीरता पुरस्कार देने के लिए भी विचार करेगी.

 

गृह मंत्री ने कहा ‘‘हम विशेष रूप से उन निहत्थे ग्रामीणों के अदम्य साहस की प्रशंसा करते हैं जिन्होंने अपनी जान को जोखिम में डाल कर पूरी तरह हथियारों से लैस आतंकवादियों को बिना अपनी सुरक्षा की परवाह किए धर दबोचा. इस संबंध में उन ग्रामीणों को उनके इस साहसी कार्य की पहचान एवं पुरस्कृत करने के लिए राज्य सरकार से हम अनुरोध करेंगे.’’

 

उन्होंने कहा ‘‘हमें पूरा विश्वास है कि पकड़े गए आतंकवादी की जांच से उनके काम करने के तरीके, सीमा पार से घुसपैठ और उद्देश्यों के बारे में विस्तृत जानकारी मिलेगी.’’ साथ ही उन्होंने आश्वस्त किया कि ‘‘सरकार पूर्ण संकल्प के साथ अपने देश वासियों एवं सुरक्षा बलों की सुरक्षा के लिए आतंकवाद से सख्ती से निपटने हेतु प्रतिबद्ध है.’’

 

गृह मंत्री के बयान से पहले विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद ने कहा कि उधमपुर में कल जो आतंकवादी हमला हुआ उससे पूरा देश एवं पूरा सदन चिंतित है. उन्होंने कहा कि इस बारे में गृह मंत्री जो बयान देंगे, पूरा विपक्ष उसे शांति से सुनेगा. लेकिन इस बयान के बारे में स्पष्टीकरण बाद में पूछे जाएंगे.

 

राजनाथ ने जब अपना यह बयान दिया तो सभी सदस्यों ने उसे पूरी शांति के सुना.

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: Rajnath Singh_
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
और जाने: parliament rajnath singh Udhampur
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017