दिल्ली में सीएम प्रोजेक्ट करने पर नहीं हुआ है फैसला- राजनाथ सिंह

By: | Last Updated: Sunday, 18 January 2015 6:50 AM
rajnath_sing_on_kiran_bedi

नई दिल्ली: पूर्व आईपीएस अधिकारी किरण बेदी को आगामी समय में बीजेपी द्वारा दिल्ली के मुख्यमंत्री पद के लिए अपना उम्मीदवार बनाए जाने के कयासों के बीच केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज कहा कि बीजेपी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री पद के अपने उम्मीदवार का फैसला अभी नहीं किया है .

 

गुरूवार को बीजेपी में शामिल होने वाली बेदी ने खुद भी एक व्यापक संकेत दिया था कि वह मुख्यमंत्री पद के लिए बीजेपी की उम्मीदवार होंगी.

मोदी सूरज हैं, बीजेपी के वे ही चेहरा हैं: किरन बेदी 

सिंह ने पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘अब तक कोई फैसला नहीं किया गया है. अंतिम फैसला संसदीय बोर्ड करेगा.’’ दो बार बीजेपी अध्यक्ष रह चुके सिंह ने कहा कि पार्टी मुख्यमंत्री पद के लिए अपना उम्मीदवार कभी घोषित करती है और कभी नहीं करती.

 

उन्होंने कहा, ‘‘दिल्ली के संदर्भ में, अंतिम फैसला संसदीय बोर्ड करेगा.’’ 70 सदस्यीय दिल्ली विधानसभा के लिए चुनाव सात फरवरी को होंगे.

 

बीजेपी के 12 सदस्यीय संसदीय बोर्ड में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह, सिंह और वित्त मंत्री अरूण जेटली के अलावा अन्य लोग भी शामिल हैं.

 

किरन बेदी ने ज्वाइन की बीजेपी

गुरूवार को देश की जानी मानी शख्सियत, पूर्व आईपीएस अधिकारी और सामाजिक कार्यकता किरन बेदी बीजेपी में शामिल हुई हैं. बीजेपी सूत्रों के मुताबिक किरन बेदी बीजेपी की तरफ से सीएम पद की उम्मीदवार हो सकती हैं.

 

सूत्रों के मुताबिक किरन बेदी को चुनाव प्रचार की कमान भी दी जा सकती है. ऐसे कयास भी लगाए जा रहे हैं कि किरन बेदी ग्रेटर कैलाश या मालवीय नगर से चुनाव लड़ सकती हैं.

 

कौन हैं किरन बेदी

पंजाब के अमृतसर में जन्मी किरन बेदी को दिल्ली के अखाड़े में उतारकर बीजेपी ने केजरीवाल के सामने नई चुनौती खड़ी कर दी है.  9 जून 1949 को जन्मी किरन बेदी देश की पहली महिला आईपीएस हैं. 1972 में उन्होंने पुलिस सेवा ज्वाइन की थी.

 

क्रेन बेदी के नाम से मशहूर रहीं किरन बेदी ने पार्किंग का उल्लंघन करने पर प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की गाड़ी को भी उठवा लिया था और जुर्माना भी लगाया था.

 

साल 1972 से लेकर 2007 तक. पूरे 35 साल तक किरन बेदी पुलिस महकमे में अपनी सेवा देती रहीं. 2007 में किरन बेदी ने रिटायरमेंट ले लिया था. अब किरन ने राजनीति में दूसरी पारी शुरू की हैं.

 

चार साल पहले  2011 में जब दिल्ली के जंतर-मंतर से जनलोकपाल को लेकर आंदोलन खड़ा हुआ था तब अन्ना हज़ारे के मंच पर किरन बेदी नजर आती थीं. उस वक्त अन्ना के एक तरफ अरविंद केजरीवाल नजर आया करते थे और दूसरी तरफ किरन बेदी.

 

हालांकि राजनीति के सवाल पर ही उन्होंने केजरीवाल का साथ छोड़ दिया था. अब बीजेपी में शामिल होकर उन्होंने दिल्ली के तामम सियासी समीकरण उलट पुलट दिये हैं.

संबंधित खबरें-

किरन बेदी बीजेपी में शामिल, लड़ेंगी चुनाव पर नहीं बनाया गया सीएम उम्मीदवार 

किरन बेदी होंगी बीजेपी की सीएम उम्मीदवार?

दिल्ली की लड़ाई: केजरीवाल VS किरन बेदी! 

किरन बेदी ने कुमार विश्वास पर किया हमला, कहा-कवि हैं तो कविता ही करें 

बीजेपी में शामिल होने से पहले किरण बेदी ने मुझसे सलाह-मशविरा नहीं किया: अन्ना 

मोदी के उलट बेदी का बयान, दिल्ली को पूर्ण राज्य का दर्जा नहीं 

बीजेपी में किरण, नाराज नहीं है संघ  

दिल्ली प्लान: सभी 70 सीटों पर प्रचार करेंगी किरन बेदी, कल रोहिणी में रोड शो 

बेदी को बाहरवाली मानता है बीजेपी का एक धड़ा 

India News से जुड़े हर समाचार के लिए हमे फेसबुक, ट्विटर, गूगल प्लस पर फॉलो करें साथ ही हमारा Hindi News App डाउनलोड करें
Web Title: rajnath_sing_on_kiran_bedi
Explore Hindi News from politics, Bollywood, sports, education, trending, crime, business, साथ ही साथ और भी दिलचस्प हिंदी समाचार
First Published:

Get the Latest Coupons and Promo codes for 2017